अखबार अपनी खबर पर कायम, पीएम ने बताया निराधार

अखबार अपनी खबर पर कायम, पीएम ने बताया निराधार

By: | Updated: 04 Apr 2012 08:31 AM


नई दिल्ली: 16 और 17 जनवरी
की रात सेना की दो टुकड़ियों
के दिल्ली की तरफ कूच करने की
खबर पर कायम है अखबार इंडियन
एक्सप्रेस.

इंडियन
एक्सप्रेस ने फिर दावा किया
कि उन्होंने छह हफ्ते की
पड़ताल और सेना और सरकार के
उच्च पदस्थ सूत्रों के हवाले
से ये खबर छापी है.

अखबार
ने अपनी खबर पर सेना और सरकार
से तीन सवाल पूछे हैं. पहला ये
कि सेना की दो टुकड़ी के
दिल्ली के करीब आने की बात
रक्षा मंत्रालय को क्यों
नहीं बताई गई ? दूसरा सवाल ये
कि सेना की दोनों टुकड़ियों
को अचानक वापस क्यों भेजा
गया? और तीसरा सवाल ये कि सेना
की तरफ से इस मामले पर सरकार
को क्या सफाई दी गई?

हालांकि
सेना के सूत्रों के मुताबिक
सेना के मूवमेंट की जानकारी
देना जरूरी नहीं है. इसके
अलावा सेना का ये भी दावा है
कि टुकड़ियों का दिल्ली की
तरफ आना रूटीन अभ्यास का
हिस्सा था.





प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह
ने बुधवार को कहा कि सेना की
दो प्रमुख टुकड़ियों के
संदिग्ध रूप से राजधानी
दिल्ली के करीब पहुंचने
सम्बंधी मीडिया रपट 'बेवजह भय
पैदा करने वाली' है और इसे
महत्व नहीं दिया जाना चाहिए. 


रक्षा मंत्री एके एंटनी
ने भी अखबार की रपट को
निराधार बताया और कहा कि सेना
की देशभक्ति पर कोई संदेह
नहीं है.

गौरतलब है कि
समाचार पत्र 'इंडियन
एक्सप्रेस' ने बुधवार को अपने
प्रथम पृष्ठ पर प्रकाशित एक
रपट में कहा है कि हिसार की
मेकेनाइज्ड इन्फैंट्री और
आगरा की 50 पैरा ब्रिगेड की एक
टुकड़ी के सैनिक जनवरी में
राजधानी की ओर कूच कर गए थे.
रपट में कहा गया है कि यह घटना
16 जनवरी की रात की है, और ऐसा
रक्षा मंत्रालय को पूर्व
सूचना दिए जाने जैसी मानक
प्रकिया का पालन किए बगैर हुआ
था.

रपट में कहा गया है कि
चूंकि यह घटना उस दौरान की है,
जब सेना प्रमुख जनरल वीके
सिंह अपने उम्र विवाद को लेकर
सरकार के खिलाफ न्यायिक जंग
लड़ रहे थे, लिहाजा इसने
दिल्ली में सत्ता के
गलियारों में हलचल व संदेह
पैदा कर दी.




संबंधित खबरें-




'बिना
बताए दिल्‍ली की तरफ बढ़ी थी
फौज'






कौन
सी दो सैनिक टुकड़ियां आ रही
थीं दिल्ली






पहले
से तय था सैनिक यूनिटों का
मूवमेंट!






सशस्त्र
बलों की देशभक्ति पर संदेह
नहीं: एंटनी





फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story ED ने पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम से 11 घंटे तक की पूछताछ