कॉल ड्राप पर ट्राई का रुख साफ,हर्जाने का नियम होगा लागू

By: | Last Updated: Thursday, 29 October 2015 2:54 PM
call drop issue: tele com have to pay their costumers

नई दिल्ली: दूरसंचार नियामक ट्राई ने कंपनियों के दबाव को खारिज करते हुए कहा है कि काल ड्राप पर ग्राहक को हर्जाना देने का घोषित नियम लागू होगा और उसने मोबाइल सेवा कंपनियों से हर्जाना देने की प्रणाली पहली जनवरी तक तैयार रखने को कहा है.

 

साथ ही उसने दूरसंचार कंपनियों द्वारा उठाये गये मुद्दों पर गौर करने की भी बात कही है.

 

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के चेयरमैन आर एस शर्मा ने आज संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैंने यह बहुत साफ कर दिया है. यह वैध नियमन है. सक्षम प्राधिकार द्वारा न तो इसे पलटा गया है, न ही संशोधित किया गया है या रद्द किया गया है. कंपनियों को इसे क्रियान्वित करने के लिये स्वयं को तैयार करने को लेकर निश्चित रूप से कदम उठाना चाहिए.’’ ट्राई कॉल ड्राप हर्जाना नियमों के क्रियान्वयन तथा सेवा सुधारने के लिये उनके द्वारा उठाये गये कदमों को लेकर दूरसंचार परिचालकों के साथ पहले ही बैठक कर चुका है.

 

दिशानिर्देश के अनुसार दूरसंचार कंपनियों को उनके नेटवर्क में समस्या के कारण प्रत्येक कॉल ड्राप के लिये एक रपये हर्जाना ग्राहकों को देना होगा. यह हर्जाना अधिकतम तीन रपया प्रतिदिन प्रति ग्राहक होगा.

 

दूरसंचार कंपनियों ने इस प्रकार के नियम बनाने को लेकर ट्राई के अधिकार क्षेत्र तथा इसके क्रियान्वयन में तकनीकी व्यवहारिकता को लेकर सवाल उठाये हैं.

 

शर्मा ने कहा, ‘‘ऐसा माहौल बनाया जा रहा है कि प्राधिकरण ने तकनीकी व्यवहार्यता पर विचार किये बिना इस नियम को लागू कर दिया. नियमन जारी करने से पहले प्राधिकरण ने तकनीकी व्यवहार्यता समेत मामले से संबद्ध सभी पहलुओं पर गौर किया.’’

Gadgets News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: call drop issue: tele com have to pay their costumers
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: call drop issue pay Telecom company
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017