आप अगर डायबिटिक हैं तो ये खबर आपके लिए हैं...

By: | Last Updated: Tuesday, 16 February 2016 12:45 PM
Yearly spend on diabetes is Rs 1.5 lakh crore, rising by 30% per annum

Woman Performing Blood Test on Herself

देशभर में आज एक तिहाई आबादी डायबिटीज से पीड़ित है. इस आबादी में बड़े-बूढ़ों से लेकर बच्चे तक सभी शामिल हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं जल्दी ही डायबिटीज का इलाज करवाना आपके लिए मुसीबत बन सकता है. ये हम नहीं कह रहे बल्कि आंकड़ों में ये बात सामने आई हैं.

आंकड़ों के मुताबिक, हर साल डायबिटीज पर 30 फीसदी खर्चा बढ़ रहा है. इतना ही नहीं, हिंदुस्तान में डायबिटीज पर हर साल होने वाला खर्च डेढ़ लाख करोड़ हो गया है जो कि 32 हजार करोड़ को 4.7 गुना ज्यादा है. आपको बता दें सरकार द्वारा स्वास्थ्य पर 32 हजार करोड़ की राशि खर्च करने के लिए आवंटित की गई थी.

डायबिटीज होने का सबसे बड़ा कारण हैं असंतुलित और अनियमित जीवनशैली और व्याखयाम ना करने की आदत. अगर साल-दर-साल डायबिटीज पर होने वाला खर्च इसी प्रतिशत से बढ़ता रहा तो जल्द ही भारत में डायबिटीज का इलाज करवाना बेहद मुश्किल हो जाएगा.

आपको बात दें भारतभर में 7 करोड़ लोग डायबिटीज के मरीज हैं. इनमें से अधिकत्तर को इंसुलिन की जरूरत पड़ती है. लेकिन अगर कोई महंगा इंसुलिन का इस्तेमाल करता है तो उसमें और अधिक खर्चा आता है.

लांसेट ने एक रिसर्च के जरिए बताया है कि इंसुलिन के दामों का लगातार बढ़ना एक गंभीर विषय है. जिसके कारण हिंदुस्तान में काफी मात्रा में लोग इसे खरीद नहीं पा रहे हैं. जबकि भारत पूरे संसार में डायबिटीज का मुख्य केंद्र बनता जा रहा है.

यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन के इंस्टीट्यूट हेल्थ मेट्रिस एंड इवैल्यूएशन के अुनसार, पूरी दुनिया में डायबिटीज 45 फीसदी तक बढ़ती है जबकि 1990 से 2013 तक सिर्फ हिंदुस्तान में ये 123 फीसदी बढ़ गई हैं.

अब हालत और बिगड़ रहे हैं ऐसे में जरूरी हो जाता है कि सभी को अपने लाइफस्टाइल में थोड़ा बदलाव लाना होगा ताकि डायबिटीज को होने से शुरूआत में ही रोका जा सके.

Health News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Yearly spend on diabetes is Rs 1.5 lakh crore, rising by 30% per annum
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

इन बातों का रखे ध्यान, ताकि आपको ना लगे 'स्वाइन फ्लू' की नज़र
इन बातों का रखे ध्यान, ताकि आपको ना लगे 'स्वाइन फ्लू' की नज़र

2009 से लेकर अब तक स्वाइन फ्लू भारत में 5000 लोगों को हमसे छीन चुका है. इस साल भी स्वाइन फ्लू के फैलने...

खुशखबरी! अब मूंगफली से होने वाली एलर्जी का हो सकेगा इलाज
खुशखबरी! अब मूंगफली से होने वाली एलर्जी का हो सकेगा इलाज

नई दिल्ली: कई लोगों को मूंगफली से एलर्जी होती है यानि पीनट एलर्जी से परेशान लोगों के लिए अब...

ऐसे लोगों को अधिक रहता है अल्जाइमर होने का खतरा!
ऐसे लोगों को अधिक रहता है अल्जाइमर होने का खतरा!

नई दिल्लीः हाल ही में एक रिसर्च में खुलासा हुआ है कि भूलने की बीमारी यानि अल्जाइमर का खतरा उन...

सावधान! लंबे समय तक फैटी लिवर बढ़ा सकता है लिवर कैंसर का खतरा
सावधान! लंबे समय तक फैटी लिवर बढ़ा सकता है लिवर कैंसर का खतरा

नई दिल्ली: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) का कहना है कि फैटी लिवर से पीड़ित लोगों की संख्या में...

बीमारी की पहचान में सुधार के लिए आया मल्टीकलर एमआरआई
बीमारी की पहचान में सुधार के लिए आया मल्टीकलर एमआरआई

वाशिंगटन: वैज्ञानिकों ने एमआरआई (मैग्नेटिक रिजोनेंस इमेजिंग) को मल्टीकलर बनाने का तरीका...

सांस की इन दो बीमारियों से दुनिया भर में 36 लाख लोगों की मौत
सांस की इन दो बीमारियों से दुनिया भर में 36 लाख लोगों की मौत

नई दिल्ली: ‘लांसेट रिस्पीरेटरी मेडिसिन’ मैग्जीन में ये दावा किया है कि दो आम क्रोनिक लंग...

दवाओं और चिकित्सकीय उपकरणों की कीमतों पर लगाम लगाने की मांग
दवाओं और चिकित्सकीय उपकरणों की कीमतों पर लगाम लगाने की मांग

नयी दिल्ली: नी रिप्लेसमेंट में लगने वाले आर्टिफिशियल अंगों के मूल्य तय किए जाने की सरकार की...

‘नी रिप्लेसमेंट’ के दामों में कटौती अच्छा कदम, अब गुणवत्ता पर भी ध्यान देने की जरूरत
‘नी रिप्लेसमेंट’ के दामों में कटौती अच्छा कदम, अब गुणवत्ता पर भी ध्यान देने...

नयी दिल्ली: आर्टिफिशियल नी इम्प्लांट सस्ते होने की सरकार की घोषणा का स्वागत करते हुए...

गुजरात में स्वाइन फ्लू से अब तक 230 की मौत
गुजरात में स्वाइन फ्लू से अब तक 230 की मौत

वडोदरा/अहमदाबाद: गुजरात में स्वाइन फ्लू यानि एच1एन1 वायरस से इंफेक्टेड होकर मरनेवालों की...

गोरखपुर में इन्सेफेलाइटिस वार्ड में एक और बच्चे की मौत
गोरखपुर में इन्सेफेलाइटिस वार्ड में एक और बच्चे की मौत

गोरखपुर: बाबा राघव दास मेडिकल कालेज से कल एक और बच्चे की मौत हो गयी. बच्चा मेडिकल कालेज के...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017