गर्भाशय कैंसर का इस एक तरीके से पता लगाना होगा आसान

By: | Last Updated: Wednesday, 20 January 2016 11:34 AM
uterus cancer can diagnosed with ultrasound

वैज्ञानिकों ने गर्भाशय के कैंसर का पता लगाने वाली एक नई किस्म की अल्ट्रासाउंड जांच विकसित की है, जिससे कैंसर के खतरे की पूर्वसूचना मिल पाएगी. बेल्जियम के यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल्स लियूवेन में हुए शोध के मुख्य लेखक ड्रिक टिम्मरमैन कहते हैं, “हाल तक इस जांच से रोगियों की 20-25 प्रतिशत जांच पूरी नहीं हो पाती थी.”

उन्होंने बताया, “हमारा शोध दल इसकी जांच करने में सक्षम था. अब से यह नई विधि प्रत्येक मरीज का सटीक निदान कर पाएगी. यह नया परीक्षण मरीज में ट्यूमर के सटीक जोखिम की जानकारी दे सकता है.”

गर्भाशय का कैंसर एक घातक बीमारी है. इसमें शीघ्र जांच और इलाज कारगर हो सकता है.

यह अध्ययन साल 1999 से 2012 के बीच 10 देशों के लगभग 5 हजार लोगों पर किया गया था. गर्भाशय कैंसर के बीनिंग (सौम्य) और मैलीगैंट (घातक) लक्षणों को अल्ट्रासाउंड विधि से पहचाना जाता है. इसके विकसित होने से इन लक्षणों को शीघ्र पहचानने में मदद मिलेगी.

यह शोध पत्रिका ‘अमेरिकन जर्नल ऑफ ओबस्ट्रेटिक्स एंड गाइनिकोलॉजी’ में प्रकाशित किया गया है.

Health News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: uterus cancer can diagnosed with ultrasound
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ultrasound uterus cancer
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017