बड़े बर्तनों में खाने से मोटापे का खतरा

By: | Last Updated: Sunday, 20 September 2015 2:50 PM

लंदन / नई दिल्ली : बड़े बर्तन, बड़ी खुराक और बड़े पैकेट के कारण आम तौर पर लोग अपनी जरूरत से अधिक खा लेते हैं. यह बात एक नए अध्ययन में कही गई है. कैंब्रिज विश्वविद्यालय द्वारा कराए गए इस अध्ययन में कहा गया है कि यदि परोसे जाने वाले खाद्य पदार्थो की मात्रा कम रखी जाए, तो एक वयस्क की ऊर्जा खपत 16 फीसदी (करीब 279 किलो कैलोरी रोजाना) से 29 फीसदी (करीब 527 किलोकैलोरी रोजाना) तक घट सकती है.

 

अधिक खाने से हृदय रोग, मधुमेह, कैंसर जैसी बीमारी होने का खतरा बढ़ता है और इसके कारण लोगों का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता है .रिसर्च टीम के सदस्य गैरेथ होलैंड्स ने कहा, “यह स्वाभाविक लगता है कि बड़े बर्तन में अधिक भोजन होगा, तो हम जाने-अनजाने अधिक खा लेंगे, लेकिन इस वैज्ञानिक तरीके से किए गए अध्ययन से पहले किए गए अन्य अध्ययनों के अलग-अलग तरह के निष्कर्ष रहे हैं.”

 

होलैंड्स ने कहा, “अधिक भोजन परोसे जाने से रोकने के लिए यदि भोजन या पेय पदार्थ के बर्तन आकार छोटा रखा जाए, उनकी उपलब्धता कम की जाए या दुकानों/घरों/रेस्तराओं में उसका आकर्षण कम किया जाए, तो कई लोगों को सीमा से अधिक खा लेने से रोका जा सकता है.”

 

अध्ययन का निष्कर्ष शोध पत्रिका ‘कोक्रेन डाटाबेस ऑफ सिस्टमेटिक रिव्यूज’ में प्रकाशित हुआ है.

Health News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: more chance big bartan
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017