स्वाइन फ्लू से दिल्ली में चार मौतें दर्ज, सरकार के मुताबिक कोई मौत नहीं!

By: | Last Updated: Thursday, 18 May 2017 9:05 AM
स्वाइन फ्लू से दिल्ली में चार मौतें दर्ज, सरकार के मुताबिक कोई मौत नहीं!

नयी दिल्ली: दिल्ली स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि स्वाइन फ्लू से राष्ट्रीय राजधानी में 69 लोग प्रभावित हुए हैं लेकिन इस साल इस रोग से किसी की मौत नहीं होने का दावा किया.

हालांकि, एक प्रमुख निजी अस्पताल सर गंगा राम हॉस्पिटल ने स्वाइन फ्लू से जुड़ी चार मौतें दर्ज की हैं.

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राजधानी में स्वाइन फ्लू से कोई मौत दर्ज नहीं की गई है, हालांकि इसके 69 मामले दर्ज किए गए हैं.

वहीं, गंगाराम अस्पताल के अधिकारियों ने बताया कि अस्पताल में हुई चार मौतें एच 1एन 1 वायरस से जुड़ी थी. इनमें तीन मौतें पिछले महीने हुई थी.

अस्पताल में मेडिसिन विभाग के सीनियर कंसल्टेंट डॉ. अतुल काकर ने बताया कि अस्पताल में इस रोग के करीब 15 मामले दर्ज किए गए हैं. स्वाइन फ्लू से जिसकी पहली मौत हुई वह ग्वालियर की 65 वर्षीय महिला है. उनकी मौत फरवरी की शुरूआत में हुई है. अन्य तीन रोगी पुरूष थे और वे दिल्ली से थे. 35 वर्षीय व्यक्ति की 17 अप्रैल को मौत हुई. अन्य दो की उम्र 58 और 62 वर्ष है.

केंद्र सरकार संचालित आरएमएल अस्पताल और सफदरजंग अस्पताल के अधिकारियों ने बताया कि स्वाइन फ्लू से कोई मौत दर्ज नहीं की गई है.

आरएमएल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘‘हमने इस साल अब तक स्वाइन फ्लू के महज पांच मामले दर्ज किए हैं.’’ गौरतलब है कि 31 मार्च को केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने लोकसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में कहा था कि एक जनवरी से 26 मार्च के बीच स्वाइन फ्लू से 160 लोगों की मौत हुई है जबकि 6062 मामले दर्ज किए गए. सर्वाधिक 63 मौतें महाराष्ट्र में दर्ज की गई.

स्वाइन फ्लू से राजस्थान में एक महिला की मौत-

राजस्थान, झालावाड़ के एक अस्पताल में 23 वर्षीय महिला की मौत स्वाइन फ्लू से हो गई. उसे एच1एन1 होने की पुष्टि हुई थी. जिले में स्वाइन फ्लू से हुई यह चौथी मौत है.

कोटा के प्रमुख चिकित्सक और स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. अनिल कौशिक ने बताया कि महिला की मृत्यु के साथ ही मतृकों की संख्या चार हो गई है. वहीं कोटा डिविजन में अभी तक इस साल 24 लोगों को एच1एन1 होने की पुष्टि हो चुकी है.

अस्पताल के अधीक्षक डॉ. के. के. शर्मा ने बताया कि इस जिले के मोदक की निवासी प्रवीन को 12 मई को उस समय झालावाड़ के एसआरजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जब उसे प्रसव पीड़ा शुरू हो चुकी थी. उसे तेज बुखार, खांसी और जुकाम भी था.

डॉ. शर्मा ने बताया कि महिला ने एक मृत बच्चे को जन्म दिया था. सोमवार को महिला की एच1एन1 की जांच की गई जिसमें उसे स्वाइन फ्लू होने की पुष्टि हुई. उसकी मौत सोमवार देर रात एक बजे हुई.

डॉ कौशिक ने कहा, ‘‘गर्मी के इस मौसम में स्वाइन फ्लू के बढ़ते मामले काफी असामान्य है और इस पर अनुसंधान किए जाने की आवश्यकता है.’’ क्षेत्र में बढ़ते स्वाइन फ्लू के मामलों के मद्देनजर एच1एन1 पीड़ितों के रिश्तेदारों को टेमी फ्लू की गोलियां दी गई हैं. डॉक्टर प्रभावित क्षेत्रों में सर्वेक्षण भी कर रहे हैं.

First Published:

Related Stories

यूरिनरी लीकेज का हो सकेगा इलाज, नई जीन की हुई पहचान!
यूरिनरी लीकेज का हो सकेगा इलाज, नई जीन की हुई पहचान!

लंदन:  यूरिनरी लीकेज (मूत्र का रिसाव) की समस्या से जूझ रहीं महिलाओं के इलाज की दिशा में एक नई...

फेसबुक का ज्यादा इस्तेमाल बना सकता है अनहेल्दी!
फेसबुक का ज्यादा इस्तेमाल बना सकता है अनहेल्दी!

न्यूयार्क: फेसबुक प्रोफाइल को जो लोग हर समय जांचते रहते हैं, वे इसका कम इस्तेमाल करने वालों की...

गांजे का सेवन बढ़ा सकता है मसूड़ों के रोग को
गांजे का सेवन बढ़ा सकता है मसूड़ों के रोग को

न्यूयार्क: गांजे के विभिन्न रूपों- भांग, हशीश या उसके तेल का लगातार सेवन करने से मसूड़ों के...

लिवर कैंसर से बचना है तो रोजाना पीएं 5 कप कॉफी
लिवर कैंसर से बचना है तो रोजाना पीएं 5 कप कॉफी

लंदन: रोजाना पांच कप कॉफी पीने से आमतौर पर होने वाला लिवर का खतरा घटकर आधे से भी कम रह जाएगा. यह...

मुंबई में लॉन्च हुआ भारत का पहला डिजिटल सेनेटरी पैड बैंक
मुंबई में लॉन्च हुआ भारत का पहला डिजिटल सेनेटरी पैड बैंक

मुंबई: रविवार को विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस पर यहां मुंबई की स्थानीय विधायक भारती लवेकर की...

... तो ये है दीपिका पादुकोण की फिटनेस का राज!
... तो ये है दीपिका पादुकोण की फिटनेस का राज!

नई दिल्लीः बहुत ही कम समय में दीपिका पादुकोण ने बॉलीवुड में अपनी अहम जगह बनाई. लेकिन इसके अलावा...

अब बच पाएंगे हार्ट डिजीज़ से, नए जीन की हुई पहचान!
अब बच पाएंगे हार्ट डिजीज़ से, नए जीन की हुई पहचान!

लंदन: वैज्ञानिकों ने एक ऐसे जीन की खोज की है, जो हार्ट को कार्डियोवस्कुलर डिजीज़ से बचाता है....

बच्चों को अस्थमा से बचाना है तो प्रेग्नेंसी में लें विटामिन डी
बच्चों को अस्थमा से बचाना है तो प्रेग्नेंसी में लें विटामिन डी

लंदन: गर्भावस्था के दौरान विटामिन डी युक्त आहार लेने से नवजात शिशुओं की प्रतिरोधत क्षमता में...

किसी भी उम्र में हो सकता है गर्भाशय कैंसर, 1 साल की बच्ची को हुआ ये कैंसर!
किसी भी उम्र में हो सकता है गर्भाशय कैंसर, 1 साल की बच्ची को हुआ ये कैंसर!

नई दिल्ली: गर्भाशय कैंसर ऐसी बीमारी है जो किसी भी महिला को किसी भी उम्र में हो सकती है. इस बीमारी...

OMG! 6 घंटे से कम नींद लेने से हो सकती है ये खतरनाक बीमारी
OMG! 6 घंटे से कम नींद लेने से हो सकती है ये खतरनाक बीमारी

न्यूयॉर्क: छह घंटे से कम की नींद मेटाबोलिक सिंड्रोम से पीड़ित लोगों में मृत्यु का जोखिम लगभग...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017