दिल का दौरा मापने के लिए बीएमआई जरूरी

By: एजेंसी | Last Updated: Saturday, 18 March 2017 10:18 AM
दिल का दौरा मापने के लिए बीएमआई जरूरी

नई दिल्ली: कुछ खास खतरे किसी इंसान में दिल के दौरे का कारण बनते हैं. इनमें से कुछ खतरे हमारे काबू से बाहर हैं और वे रोके नहीं जा सकते. लेकिन कुछ ऐसी चीजें हैं, जिन्हें रोका जा सकता है. इनमें से एक है बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) जो भविष्य में दिल का दौरा पड़ने में अहम भूमिका निभाता है. बीएमआई मोटापे के स्तर की जांच के लिए सबसे व्यावहारिक तरीका है. इसे कद और वजन से इस प्रकार मापा जाता है.

आईएमए के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद्मश्री डॉ के.के. अग्रवाल कहते हैं कि दिल के रोग पैदा होने के पीछे खानपान अहम भूमिका निभाता है. वजन ज्यादा होने पर हाईपरटेंशन, डायबिटीज और एथेरोसिलेरोसिस होने की संभावना रहती है. इससे दिल के दौरे सहित अनेक दिल के रोगों का खतरा बढ़ जाता है. दिल के दौरे के खतरे को समझने के लिए अपने बीएमआई के बारे में जागरूक रहना चाहिए.

उन्होंने बताया कि दिल के रोगों का पता लगाने के लिए आपके बीएमआई और कमर के घेरे को लिया जाता है. दोनों मिलकर दिल के दौरे के खतरे के स्तर को मापने में मदद कर सकते हैं. इससे आप बचाव के कदम और जीवनशैली में बदलाव जितनी जल्दी हो सके कर पाएंगे.

डॉ. अग्रवाल के मुताबिक, अगर आपकी उम्र 40 साल से कम हैं तो पुरुष जिनके परिवार में पहले से डायबिटीज, ब्लड प्रेशर या दिल के रोग रहे हैं, जिनका बीएमआई के अनुसार वजन सामान्य है लेकिन पेट निकला हुआ है या 18 की उम्र के बाद वजन 10 किलो ज्यादा बढ़ा है तो उन्हें इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए और दिल के दौरे के खतरे को कम करने के लिए तुरंत दिल के माहिर के पास जाना चाहिए.

कुछ अहम बातें :

  • जिन लोगों का बीएमआई 23 से 30 के बीच है, उन्हें कम खतरा है लेकिन जिनका 30 से 35 के मध्य है उन्हें मध्यम खतरा होगा.
  • जिनका बीएमआई 35 से 40 के मध्य है, उन्हें अधिक खतरा होगा और जिनका 40 से भी ऊपर है उन्हें अपने मोटापे से अत्यधिक खतरा है.
  • बीएमआई के किसी भी स्तर पर पेट का मोटापा बढ़ने से हाईपरलिपिडेमिया, हाइपरटेंशन, 40 साल से कम उम्र, पुरुष और परिवार में पहले से डायबिटीज, हाइपरटेंशन या दिल के रोग होने से सेहत को खतरे बढ़ जाते हैं.
Tags: heart attack,
First Published: Saturday, 18 March 2017 7:37 AM

Related Stories

मां की झप्पी बच्चों को बना सकती है सेहतमंद
मां की झप्पी बच्चों को बना सकती है सेहतमंद

नई दिल्लीः मीरा राजपूत मां बनने के बाद अपनी बेटी के साथ ही सारा समय बिता रही हैं, वहीं करीना कपूर...

डिप्रेशन से बचना है तो खेलें वीडियोगेम!
डिप्रेशन से बचना है तो खेलें वीडियोगेम!

न्यूयॉर्कः शोधकर्ताओं ने पाया है कि डिप्रेशन के इलाज में वीडियो गेम खेलना काफी मददगार साबित...

क्या सचमुच फ्रूट्स खाने से ब्रेन हो जाता है बड़ा?
क्या सचमुच फ्रूट्स खाने से ब्रेन हो जाता है बड़ा?

न्यूयार्कः बंदर से मानव जाति के पूर्वज नरवानर प्रजाति (प्राइमेट्स) जंगलों में रहते थे और भोजन...

सावधान! पेट संबंधी दवाओं से जीवाणु इंफेक्शन बढ़ने का खतरा
सावधान! पेट संबंधी दवाओं से जीवाणु इंफेक्शन बढ़ने का खतरा

न्यूयॉर्कः पेट संबंधी दवाओं (गैस्ट्रिक मेडिसिन) का इस्तेमाल करने वालों में बैक्टीपरियल...

Sponsored: किडनी की देखभाल के लिए नीरि केयर डॉक्टर्स की सबसे भरोसेमंद आयुर्वेदिक दवा
Sponsored: किडनी की देखभाल के लिए नीरि केयर डॉक्टर्स की सबसे भरोसेमंद आयुर्वेदिक...

नई दिल्लीः भारतीय फार्मा कंपनी एमिल फार्मास्यूटिकल्स अपने आयुर्वेदिक उत्पादों के लिए जानी...

OMG! आपके बाथरूम से भी ज्यादा गंदी होती है शॉपिंग बास्केट
OMG! आपके बाथरूम से भी ज्यादा गंदी होती है शॉपिंग बास्केट

नई दिल्लीः आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन अक्‍सर लोग सुपरमार्केट से शॉपिंग करने के दौरान जर्म्स...

स्टेमिना बढ़ाने के लिए नवरात्रों में खाएं ये फूड
स्टेमिना बढ़ाने के लिए नवरात्रों में खाएं ये फूड

नई दिल्ली: नौ दिन चलने वाले नवरात्रि‍ उपवास में स्टेमिना की भी उतनी ही जरूरत होती हैं. जानिए,...

साइनस के इलाज के लिए ये टिप्स अपनाएं आपने!
साइनस के इलाज के लिए ये टिप्स अपनाएं आपने!

नई दिल्लीः साइनस आज एक आम समस्या हो गई है. इसका सबसे बड़ा नुकसान है कि इसके होने से सिर बहुत दर्द...

इन आदतों को अपनाएंगे तो इम्यूनिटी हमेशा रहेगी स्ट्रांग!
इन आदतों को अपनाएंगे तो इम्यूनिटी हमेशा रहेगी स्ट्रांग!

नई दिल्लीःअगर आपका इम्यून सिस्टम स्ट्रांग होगा तो आप कई बीमारियों से बच सकते हैं. लेकिन इम्यून...

हल्दी का सेवन करेंगे तो इन बड़ी बीमारियों से आसानी से बचेंगे!
हल्दी का सेवन करेंगे तो इन बड़ी बीमारियों से आसानी से बचेंगे!

नई दिल्लीः यूं तो रसोईघर में हल्दी मौजूद होती है लेकिन साउथ इंडिया में हल्दी बहुत पॉपुलर है. कई...