अब मछली की आंख से होगा ब्लाइंडनेस का इलाज!

By: एजेंसी | Last Updated: Tuesday, 14 March 2017 9:58 AM
अब मछली की आंख से होगा ब्लाइंडनेस का इलाज!

न्यूयॉर्क: वैज्ञानिकों ने जेब्रा मछली के मस्तिष्क में मौजूद एक रसायन की खोज की है, जिससे यह जानने में मदद मिलेगी कि मछली की आंखों में रेटीना किस तरह विकसित होती है. इस शोध से इंसान के अंधेपन के इलाज में मदद मिलने की संभावना है. निष्कर्षो से पता चलता है कि जीएबीए (गामा एमीनोब्यूट्रिक एसिड) एक न्यूरोट्रांसमीटर है, जिसका उपयोग तंत्रिका गतिविधियों को शमित करने के लिए जाता है.

रसायन (जीएबीए) को रोककर एएमडी (एज रिलेटेड मैकुलर डिजेनेरेशन) का नया उपचार किया जा सकेगा. यह अंधेपन और रेटिनिटिस पिगमेंटोसा का सबसे सामान्य कारक है.

शोधकर्ताओं ने कहा कि मछलियों और स्तनधारियों के रेटीना (आंख के पीछे स्थित प्रकाश संवेदन ऊतक) की संरचना मूल रूप से समान होती है. इस तरह जीएबीए में कमी से रेटीना के फिर से बनने की शुरुआत हो सकती है.

अमेरिका के टेनेसी में वेंडरबिल्ट विश्वविद्यालय में प्रोफेसर जेम्स पैटन ने कहा, “हमारा मानना है कि जीएबीए की मात्रा में कमी से रेटीना फिर से बनने लगती है.”

पैटन ने कहा, “यदि हम सही हैं तो जीएबीए अवरोधक के इलाज से मानव रेटीना में सुधार की पूरी गुंजाइश है.”

शोध में वैज्ञानिकों ने एक अंधी मछली में दवा का इजेक्शन दिया तो पाया कि रेटीना में जीएबीए की सांद्रता उच्च स्तर पर पहुंच गई, जिससे रेटीना के फिर से बनने की प्रक्रिया दब गई.

First Published: Tuesday, 14 March 2017 8:49 AM

Related Stories

इस वजह से बच्‍चों को ज्‍यादा से ज्‍यादा लगाएं गले!
इस वजह से बच्‍चों को ज्‍यादा से ज्‍यादा लगाएं गले!

नयी दिल्ली: एक सर्वेक्षण में सामने आया है कि मां जब अपने कलेजे के टुकड़े को सीने से लगाती है तो...

... तो इस वजह से पुरुषों को दोबारा भी हो सकता है किडनी स्टोन!
... तो इस वजह से पुरुषों को दोबारा भी हो सकता है किडनी स्टोन!

नई दिल्ली: पूरे जीवन में गुर्दे में पथरी होने की आशंका पुरुषों में 13 प्रतिशत और महिलाओं में...

ALERT: सरकारी आंकड़ों के मुताबिक साल दर साल बढ़ रहा है डेंगू-चिकनगुनिया का खतरा
ALERT: सरकारी आंकड़ों के मुताबिक साल दर साल बढ़ रहा है डेंगू-चिकनगुनिया का खतरा

नई दिल्ली: केंद्र और राज्य सरकार के स्तर से मच्छरों की वजह से होने वाले बुखार को रोकने के लिए की...

अदरक खाने के ये फायदे अब तक नहीं सुने आपने!
अदरक खाने के ये फायदे अब तक नहीं सुने आपने!

नई दिल्लीः यूं तो हम लोग अक्सर अदरक वाली चाय पीना पसंद करते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कच्ची...

वजन कम करने के लिए खाएं फ्लैक्स सीड्स!
वजन कम करने के लिए खाएं फ्लैक्स सीड्स!

नई दिल्लीः अक्सर लोग फ्लैक्स सीड्स को कॉलेस्ट्रॉल कम करने के लिए खाते हैं. लेकिन क्या आप जानते...

क्या ऑफिस में वजन बढ़ने से हैं आप भी हैं परेशान!
क्या ऑफिस में वजन बढ़ने से हैं आप भी हैं परेशान!

नई दिल्लीः अक्सर लोगों को आपने कहते हुए सुना होगा कि दिनभर ऑफिस में बैठना पड़ता है इसलिए वजन...

गर्मी में ये टिप्स रखेंगे आपको चुस्त–दुरुस्त!
गर्मी में ये टिप्स रखेंगे आपको चुस्त–दुरुस्त!

नई दिल्लीः गर्मियां आते ही शुरू हो जाती हैं बीमारियां. लेकिन आप इन गर्मियों में आयुर्वेदिक...

टीबी के मरीजों के लिए है ये खबर!
टीबी के मरीजों के लिए है ये खबर!

नई दिल्लीः शहर में टीबी के मामलों में ज्यादा लोगों के संक्रमित होने का खतरा होता है, वहीं...

यंग मदर्स के बहुत काम आएंगे ये टिप्स!
यंग मदर्स के बहुत काम आएंगे ये टिप्स!

नई दिल्ली: हाल ही में मातृत्व पर किए गए एक बयान से विवादों में घिरी अभिनेता शाहिद कपूर की पत्नी...

 ... तो ये कारण है ब्रेस्ट कैंसर, सर्वाइकल और वैजाइनल कैंसर का!
... तो ये कारण है ब्रेस्ट कैंसर, सर्वाइकल और वैजाइनल कैंसर का!

नई दिल्लीः सोशल मीडिया के जहां बहुत से फायदे हैं वहीं नुकसान भी हैं. सोशल मीडिया पर लोग कई बार...