इन पांच तरीकों से जानिए कहीं फेसबुक पर आपके साथ धोखा तो नहीं हो रहा

By: | Last Updated: Tuesday, 18 November 2014 4:48 AM
five ways to know fake facebook account

नई दिल्ली: सोशल नेट्वर्किंग का चस्का दिनों दिन बढ़ता जा रहा है. भारत में सबसे ज्यादा लोकप्रिय सोशल नेटवर्किंग फेसबुक हैं. फेसबुक पर फ्रेंडलिस्ट फ्रेंड की संख्या को स्टेटस सिंबल के तौर पर देखा जाता है.

 

इसका मतलब ये कि जिसकी फ्रेंड लिस्ट में जितने ज्यादा लोग उनका ही उस व्यक्ति को उतना ही लोकप्रिय माना जाता है. ऐसे में हर किसी की इच्छा होती है कि उसकी फ्रेंड्स लिस्ट में ज्यादा से ज्यादा फ्रेंड्स हों.

 

इसी चाहत में लोग जाने अनजाने कई ऐसे लोगों को भी अपनी फ्रेंडलिस्ट में शामिल कर लेते हैं जिनकी फेसबुक आईडी फर्जी होती है.

 

देश में लगातार साइबर क्राइम पांव पसार रहा है ऐसे में हमें वर्चुअल वर्ल्ड में दोस्त बनाते समय सावधानी बरतने की जरूरत है. कई बार जिन अंजान लोगों को हम अपनी फ्रेंडलिस्ट में शामिल कर लेते हैं हमारे लिए बड़ी मुसीबत साबित होती हैं.

 

ऐसे सवाल यह भी उठता है कि आखिर यह पता कैसे चलेगा कि कौन सी फेसबुक आईडी फेक है और कौन सी रीयल. अब आपके लिए यह जानना बेहद ही आसान है.

 

1. प्रोफाइल फोटो न बदलना: फेक फेसबुक आई पर प्रोफाइल पिक्चर बहुत लंबे समय तक अपडेट नहीं होता है. कई बार एक ही फोटो एक से ज्यादा अकाउंट पर भी दिख जाती है. ऐसे में तुरंत यह समझ में आ जाता है कि यह फेसबुक प्रोफाइल फर्जी है. कुछ मनचले लड़के किसी लड़की से दोस्ती करने के लिए भी इस तरह की फर्जी फेसबुक आईडी का सहारा लेते हैं और बाद में उसका गलत फायदा उठाता है.

 

2. स्टेटस अपडेट न करना: फेसबुक पर फर्जी फेसबुक आईडी का प्रयोग करने वाले लोग अमूमन ज्यादा स्टेटस अपडेट नहीं करते. ऐसे में जिस अकाउंट से लंबे समय से कोई पोस्ट या अपडेट न हुआ हो उसके फेस होने की आशंका बड़ जाती है.

फेसबुक पर फेक प्रोफाइल को पहचान जाएगा फेकऑफ एप्लिकेशन

 

3. हमेशा चेक करें ‘रीसेंट एक्टीविटी’: फर्जी फेसबुक आईडी वालों की पोल खोलने का सबसे बड़ा जरिया साबित हो सकता है. अगर यूजर आपके फ्रेंड्स को ही एड कर रहा है और नए फ्रेंड्स बना रहा है और उसने किसी फेसबुक पेज या फिर ग्रुप को ज्वॉइन नहीं कर रखा है, तो यह साफ हो जाता है कि वह केवल फ्रेंड्स की संख्या बढ़ाने में लगा है और फेक आईडी से काम कर रहा है.

 

4. चेक करें फ्रेंडलिस्ट: इन फर्जी आईडी की पहचान करने के लिए आपको इनकी फ्रेंड लिस्ट भी यूज़ करनी चाहिए. अगर किसी की लिस्ट में अपोजिट सेक्स के लोग ज्यादा हैं तो वह फेसबुक अकाउंट फर्जी हो सकता है.

 

5. ‘अबाउट’ में भी झांकें: प्रोफाइल फोटो, स्टेटस अपडेट, रीसेंट एक्टीविटी, और फ्रेंडलिस्ट कसौटी पर परखने बाद भी अगर आपको कोई आईडी फेक लगती है तो उसके ‘अबाउट’ में जरूर पेज की जांच पड़ताल जरूर करें.

 

अगर यूजर ने अपनी स्कूल, कॉलेज, काम की जगह, रहने का स्थान जैसी जानकारियां नहीं दे रखीं हैं और डेटिंग ऑप्शन को ऑन किया हुआ है तो यह समझने में देर नहीं लगनी चाहिए कि जिसे आप अपना वर्चुअल फ्रेंड मान अपनी जानकारी बांट रहे हैं असल में एक फ्रजी अकाउंट है.

Gadgets News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: five ways to know fake facebook account
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017