अल्जाइमर से बचने के लिए अपनाएं ये उपाय

By: | Last Updated: Monday, 21 September 2015 4:54 AM

 

नई दिल्ली : अल्जाइमर रोग ऐसी बीमारी हैं जिसमें इंसान को ‘भूलने का रोग’ हो जाता है। अल्जाइमर होने पर व्यक्ति की याददाश्त कम होने लगती हैं. वो सही समय पर ठीक से कोई निर्णय नहीं ले पाता. अल्जाइमर रोग से पीड़ित व्यक्ति को ना सिर्फ बोलने में दिक्कतें आती हैं बल्कि चीजें समझने में भी दिक्क्तें होने लगती हैं.

 

 

अल्जाइमर रोग होने के कई कारण हो सकते हैं लेकिन हाई ब्लड प्रेशर होना, डायबिटीज होना और लाइफस्टाइल खराब होना भी इसकी एक बड़ी वजह है. किसी दुर्घटना के दौरान सिर में चोट लगने से भी भूलने का रोग हो जाता है.

 

 

विकिपीड़िया के मुताबिक, 50-60 की उम्र में होने वाली इस बीमारी का पुख्ता इलाज मौजूद नहीं है. बेशक इस बीमारी को शुरूआत में पहचान लिया जाए तो इलाज संभव है. आमतौर पर जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है व्यक्ति की याददाश्त कमजोर होने लगती हैं. लेकिन हर चीज भूलना, यहां तक की अपना नाम, घर का पता या फिर अपने करीबी लोगों को भूल जाना गंभीर समस्या बन सकती हैं.

 

 

यदि जरूरत से ज्यादा चीजें भूलने लगते हैं तो इसका अर्थ है आपके मस्तिष्क की कोशिकाएं मर रही हैं. अल्जाइमर रोग होने पर सबसे पहले दिमाग की कोशिकाएं नष्ट होने लगती हैं जिससे समय के साथ इंसान की याददाश्त बिल्कुल चली जाती हैं. अल्जाइमर रोग एक बार होने पर ये लगातार बढ़ता रहता है और गंभीर दिमागी रोग बन जाता है. 

 

कैसे पहचानें इसे –

  • भूलने की बीमारी होने पर पीड़ित व्यक्ति को कोई भी गेम खेलने, खाना पकाने में कठिनाई होने लगते हैं.

  • अल्जाइमर रोग से पीड़ित व्यक्ति को बोलने में दिक्कतें आने लगती हैं. यहां तक की साधारण वाक्य या शब्द तक नहीं बोल पाता. ना सिर्फ बोलने में फर्क आता है बल्कि उसकी लेखनशैली बदल जाती है उसकी लिखावट को पहचान पाना मुश्किल होता है.

  • अपना घर का पता भूलना, अपने आसपास के माहौल तक को व्यक्ति भूल जाता है.

  • कोई भी निर्णय लेने में उसे काफी दिक्कतें आती हैं.

  • हिसाब-किताब करने में परेशानी होने लगती हैं और आसान सी चीजें भी कठिन लगने लगती हैं.

  • अपनी चीजों को रखकर भूल जाना भी एक बड़ी समस्या बन जाती हैं.

  • अचानक मूड में बदलाव आ जाना, बिना वजह गुस्सा करना बिना वजह घंटों तक एक ही काम में व्यस्त रहना सभी अल्जाइमर रोग के लक्षण है.

याददाश्त कमजोर होने पर ये खाएं-

  • बादाम और ड्राई फ्रूट तो दिमाग तेज करने और याददाश्त बढ़ाने के लिए रामबाण हैं ही इसके अलावा भी कई और सुपरफूड हैं जो आपकी याददाश्त तेज कर सकते हैं.

  • दिमाग को सक्रिय बनाए रखने के लिए एंटीऑक्सिडेंट्स से भरपूर स्ट्रॉबेरी और ब्लूबेरी खाएं. विटामिन ई से भरपूर स्ट्रॉबेरी और ब्लूबेरी खाने से ना सिर्फ तनाव कम होगा बल्कि मानसिक समस्‍याओं से भी निजात मिलेगी.

  • हरी फूलगोभी यानी ब्रोकली का सेवन करने से दिमाग तेज होता है. दरअसल, ब्रोकली में मैग्नीशियम, कैल्शियम, जिंक और फास्फोरस अच्‍छी मात्रा में पाया जाता है जिससे दिमाग तो तेज होता ही है हड्डियां भी मजबूत होती हैं.

  • एक रिसर्च के मुताबिक, यदि बढ़ती उम्र में लोग अपना काम खुद करते हैं तो उन्हें अल्जाइमर रोग होने का खतरा कम होता है. अपने खुद के काम करने से दिमाग सक्रिय होता है और स्मरणशक्ति तेज रहती है.

  • अल्जाइमर के दौरान दिमाग में बढ़ने वाले जहरीले बीटा-एमिलॉयड नामक प्रोटीन के प्रभाव को ग्रीन टी के सेवन से कम किया जा सकता है.

  • अन्य चीजें- हरी पत्तेदार सब्जियां, बींस, साबुत अनाज, मछली, जैतून का तेल और एक गिलास वाइन अल्जाइमर रोग से लड़ने में मदद करती हैं.

 

अल्जाइमर रोग के दौरान क्या ना खाएं-

अल्जाइमर रोग से बचने के लिए अतिरिक्त कॉपर को डायट में कम कर देना चाहिए. अगर कॉपर डायट में अधिक होगा तो अल्जाइमर रोग का खतरा बढ़ जाता है. ऐसे में कॉपरयुक्त खाद्य पदार्थों का बहुत सेवन ना करें जैसे- तिल, काजू, सूखे टमाटर, कद्दू, तुलसी, मक्खन, चीज़, फ्राइड फूड, जंकफूड, रेड मीट, पेस्ट्रीज और मीठे का सेवन करने से बचें. 

 

याददाश्त बढ़ाने के लिए योग- रोजाना व्यायाम और योग करके अल्जाइमर रोग के प्रभाव को कम किया जा सकता है.

  • मेडिटेशन करने से भूलने की समस्या को कम किया जा सकता है.

  • याददाश्त तेज करने के लिए सर्वांगासन करें.

  • दिमाग तेज करना हो और याददाश्त बनाए रखनी हो तो भुजंगासन करें.

  • एकाग्रता बढ़ाने और दिमाग में रक्त का अच्छी तरह से प्रवाह करने के लिए कपालभाति प्राणायाम करें.

Health News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Memory Loss & Signs of Alzheimer’s
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017