अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के सीएम पद से दिया इस्तीफा, विधानसभा भंगकर चुनाव की मांग की

By: | Last Updated: Friday, 14 February 2014 3:09 PM
अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के सीएम पद से दिया इस्तीफा,  विधानसभा भंगकर चुनाव की मांग की

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा में जनलोकपाल बिल पेश कर पाने में नाकाम रहने वाले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने पद से इस्तीफे दे दिया है. विधानसभा में जब बिल पेश नहीं कर पाए तो केजरीवाल ने कैबिनेट की बैठक बुलाई और जिसमें इस्तीफा का फैसला किया गया.

 

सचिवालय में कैबिनेट की बैठक के बाद केजरीवाल सीधे पार्टी दफ्तर पहुंचे और अपने इस्तीफे का एलान कर दिया.

 

पढ़ें बतौर सीएम पार्टी दफ्तर से केजरीवाल का पूरा भाषण

अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के सीएम पद से दिया इस्तीफा

 

उन्होंने अपने इस्तीफे के एलान के साथ कहा, “जैसे ही मैंने मुकेश अंबानी के खिलाफ आवाज़ उठाई, कांग्रेस और बीजेपी एक साथ हो गईं”.

 

उन्होंने कहा, “हमने जनता से पूछकर सरकार बनाई. हमारा सबसे बड़ा वादा था कि हम जनलोकपाल बिल पास करेंगे. भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ सख़्त क़ानून बनाएंगे. लेकिन आज विधानसभा में जनलोकपाल बिल पेश करने की कोशिश की गई तो बीजेपी और कांग्रेस दोनों पार्टियाँ मिल गईं.”

केजरीवाल सरकार का अंत: 49 दिन, 49 कहानियां

 

केजरीवाल ने कहा, “सभी को यह तो पता है कि बीजेपी और कांग्रेस पर्दे के पीछे मिलते हैं और देश को मिलकर लूट रहे हैं लेकिन पिछले दो दिन में ये खेल भी सबके सामने आ गया. आज दोनों पार्टियों ने जनलोकपाल बिल विधानसभा में पेश ही नहीं होने दिया.”

 

उन्होंने कहा, “इन्होंने जनलोकपाल बिल गिरा दिया. ऐसा क्यों हैं? क्योंकि अभी तीन दिन पहले हम लोगों ने मुकेश अंबानी के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज़ की है. मुकेश अंबानी वो सख़्श हैं जो इस देश की सरकार चलाते हैं.”

 

अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के सीएम पद से दिया इस्तीफा, विधानसभा भंगकर चुनाव की मांग की 

केजरीवाल का इस्तीफा देना तय है, क्या इस तरह उनका इस्तीफा देना सही होगा?

 

अब तक बीजेपी पर हमला करने से बचते रहे केजरीवाल ने कहा,” मोदी के पास इतना पैसा कहां से आता हैं. हेलीकॉप्टर से घूमते हैं, इतनी बड़ी बड़ी रैलियाँ करते हैं? पैसा आता है क्योंकि मुकेश अंबानी उनके पीछे हैं.”

 

जनता को अपनी ओर खींचने की कोशिश करते हुए कहा,” दोस्तों, मैं बहुत छोटा आदमी हूँ. मैं यहाँ कुर्सी के लिए नहीं आया हूँ. मैं यहाँ जनलोकपाल बिल के लिए आया हूँ. आज लोकपाल बिल गिर गया है और हमारी सरकार इस्तीफ़ा देती है.”

 

हालांकि, अपने भाषण में वे फिर से दिल्ली की गद्दी हासिल करने को लेकर आतुर दिखे, और उन्होंने कहा कि दिल्ली विधानसभा को भंग करके तुरंत चुनाव कराय जाएं.

 

केजरीवाल के इस्तीफा पर क्या कहते हैं योगेंद्र यादव!

केजरीवाल का मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा:

 

सूत्रों से जानकारी मिल रही है कि गृह मंत्रालय उनके इस आग्रह को ठुकरा देगा. केजरीवाल ने पूछा कि क्या केंद्र सरकार अंग्रेज़ों की सरकार है और दिल्ली के उपराज्यपाल उनके वॉयसराय हैं?

 

 

इससे पहले, जनलोकपाल बिल को लेकर आज दिन भर दिल्ली विधानसभा में ज़ोरदार हंगामा होता रहा है और भारी ड्रामे और हंगामे के बीच एक बार केजरीवाल के मंत्रियों ने बिल पेश करने का दावा किया, जबकि विपक्षी बीजेपी और कांग्रेस ने खारिज कर दिया.

 

100 बार क्या 1000 बार सीएम की कुर्सी कुर्बान है: केजरीवाल

 

इसके बाद स्पीकर ने बिल पेश करने के लिए सदन की इजाजत मांगी और उसपर वोटिंग हुई जिसमें 24 के बजाए 42 वोटों से बिल करने का प्रस्ताव नकार दिया गया.

 

इस्तीफे पर ‘आप’ ने मीटिंग बुलाई, सुने प्रतिक्रिया 

 

आपको बता दें कि बीते दिनों केजरीवाल ने साफ कहा था कि अगर वे दिल्ली जनलोकपाल बिल पास नहीं करा सके तो वे अपनी कुर्सी 1000 बार कुर्बान करने को तैयार हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के सीएम पद से दिया इस्तीफा, विधानसभा भंगकर चुनाव की मांग की
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017