रोजाना व्यायाम करने से दिल का दौरा पड़ने पर नहीं पड़ेगा कोई फर्क

By: | Last Updated: Wednesday, 3 February 2016 3:19 PM
How much exercise does your heart really need?

नियमित व्यायाम करने और सक्रिय रहने वाले लोगों में पहला हृदयाघात (दिल का दौरा) झेलने की क्षमता होती है. इनकी तुलना में सुस्त जीवनशैली वाले लोगों की मौत पहले हृदयाघात में ही हो जाने की आशंका रहती है. एक नए शोध में यह बात उजागर हुई है. अमेरिका के डेट्राइट स्थित ‘हेनरी फोर्ड हेल्थ सिस्टम’ से इस अध्ययन के शोधार्थी क्लिंटन ब्रॉनर ने बताया, “उच्च स्वास्थ्य और सक्रिय रहने वाले लोग पहले हृदयाघात को आसानी से झेल सकते हैं.”

शोधार्थियों ने बताया कि अध्ययन के दौरान चिकित्सकों के पास आने वाले लोगों को जोखिम कारकों से बचने के लिए व्यायाम करने की सलाह दी गई थी.

निष्कर्षो के आधार पर सामने आया कि जो रोगी अधिक सक्रिय रहते थे, उन्हें जब पहला हृदयाघात हुआ तो उस पूरे साल उन्हें हृदयाघात से होने वाली मौत का खतरा कम रहा.

यह शोध ऑनलाइन पत्रिका ‘मायो क्लीनिक प्रोसीडिंग्स’ में प्रकाशित हुआ है.

Health News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: How much exercise does your heart really need?
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017