रेस्तरां जा रहे हैं तो जरा ये खबर पढ़ लें!

Where Do You Find the Grubbiest Germs in Restaurants

नई दिल्लीः कभी रेस्तरां का पनीर बटर मसाला तो कभी बिरियानी खाकर हो जाता है पेट खराब. कभी दाल तड़का कर देता है सेहत का कबाड़ा. आप जब भी बाहर का खाना खाकर बीमार हो जाते हैं तो अक्सर खाने को ही दोष देते हैं. आप सोचते हैं कि खाना बनाने में ताजा चीजों का इस्तेमाल नहीं हुआ है इसलिए आप बीमार हो गए. लेकिन क्या कभी आपने सोचा है आपकी बीमारी के लिए पकवान ही नहीं बल्कि रेस्तरां की रसोई भी इसके लिए जिम्मेदार हो सकती है.

एक हालिया रिसर्च में रेस्तरां की एक चीज को टॉयलेट कवर से भी 100 गुना ज्यादा गंदा बताया गया है. आज हम आपको बताएंगे आखिर ये चीज क्या है और कैसे आप इसके संपर्क में आकर बीमार पड़ सकते हैं. इतना ही नहीं, हम आपको ये भी बताएंगे कि कैसे आप रेस्तरां का खाना खाकर भी ठीक रह सकते हैं. तो चलिए जानें रेस्तरां में सबसे ज्यादा किस चीज से आप सावधान रहें.

मेन्यू कार्ड से रहें सावधान-
रेस्तरां में खाने के लिए क्या-क्या पकवान है और उसके क्या–क्या दाम है इसके लिए एक मेन्यू कार्ड मौजूद होता है. लेकिन क्या आप जानते हैं जिस मेन्यू कार्ड को खाना ऑर्डर करने के लिए हम कई मिनटों तक पकड़े रहते हैं वहीं मेन्यू कार्ड रेस्‍तरां में सबसे गंदा होता है.

डॉक्‍टर्स के मुताबिक, ये मेन्‍यू कार्ड टॉयलेट कवर से भी 100 गुना ज्यादा गंदा होता है. मेन्यू कार्ड में स्टै‍फिलोकॉकस ऑरियस, एस्चेरिचिया कोलाई बैक्टीरिया होते हैं. ये खतरनाक बैक्टीरिया दो दिन तक जिंदा रह सकते हैं. ये बैक्टीरिया सीधे लिवर पर हमला करते हैं. इस वजह से पेट खराब होने के अलावा पीलिया भी हो सकता है.

दरअसल, रेस्‍तरां में आने वाले हर शख्स के हाथ से मेन्यू कार्ड गुजरता है. इसलिए इसे लैमिनेट करवाया जाता है लेकिन इसकी ठीक से सफाई नहीं की जाती. जानकारों के मुताबिक, मेन्यू कार्ड का सबसे निचला हिस्सा सबसे गंदा होता है. इसके अलावा इसमें बाएं और दाएं तरह भी बहुत बैक्टीरिया होते हैं.

नमक-मिर्च की डब्बी भी होती है गंदी-
मेन्यू कार्ड के अलावा नमक-मिर्च और कैचअप टेबल पर रखी हुई होती है इसमें भी बहुत बैक्टीरिया होते हैं. डॉक्टर्स के मुताबिक, इनके इस्तेमाल और छूने से भी बैक्टीरिया आपको इफेक्ट करते हैं. खाने के जरिए भी ये बैक्टीरिया शरीर के अंदर जाते हैं.

कुर्सी-
आमतौर पर बड़े रेस्तरां और होटल में वेटर ही आपकी कुर्सी आगे खींचकर आपके बैठने की जगह बनाता है लेकिन छोटे रेस्तरां में ऐसा नहीं होता. अपनी बारी आने पर छोटे रेस्तरां में लोग तुरंत अपनी सीट पर बैठते हैं. ऐसे में आप बैक्टीरिया के संपर्क में आते हैं.

बाथरूम के दरवाजे के हैंडल से बचकर-
रेस्तरां की कुर्सी की तरह की रेस्तरां के बाथरूम का हैंडल भी तमाम तरह के लोग इस्तेमाल करते हैं. दरवाजे का हैंडल भी बहुत गंदा होता है. यहां भी मेन्यू कार्ड की तरह बहुत सारे बैक्टीरिया पाए जाते हैं.

कैसे करें खुद को सुरक्षित-
रेस्तरां में जाने के खतरों को जानने के बावजूद लोग वहां के खाने का छोड़ नहीं पाते. इसके लिए एक्सपर्ट ने इन सबसे बचने का एक ही रामबाण बताया है कि हाथ धोना. हर बीमारी से बचने का उपाय है हाथ धोना. खाना खाने से पहले हाथ जरूर धोएं. हाथ धोने से आप बैक्टीरिया के खतरे को काफी कम कर सकते हैं. हैंड सैनेटाइजर के बजाय हाथ साबुन से धोएं.

हैंड सैनेटाइजर है खतरनाक-
बहुत से लोग बच्चों के हैंड वॉश करवाने के बजाय हैंड सैनिटाइजर से हाथ साफ कर देते हैं. लेकिन यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन की रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसा करना खतरनाक हो सकता है. हैंड सैनेटाइजर के इस्तेमाल से बच्चों के पेट में जलन, उल्टी और पेट में दर्द तक हो सकता है. ऐसे में साबुन से हाथ धोना ही बचाव का एकमात्र उपाय है.

 

 

Health News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Where Do You Find the Grubbiest Germs in Restaurants
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017