फ्रीडम-251 के लिए टेलीकॉम मंत्रालय ने बनाई टीम

By: | Last Updated: Tuesday, 23 February 2016 8:24 PM
telecom ministry formed team to monitor freedom 251

नई दिल्लीः दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्टफोन फ्रीडम-251 को लेकर सरकार सतर्क हो गई है. टेलीकॉम मंत्रालय ने संयुक्त सचिव की अध्यक्षता में चार सदस्यों की कमेटी बना दी है जो इस बात पर नजर रखेगी कि कंपनी अपना वादा कैसे पूरा कर करेगी.

टेलीकॉम मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एबीपी न्यूज से कहा कि ”किसी भी हालत में रिंगिंग बेल्स को पैसा लेकर नहीं भागने दिया जाएगा. मंत्रालय सुनिश्चित करेगा कि ग्राहकों का अहित न हो. मंत्रालय ने ज्वाइंट सेक्रेटरी की अध्यक्षता में 4 सदस्यों की कमेटी का गठन कर दिया है जो इस बात पर नजर रखेंगे कि कंपनी जो वादा कर रही है वो पूरा करे. कंपनी का पैसा एस्क्रो एकाउंट में रखा जाएगा यानी जब कंपनी स्मार्टफोन की डिलीवरी कर देगी तभी पैसा दिया जाएगा.”

आपको बता दें कि सबसे सस्ता स्मार्टफोन फ्रीडम 251 बनाने का दावा करने वाली कंपनी रिंगिंग बेल ने दावा किया है कि उसकी वेबसाइट पर फ्रीडम 251 के लिए अब तक 7 करोड़ लोगों ने रजिस्ट्रेशन किया है. पहले चरण की बुकिंग खत्म कर दी गई है. रिंगिंग बेल कंपनी नई है और पांच महीने पहले ही शुरू हुई है. कंपनी की वेबसाइट सिर्फ 4-5 पन्नों की है. फ्रीडमडॉटकॉम वेबसाइट का ये एड्रेस इसी महीने खरीदा गया है. साथ ही ट्विटर पर इन फोन की एक तस्वीर वायरल हो गई है. जिसमें बताया गया है कि ये मेक-इन इंडिया नहीं है बल्कि चाइनीज कंपनी Adcom नए इस फोन को बनाया है. जिन लोगों ने भी इस फोन को देखा है वह यहीं मानते हैं कि ये Adcom के हाल ही में लॉन्च हुए स्मार्टफोन जैसा है. जिसकी कीमत 4,081 रुपये है.
ऐसे ही कई सवाल हैं जो इस फोन को लेकर उठ रहे हैं ऐसे में बीजेपी सांसट कीरीट सोमैया ने किसी बड़े घोटाले का अंदेशा जताया था. टेलीकॉम मंत्रालय के इस कदम से इस फोन की बुकिंग कर चुके लोगों के बड़ी राहत मिलेगी.

Gadgets News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: telecom ministry formed team to monitor freedom 251
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017