बात-बात पर पेनकिलर्स खाने की लत, कहीं जहर ना बन जाएं

By: | Last Updated: Saturday, 19 March 2016 10:51 AM
How Painkiller Addiction Can Lead to Death

दर्द से राहत पाने के लिए ली जाने वाली नॉन स्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी दवाओं (एनएसएआईड) का सेवन अल्सर, उच्च रक्तचाप और हृदय रोग की समस्याएं पैदा कर सकता है. एक नए शोध में इस बात का खुलासा हुआ है. डेनमार्क की आरहस यूनिवर्सिटी में इस अध्ययन के प्रमुख मोर्टेन स्किमिड्ट ने बताया, “यह सर्वविदित है कि नए प्रकार का एनएसएआईडी जिसे ‘सीओएक्स-2’ भी कहा जाता है, हृदयाघात के जोखिम को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार है. इसके अलावा, हमने देखा है कि एनएसएआईडी के पुराने प्रकार खासकर डिक्लोफेनेक भी हृदय रोग से संबंधित है, इस कारण से इसकी बिक्री बंद कर दी गई. ”

यह शोध 14 यूरोपीय विश्वविद्यालयों और अस्पतालों द्वारा किया गया था, जिसमें हृदय रोगियों में एनएसएआईडी के उपयोग से संबंधित सभी अध्ययनों का आकलन किया गया.

शोधार्थियों का कहना है कि गठिया के लिए उपयोग होने वाली दवा हृदय रोगियों के लिए काफी हानिकारक है और गठिया के दर्द को दूर करने वाली ऐसी कई दवाएं हैं, जो हृदय रोग से संबंधित हैं. जिनकी जानकारी पहले कभी नहीं मिली है.

अध्ययन में यह भी बताया गया है कि एनएसएआईडी एंटीबायोटिक नहीं होती हैं और जीवाणु से होने वाले संक्रमण में मदद भी नहीं करती हैं.

यह शोध पत्रिका ‘यूरोपियन हार्ट’ में प्रकाशित हुआ है.

Health News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: How Painkiller Addiction Can Lead to Death
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Painkiller Addiction Painkiller harm
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017