सामान्य लोगों के मुकाबले समलैंगिकों को चिंताएं सताती हैं ज्यादा!

By: | Last Updated: Wednesday, 23 March 2016 9:37 AM
New data on lesbian, gay and bisexual mental health

समलैंगिक पुरुष या महिला और उभयलिंगी व्यक्तियों को सामान्य व्यक्तियों की तुलना में अधिक चिंताओं और मनोदशा विकारों का सामना करना पड़ता है. साथ ही यह सामान्य लोगों की तुलना में अधिक शराब का सेवन करते हैं. एक नए शोध में यह पता चला है. कनाडा के स्कूल ऑफ पापुलेशन एंड पब्लिक हेल्थ से इस अध्ययन की मुख्य लेखक बासिया पाकुला ने बताया, “समलैंगिक पुरुष या महिला और उभयलिंगी व्यक्तियों का जब एक ही अध्ययन में एक साथ आकलन किया गया, तो इनके स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण अंतर की जानकारी मिली.”

उन्होंने बताया, “हमारे लिए यह निष्कर्ष महत्वपूर्ण रूप से उपयोगी हैं, क्योंकि कनाडा में अब तक इन सूचनाओं की जानकारी नहीं थी.”

इस अध्ययन के लिए शोधार्थियों ने साल 2007 से 2012 तक कनाडा के दो लाख 20 हजार प्रतिभागियों का आकलन किया था.

अपनी तरह के पहले अध्ययन का दावा करने वाले इस शोध में पाया गया है कि सामान्य व्यक्तियों की तुलना में उभयलिंगी लोगों में मनोदशा और चिंताओं की अधिक शिकायत मिली. समलैंगिक पुरुष और समलैंगिक महिलाएं सामान्य व्यक्तियों की तुलना में चिंताएं और बिगड़ी हुई मनोदशा का दोगुना सामना करते हैं.

यह शोध ‘अमेरिकन जर्नल ऑफ पब्लिक’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ है.

Health News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: New data on lesbian, gay and bisexual mental health
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017