सरकार ने गूगल से लून प्रोजेक्ट के लिए सहयोगी चुनने को कहा

By: | Last Updated: Sunday, 28 February 2016 8:03 PM
google project loon

नई दिल्ली: सरकार ने गूगल से देश में बैलून आधारित इंटरनेट प्रौद्योगिकी लून परियोजना के परीक्षण के लिये सहयोगी के रूप में दूरसंचार कंपनी का चयन करने को कहा है.

एक आधिकारिक सू़त्र ने से कहा, ‘‘गूगल महंगे एवं दुलर्भ स्पेक्ट्रम बैंड में लून परियोजना का परीक्षण करना चाहती है. कंपनी से उसकी जरूरतों को पूरा करने वाली किसी भी दूरसंचार कंपनी को सहयोगी बनाने और उसके बाद लून परीक्षण के लिये सरकार से संपर्क करने को कहा गया है.’’ अधिकारी ने कहा कि अगर गूगल बीएसएनएल के साथ परीक्षण करना चाहती है, वह सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी के पास उपलब्ध स्पेक्ट्रम में परीक्षण कर सकती है.

उसने कहा, ‘‘इससे गूगल द्वारा मांग की जा रही स्पेक्ट्रम बैंक के साथ कुछ हद तक सुरक्षा का मुद्दा भी सुलझ जाना चाहिए.’’ इस बारे में गूगल को ई-मेल भेजकर सवाल पूछे गये, लेकिन उसका कोई जवाब नहीं आया.

गूगल ने लून परियोजना स्थापित करने के लिये सरकार से संपर्क साधा है. इस परियोजना में मोबाइल टावर की जगह लेने की क्षमता है क्योंकि यह 4जी मोबाइल फोन पर सीधे सिग्नल प्रेषित कर सकता है.

दूरसंचार मंत्रालय ने आईटी सचिव की अध्यक्षता में एक समिति गठित की है और बीएसएनएल से परीक्षण के लिये जरूरी समर्थन उपलब्ध कराने को कहा है. इस संदर्भ में अक्तूबर-नवंबर में बैठक हुई थी. गूगल ने परीक्षण के लिये बीएसएनएल के पास उपलब्ध 2500 मेगाहट्र्ज के बजाए 700 या 800 मेगाहट्र्ज बैंड की मांग की थी, जिससे परियोजना अटक गयी.

दूरसंचार सेवा के लिये 700 मेगाहट्र्ज बैंक सबसे मंहगा है और कुशल स्पेक्ट्रम है और इसे अभी किसी सेवा प्रदाता को दिया जाना बाकी है.

Gadgets News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: google project loon
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017