आईएनएस विक्रमादित्य ‘सक्रिय रूप से तैनात’: नौसेना प्रमुख

आईएनएस विक्रमादित्य ‘सक्रिय रूप से तैनात’: नौसेना प्रमुख

By: | Updated: 07 May 2014 11:43 AM

कोच्चि: नौसेना प्रमुख एडमिरल रॉबिन धोवन ने आज कहा कि भारत के सबसे बड़े विमानवाहक युद्धपोत आईएनएस विक्रमादित्य को मिग 29के विमानों के बेड़े के साथ ‘सक्रिय रूप से तैनात’ किया गया है.

 

धोवन ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘नौसेना ने आईएनएस विक्रमादित्य को अपने बेड़े में शामिल किया है जो अब मिग-29के विमानों के साथ के साथ सक्रिय रूप से तैनात है तथा भारतीय नौसेना के पायलट इस पर से उड़ान भर रहे हैं.’’

 

रूस से 44,500 टन का यह विमानवाहक पोत इसी साल जनवरी में भारत में पहुंचा था और फिलहाल कर्नाटक के करवार में मौजूद है. इस पर 2.33 अरब डॉलर की लागत आई है.

 

नौसेना के सूत्रों ने बताया कि हवाई हमलों के खिलाफ रक्षा से जुड़े हथियार भी इस पोत पर तैनात किए जाने की संभावना है. नौसेना प्रमुख ने कहा कि परमाणु पनडुब्बी आईएनएस चक्र, लंबी दूरी के पी-81आई, पनडुब्बी विरोधी युद्धक विमान पहले से ही नौसेना के बेड़े में शामिल किए जा चुके हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story पर्रिकर को मुंबई के अस्पताल से मिली छुट्टी, गोवा विधानसभा में किया बजट पेश