अमित सिंघल तुझे सलाम- जहां पहुंचना सपना होता है, समाजसेवा की खातिर तुमने ठुकरा दिया

Google Search chief Amit Singhal is retiring

नई दिल्ली: अमित सिंघल, सुनने में आपके लिए यह महज एक नाम की तरह हो सकता है लेकिन इस नाम की अहमियत जान आप इन्हें शुक्रिया कहे बिना नहीं रह पाएंगे. यह नाम नाम है गूगल के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट का. उत्तर प्रदेश के झांसी की गलियों निकल कर अमित ने गूगल के सबसे बड़े दफ्तर में 15 साल बिताए.

amit 1

अपनी जिंदगी के 15 साल गूगल को देने के बाद अमित सिंघल 26 फरवरी को गूगल को अलविदा कहेंगे. अमित सिंघल की जगह जॉन जियानांद्रिया लेंगे. जॉन इस समय गूगल की मूल कंपनी अल्फाबेट में आर्टिफिशिल इंटेलिजेंस पर काम कर रहे हैं.

सिंघल ने गूगल को छोड़ने की घोषणा सोशल नेटवर्किंग साइट गूगल प्लस के जरिए की. उन्होंने अपने दोस्तों के नाम एक भावुक पोस्ट लिखी. इस पोस्ट में अमित सिंघल ने लिखा, ”मुझे अगले 15 साल में क्या करना है, अब यह तय करना जरूरी हो गया है. 26 फरवरी, 2016 को गूगल में मेरा आखिरी दिन होगा.”

पनी पोस्ट ‘द जर्नी कंटीन्यूज’ में अमित सिंघल ने लिखा…

”डियर फ्रेंड्स!

मेरी जिंदगी सपनों के सफर की तरह रही है. एक छोटा बच्चा जो कभी हिमालय की गोद में बड़े होते हुए स्टार ट्रेक कम्प्यूटर के सपने देखा करता था. एक दिन अचानक अमेरिका पहुंच जाता है. वह भी दो सूटकेस के साथ और ज्यादा कुछ नहीं. बाद में उसे गूगल में सर्च के प्रमुख जैसी अहम जिम्मेदारी सौंप दी जाती है. मेरी जिंदगी में आए हर मोड़ ने मुझे एनरिच किया और मुझे एक बेहतर इंसान बनाया है.

गूगल में 15वां साल शुरू होने पर मैंने खुद से एक सवाल पूछा था कि तुम अगले 15 साल में क्या करना चाहोगे? जवाब था, दूसरों के लिए काम. जिंदगी में बदलाव का यह सही वक्त है. गूगल सर्च पहले से कहीं ज्यादा मजबूत है. कंपनी की टॉप लीडरशिप इसे हर रोज बेहतर बनाने में जुटी है. गूगल सर्च ने लोगों की जिंदगियां बदली हैं. आज एक अरब से ज्यादा लोग हम पर भरोसा करते हैं. जानकारी से लोगों को मजबूत बनाना हमारा मिशन रहा है.

इसके असर को दुनियाभर में अनदेखा नहीं किया जा सकता. मैंने जब शुरुआत की थी, तब किसने कल्पना की होगी कि 15 साल के छोटे समय में हम सिर्फ एक बटन क्लिक कर पूछेंगे और जवाब आपके सामने होगा. लेकिन आज यह नॉर्मल बात हो गई है. मेरा स्टार ट्रेक कम्प्यूटर का सपना आज हकीकत बन गया है और यह मेरी इमेजिनेशन से कहीं ज्यादा बेहतर है.

मैं गूगल से प्यार करता हूं. यह एक ऐसी कंपनी है जो सही चीजें करने में भरोसा करती है. ऐसी कंपनी जो दुनिया की बेहतरी के लिए काम करने में यकीन करती है. ऐसी कंपनी जो आपकी फिक्र करती है. मैं शुक्रगुजार हूं कि मैं इसका एक हिस्सा बना. लेकिन मुझे अगले 15 साल में क्या करना है, अब यह तय करना जरूरी हो गया है. 26 फरवरी, 2016 को गूगल में मेरा आखिरी दिन होगा.
विद लव…
अमित ”

उत्तर प्रदेश के झांसी से गूगल तक का सफर
उत्तर प्रदेश के झांसी में जन्मे 47 वर्षीय अमित सिंघल ने वर्ष 1989 में आईआईटी रुड़की से कंप्यूटर साइंस की डिग्री हासिल की. इसके बाद उन्होंने मिनेसोटा यूनिवर्सिटी से एमएस की पढ़ाई की और कॉर्नेल यूनिवर्सिटी से पीएचडी की.

amit 3

वर्ष 2000 में अमित गूगल से जुड़े. उस वक्त लैरी पेज और सर्जेइ ब्रिन को गूगल की शुरुआत किए मात्र 2 साल हुए थे. गूगल से पहले अमित एटीएंडटी लैब में तकनीकी स्टाफ में थे. सिंघल को उनके बेहतरीन का के लिए नेशनल एकेडमी ऑफ इंजीनियरिंग और एशियन अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है.

गूगल में शून्य से शिखर तक की दास्तां
गूगल की शुरुआत के महज दो साल बाद 176वें कर्मचारी के रूप में अमित सिंघल कंपनी से जुड़े. यहीं से शुरू कहानी शून्य से शिखर तक के लंबे सफर की. अमित सिंहल को गूगल सर्च इंजन का पुरोधा कहा जाता है. जिस वक्त अमित सिंघल ने गूगल का हाथ थामा था उस वक्त गूगल बाकी सर्च इंजन्स की तरह था लेकिन अमित ने इसकी एलगोरिदम में कई अहम बदलाव किए. इसके बाद का जो हुआ वो किसी से छुपा नहीं है.

amit 2

अमित सिंघल ने क्वालिटी रिजल्ट देने और स्पेल चेक जैसे फीचर्स लाकर गूगल का यूजर बेस बढ़ाया. अमित सिंघल की लीडरशिप में काम करने वाली इंजीनियरिंग टीम ने एडवर्टाइजिंग के लिए भी सर्च से जुड़े टूल्स डेवलप किए. इससे गूगल सर्च तेजी से प्रॉफिटेबल बिजनेस में तब्दील हो गया.

अब क्या करेंगे अमित सिंघल
अमित सिंघल ने अपने रिटायरमेंट के बाद परोपकारी काम करने का निर्णय लिया है. अमित ने अपने पोस्ट में भी इसके संकेत दिए. अमित ने लिखा, ‘’गूगल में 15वां साल शुरू होने पर मैंने खुद से एक सवाल पूछा था कि तुम अगले 15 साल में क्या करना चाहोगे? जवाब था, दूसरों के लिए काम. जिंदगी में बदलाव का यह सही वक्त है.’’

Gadgets News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Google Search chief Amit Singhal is retiring
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

Jio Effect : एयरटेल ने पेश किया धमाकेदार ऑफर, 399 रुपये में 84GB डेटा और अनलिमिटेड कॉलिंग
Jio Effect : एयरटेल ने पेश किया धमाकेदार ऑफर, 399 रुपये में 84GB डेटा और अनलिमिटेड कॉलिंग

नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी एयरटेल ने जियो की चुनौती से निपटने के लिए धमाकेदार...

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी नियमों में बदलाव कर सकता है ट्राई
मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी नियमों में बदलाव कर सकता है ट्राई

नई दिल्लीः भारतीय टेलीकॉम रेगूलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी...

Carl Zeiss लेंस के डुअल कैमरा के साथ लॉन्च हुआ मोस्ट अवेटेड Nokia 8
Carl Zeiss लेंस के डुअल कैमरा के साथ लॉन्च हुआ मोस्ट अवेटेड Nokia 8

नई दिल्लीः HMD ग्लोबल ने बीती रात में लंदन के एक इवेंट में मोस्ट अवेटेड नोकिया 8 फ्लैगशिप...

स्वाइप ने लॉन्च बेहद सस्ता Elite 4G स्मार्टफोन , कीमत 3,999 रु.
स्वाइप ने लॉन्च बेहद सस्ता Elite 4G स्मार्टफोन , कीमत 3,999 रु.

पुणेः स्वाइप टेक्नॉलजीज ने बुधवार को किफायती 4G स्मार्टफोन ‘Elite 4G’ 3,999 रुपये में लॉन्च किया, जो...

 भारतीय स्मार्टफोन बाजार में तीसरी तिमाही में आएगी तेजी: आईडीसी
भारतीय स्मार्टफोन बाजार में तीसरी तिमाही में आएगी तेजी: आईडीसी

नई दिल्लीः साल की पहली और दूसरी तिमाही में वृद्धि दर में गिरावट के बाद भारतीय स्मार्टफोन बाजार...

कितने सुरक्षित है स्मार्टफोन हैंडसेट, बताएं मोबाइल हैंडसेट मुहैया कराने वाली कंपनियां
कितने सुरक्षित है स्मार्टफोन हैंडसेट, बताएं मोबाइल हैंडसेट मुहैया कराने...

नई दिल्लीः चीन से तकनीकी खतरे की आशंका के मद्देनजर सरकार ने भारतीय बाजारो में स्मार्टफोन...

स्मार्टफोन कंपनियों को सरकार का नोटिस, पूछा- क्या हैं डेटा की सुरक्षा के इंतजाम
स्मार्टफोन कंपनियों को सरकार का नोटिस, पूछा- क्या हैं डेटा की सुरक्षा के...

नई दिल्लीः देश के मोबाइल फोन यूजर्स की सिक्योरिटी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने कड़ा कदम उठाया...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017