जानिए क्या है 'नेशनल हेल्थ पॉलिसी' के मायने और कैसे होगा फ्री में इलाज!

By: एबीपी न्यूज़, वेब डेस्क | Last Updated: Thursday, 16 March 2017 11:29 AM
जानिए क्या है 'नेशनल हेल्थ पॉलिसी' के मायने और कैसे होगा फ्री में इलाज!

नई दिल्लीः केंद्र सरकार ने बुधवार को नेशनल हेल्थ पॉलिसी को मंजूरी दे दी. इस नीति के जरिए देश में ‘सभी को निश्चित स्वास्थ्य सेवाएं’ मुहैया कराने का प्रस्ताव है. केंद्रीय मंत्री जे पी नड्डा आज संसद में इस नीति के अहम पहलुओं की जानकारी देंगे.

जानिए, नेशनल हेल्थ पॉलिसी में क्या है खास.

क्या है नेशनल हेल्थ पॉलिसी-

  • नेशनल हेल्थ पॉलिसी के अंतर्गत कोई भी हॉस्पिटल किसी भी तरह के इलाज के लिए मरीजों को मना नहीं करेगा. इसमें प्राइवेट सेक्टर के हॉस्पिटल भी शामिल हैं.
  • नेशनल हेल्थ पॉलिसी में लोगों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस दिए जाएंगे और इसके लिए लोगों पर हेल्थ टैक्स लगाने का भी प्रावधान है.
  • गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोगों का इलाज मुफ्त में किए जाने का प्रावधान है.
  • पॉलिसी के तहत टेस्ट, मेडिसिन और ट्रीटमेंट तीनों चीजें शामिल हैं.
  • इस पॉलिसी के जरिए सरकार हर किसी का फ्री में इलाज करवाने की तैयारी में है. गवर्मन्ट का टारगेट है कि देश के 80% लोगों का इलाज गवर्मन्ट अस्पातल में पूरी तरह से फ्री हो.
  • सरकारी योजनाओं के तहत एक्सपर्ट और टॉप लेवल ट्रीटमेंट में प्राइवेट सेक्टर की भागीदारी को बढ़ाया जाएगा. यानि सरकार बेसिक ट्रीटमेंट को स्ट्रांग बनाएगी वहीं एक्सपर्ट ट्रीटमेंट के लिए लोग प्राइवेट या गवर्मन्ट हॉस्पिटल जा सकेंगे.
  • हेल्थ इंश्यारेंस प्लान के तहत सरकार प्राइवेट हॉस्पिटल्स को ऐसे इलाज के लिए निश्चित पेमेंट करेगी.
  • अब तक पीएचसी टीकाकरण, गर्भवती महिलाओं और बच्चे की जांच जैसी सुविधाओं को उपलब्ध करवाता था लेकिन अब इसमें गैर-संक्रामक रोगों की जांच और कई अन्य पहलू भी शामिल होंगे.
  • डिस्ट्रिक हॉस्पिटल्स और अन्य हॉस्पिटल्स से गवर्मन्ट कंट्रोल हटाया जाएगा. साथ ही इन हॉस्पिटल्स को आधुनिक बनाएं जाने की बात भी कहीं जा रही है.
  • हेल्थ पॉलिसी में हेल्थ सेक्टर में 100% एफडीआई और डायरेक्ट टैक्स को कम करने की बात भी है.
  • हेल्थ सेक्टर में डिजिटलाइजेशन पर भी फोकस किया जाएगा. गंभीर और प्रमुख बीमारियों को जड़ से खत्‍म करने के लिए समय सीमा होगी तय.
  • इसमें मां और शिशु मृत्युदर घटाने से लेकर गवर्मन्ट हॉस्पिटल्स में मेडिसिन, टेस्ट सभी के लिए साधन मौजूद होंगे.
  • राज्यों के लिए इस नीति को मानना अनिवार्य नहीं होगा. इस पॉलिसी को एक मॉडल के रूप में राज्यों को दे दिया जाएगा. राज्य सरकार इसे लागू करती है या नहीं, ये पूरी तरह उनपर निर्भर करेगा.
First Published: Thursday, 16 March 2017 11:01 AM

Related Stories

इस वजह से बच्‍चों को ज्‍यादा से ज्‍यादा लगाएं गले!
इस वजह से बच्‍चों को ज्‍यादा से ज्‍यादा लगाएं गले!

नयी दिल्ली: एक सर्वेक्षण में सामने आया है कि मां जब अपने कलेजे के टुकड़े को सीने से लगाती है तो...

... तो इस वजह से पुरुषों को दोबारा भी हो सकता है किडनी स्टोन!
... तो इस वजह से पुरुषों को दोबारा भी हो सकता है किडनी स्टोन!

नई दिल्ली: पूरे जीवन में गुर्दे में पथरी होने की आशंका पुरुषों में 13 प्रतिशत और महिलाओं में...

ALERT: सरकारी आंकड़ों के मुताबिक साल दर साल बढ़ रहा है डेंगू-चिकनगुनिया का खतरा
ALERT: सरकारी आंकड़ों के मुताबिक साल दर साल बढ़ रहा है डेंगू-चिकनगुनिया का खतरा

नई दिल्ली: केंद्र और राज्य सरकार के स्तर से मच्छरों की वजह से होने वाले बुखार को रोकने के लिए की...

अदरक खाने के ये फायदे अब तक नहीं सुने आपने!
अदरक खाने के ये फायदे अब तक नहीं सुने आपने!

नई दिल्लीः यूं तो हम लोग अक्सर अदरक वाली चाय पीना पसंद करते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कच्ची...

वजन कम करने के लिए खाएं फ्लैक्स सीड्स!
वजन कम करने के लिए खाएं फ्लैक्स सीड्स!

नई दिल्लीः अक्सर लोग फ्लैक्स सीड्स को कॉलेस्ट्रॉल कम करने के लिए खाते हैं. लेकिन क्या आप जानते...

क्या ऑफिस में वजन बढ़ने से हैं आप भी हैं परेशान!
क्या ऑफिस में वजन बढ़ने से हैं आप भी हैं परेशान!

नई दिल्लीः अक्सर लोगों को आपने कहते हुए सुना होगा कि दिनभर ऑफिस में बैठना पड़ता है इसलिए वजन...

गर्मी में ये टिप्स रखेंगे आपको चुस्त–दुरुस्त!
गर्मी में ये टिप्स रखेंगे आपको चुस्त–दुरुस्त!

नई दिल्लीः गर्मियां आते ही शुरू हो जाती हैं बीमारियां. लेकिन आप इन गर्मियों में आयुर्वेदिक...

टीबी के मरीजों के लिए है ये खबर!
टीबी के मरीजों के लिए है ये खबर!

नई दिल्लीः शहर में टीबी के मामलों में ज्यादा लोगों के संक्रमित होने का खतरा होता है, वहीं...

यंग मदर्स के बहुत काम आएंगे ये टिप्स!
यंग मदर्स के बहुत काम आएंगे ये टिप्स!

नई दिल्ली: हाल ही में मातृत्व पर किए गए एक बयान से विवादों में घिरी अभिनेता शाहिद कपूर की पत्नी...

 ... तो ये कारण है ब्रेस्ट कैंसर, सर्वाइकल और वैजाइनल कैंसर का!
... तो ये कारण है ब्रेस्ट कैंसर, सर्वाइकल और वैजाइनल कैंसर का!

नई दिल्लीः सोशल मीडिया के जहां बहुत से फायदे हैं वहीं नुकसान भी हैं. सोशल मीडिया पर लोग कई बार...