जानिए क्या है 'नेशनल हेल्थ पॉलिसी' के मायने और कैसे होगा फ्री में इलाज!

By: एबीपी न्यूज़, वेब डेस्क | Last Updated: Thursday, 16 March 2017 11:29 AM
जानिए क्या है 'नेशनल हेल्थ पॉलिसी' के मायने और कैसे होगा फ्री में इलाज!

नई दिल्लीः केंद्र सरकार ने बुधवार को नेशनल हेल्थ पॉलिसी को मंजूरी दे दी. इस नीति के जरिए देश में ‘सभी को निश्चित स्वास्थ्य सेवाएं’ मुहैया कराने का प्रस्ताव है. केंद्रीय मंत्री जे पी नड्डा आज संसद में इस नीति के अहम पहलुओं की जानकारी देंगे.

जानिए, नेशनल हेल्थ पॉलिसी में क्या है खास.

क्या है नेशनल हेल्थ पॉलिसी-

  • नेशनल हेल्थ पॉलिसी के अंतर्गत कोई भी हॉस्पिटल किसी भी तरह के इलाज के लिए मरीजों को मना नहीं करेगा. इसमें प्राइवेट सेक्टर के हॉस्पिटल भी शामिल हैं.
  • नेशनल हेल्थ पॉलिसी में लोगों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस दिए जाएंगे और इसके लिए लोगों पर हेल्थ टैक्स लगाने का भी प्रावधान है.
  • गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोगों का इलाज मुफ्त में किए जाने का प्रावधान है.
  • पॉलिसी के तहत टेस्ट, मेडिसिन और ट्रीटमेंट तीनों चीजें शामिल हैं.
  • इस पॉलिसी के जरिए सरकार हर किसी का फ्री में इलाज करवाने की तैयारी में है. गवर्मन्ट का टारगेट है कि देश के 80% लोगों का इलाज गवर्मन्ट अस्पातल में पूरी तरह से फ्री हो.
  • सरकारी योजनाओं के तहत एक्सपर्ट और टॉप लेवल ट्रीटमेंट में प्राइवेट सेक्टर की भागीदारी को बढ़ाया जाएगा. यानि सरकार बेसिक ट्रीटमेंट को स्ट्रांग बनाएगी वहीं एक्सपर्ट ट्रीटमेंट के लिए लोग प्राइवेट या गवर्मन्ट हॉस्पिटल जा सकेंगे.
  • हेल्थ इंश्यारेंस प्लान के तहत सरकार प्राइवेट हॉस्पिटल्स को ऐसे इलाज के लिए निश्चित पेमेंट करेगी.
  • अब तक पीएचसी टीकाकरण, गर्भवती महिलाओं और बच्चे की जांच जैसी सुविधाओं को उपलब्ध करवाता था लेकिन अब इसमें गैर-संक्रामक रोगों की जांच और कई अन्य पहलू भी शामिल होंगे.
  • डिस्ट्रिक हॉस्पिटल्स और अन्य हॉस्पिटल्स से गवर्मन्ट कंट्रोल हटाया जाएगा. साथ ही इन हॉस्पिटल्स को आधुनिक बनाएं जाने की बात भी कहीं जा रही है.
  • हेल्थ पॉलिसी में हेल्थ सेक्टर में 100% एफडीआई और डायरेक्ट टैक्स को कम करने की बात भी है.
  • हेल्थ सेक्टर में डिजिटलाइजेशन पर भी फोकस किया जाएगा. गंभीर और प्रमुख बीमारियों को जड़ से खत्‍म करने के लिए समय सीमा होगी तय.
  • इसमें मां और शिशु मृत्युदर घटाने से लेकर गवर्मन्ट हॉस्पिटल्स में मेडिसिन, टेस्ट सभी के लिए साधन मौजूद होंगे.
  • राज्यों के लिए इस नीति को मानना अनिवार्य नहीं होगा. इस पॉलिसी को एक मॉडल के रूप में राज्यों को दे दिया जाएगा. राज्य सरकार इसे लागू करती है या नहीं, ये पूरी तरह उनपर निर्भर करेगा.
First Published: Thursday, 16 March 2017 11:01 AM

Related Stories

कहीं आप भी तो बाथरूम में नहीं ले जाते मोबाइल?
कहीं आप भी तो बाथरूम में नहीं ले जाते मोबाइल?

नई दिल्लीः आज के समय में खासतौर से युवा मोबाइल के बिना रह नहीं पाते. ऐसे में वे नहाने जा रहे हो या...

सेहत के लिए जीवनशैली बदलना चाहते हैं दिल्लीवासी
सेहत के लिए जीवनशैली बदलना चाहते हैं दिल्लीवासी

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में 99 प्रतिशत महिलाओं और 89 प्रतिशत पुरुषों की प्राथमिकता सेहत है...

सावधान! इन वजहों से भी हो सकता है कमर दर्द
सावधान! इन वजहों से भी हो सकता है कमर दर्द

नई दिल्लीः कमर दर्द का मतलब ये नहीं कि हमेशा गंभीर हेल्थ इश्यू यानी स्लिप डिस्क या आर्थराइटिस...

अब स्किन कैंसर का इलाज करेगी हाई ब्लड प्रेशर की ये दवा
अब स्किन कैंसर का इलाज करेगी हाई ब्लड प्रेशर की ये दवा

नई दिल्लीः यूं तो हर दवा का किसी ना किसी बीमारी को ठीक करने के लिए खासतौर पर बनी होती है लेकिन...

गाय का दूध पीने के ये फायदे जानते हैं आप!
गाय का दूध पीने के ये फायदे जानते हैं आप!

नई दिल्लीः गाय को बचाने को लेकर बेशक खूब पॉलिटिक्स हो रही हो लेकिन क्या आप जानते हैं गाय को...

खरबूजे से लेकर नारियल पानी तक ये सभी बचाएंगे एसिडिटी से!
खरबूजे से लेकर नारियल पानी तक ये सभी बचाएंगे एसिडिटी से!

नई दिल्लीः गर्मियों में पेट में जलन, गैस, ब्लोटिंग और एसिडिटी जैसी समस्याएं होना आम बता है....

OMG! ये कारण भी हो सकता है हाई ब्लड प्रेशर का
OMG! ये कारण भी हो सकता है हाई ब्लड प्रेशर का

नई दिल्लीः क्या आपको पता है हाई ब्लड प्रेशर क्यों होता है? कुछ लोग इसे उम्र का तकाज़ा कहते हैं तो...

क्या आप भी रोजाना नॉनवेज खाते हैं?
क्या आप भी रोजाना नॉनवेज खाते हैं?

नई दिल्लीः क्या आप भी मीट खाने के शौकीन हैं? क्या आप भी रोजाना नॉनवेज खाते हैं? अगर हां, तो आपको...

एम्स के मेडिकल स्टोर में केवल 230 जेनेरिक दवा उपलब्ध
एम्स के मेडिकल स्टोर में केवल 230 जेनेरिक दवा उपलब्ध

नयी दिल्ली: जेनेरिक दवा को आगे बढ़ाने की प्रधानमंत्री की कवायद को चिकित्सा बिरादरी से जोरदार...

ये छोटा सा उपाय बचा सकता है बच्चों को मोटापे से!
ये छोटा सा उपाय बचा सकता है बच्चों को मोटापे से!

नई दिल्लीः बदलते लाइफस्टाइल के कारण अब बच्चे भी मोटापे का शिकार होने लगे हैं. ऐसे में बच्चों के...