आडवाणी से मिले मोदी, लिया आशीर्वाद

By: | Last Updated: Thursday, 12 September 2013 9:43 PM
आडवाणी से मिले मोदी, लिया आशीर्वाद

06:55 PM: आडवाणी के घर के लिए
निकले नरेंद्र मोदी.

06:46 PM: कार्यकर्ता दे रहे हैं
मोदी को बधाई, बंट रही हैं
मिठाइयां.

06:46 PM: आडवाणी ने राजनाथ के
प्रति नाराज़गी भरी चिट्ठी
लिखी.

06:43 PM: आडवाणी ने लिखी राजनाथ
सिंह को चिट्ठी.

06:40 PM: एनडीए के सभी घटक दलों
ने लगाई मोदी के नाम पर मुहर:
राजनाथ

06:40 PM: मोदी ने सभी को
धन्यवाद दिया.

06:39 PM: संकट से देश को
निकालने की उम्मीद: मोदी

06:33 PM: 2014 में बीजेपी की जीत के
लिए प्रयास करूंगा: मोदी

06:31 PM: मुरली मनोहर जोशी,
सुषमा स्वराज, नितिन गडकरी,
रविशंकर प्रसाद समेत कई
नेताओं ने मोदी को दी
बधाइयां.

06:30 PM: आडवाणी का आशीर्वाद
लेने के लिए उनके आवास पर
जाएंगे मोदी: राजनाथ

06:29 PM: आडवाणी की गैरमौजूदगी
में हुई घोषणा.

06:28 PM: बीजेपी अध्यक्ष
राजनाथ सिंह ने की घोषणा.

06:27 PM: नरेंद्र मोदी बीजेपी
की ओर से पीएम उम्मीदवार
घोषित.

06:26 PM: मोदी को पीएम
उम्मीदवार बनाने का फैसला.

06:21 PM: बीजेपी मुख्यालय
पहुंचे नरेंद्र मोदी.

06:09 PM: बीजेपी संसदीय बोर्ड
की बैठक जारी.

06:09 PM: मोदी, अमित शाह बीजेपी
मुख्यालय के लिए निकले.

06:08 PM: बैठक
में हिस्सा नहीं लेंगे
आडवाणी.

05:30 PM: लालकृष्ण
आडवाणी भी संसदीय बैठक में
हिस्सा लेने के लिए घर से
निकल चुके हैं. 

05:00 PM: बीजेपी की
संसदीय बैठक 
शुरू
होगी 
. 

05:00 PM: दिल्ली बीजेपी
दफ्तर के बाहर मोदी के समर्थक
डांस कर रहे हैं.

04:20: थोड़ी देर में
नरेंद्र मोदी दिल्ली
पहुंचने वाले हैं.

02:30 PM: ताजपोशी के लिए
मोदी अहमदाबाद से दिल्ली के
लिए रवाना हो गए हैं.

02:01 PM: सूत्रों के मुताबिक
बीजेपी अध्यक्ष राजनाथ सिंह
ने थोड़ी देर पहले शिवसेना
नेता उद्धव ठाकरे और अकाली दल
बादल के नेता प्रकाश सिंह
बादल को फोन करके बीजेपी के
फैसले की जानकारी दी है.

01:51 PM: उधर, आडवाणी के घर से
निकली सुषमा स्वराज ने कहा है
कि बातचीत का दौर जारी है और
अभी संसदीय बोर्ड के फैसले का
समय तय नहीं है.

01:45 PM: अब तक पूरी तरह से साफ
नहीं है कि आडवाणी का रुख
क्या है और क्या वे मान गए हैं.

01:30 PM:  इस बीच खबर है कि मोदी
विशेष विमान से दिल्ली आ रहे
हैं और सबसे पहले उनका विरोध
कर रहे आडवाणी के घर जाएंगे.
गडकरी,  सुषमा और अनंत कुमार
आडवाणी के घर पहुंचे हैं. तो
सवाल है कि क्या आडवाणी मान
गए हैं?

याद रहे कि लालकृष्ण
आडवाणी और कुछ दूसरे वरिष्ठ
नेताओं के विरोध के बावजूद
आरएसएस से हरी झंडी मिलने के
बाद बीजेपी ने मोदी को
प्रधानमंत्री पद का
उम्मीदवार घोषित करने के
मुद्दे पर फैसला करने के मकसद
से आज शाम पांच बजे संसदीय
बोर्ड की बैठक बुलाई है. इस
बैठक के बाद मोदी के नाम का
सार्वजनिक एलान किया जाएगा.

इससे पहले, बीजेपी अध्यक्ष
राजनाथ सिंह, अनंत कुमार, एम
वैंकेया नायडू और नितिन
गडकरी ने आडवाणी को मनाने का
प्रयास किया, लेकिन बीजेपी के
वरिष्ठ नेता अपने रूख पर अडिग
रहे थे. ये सभी नेता संसदीय
बोर्ड में शामिल हैं.

बदलते घटनाक्रम

कल का दिन घटनाक्रम से भरा
रहा और अनंत कुमार ने सुषमा
स्वराज से मुलाकात की. कहा जा
रहा है कि सुषमा भी आडवाणी की
तरह यह नहीं चाहती हैं कि
मोदी के नाम का ऐलान मध्य
प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान,
दिल्ली और मिजोरम के
विधानसभा चुनावों से पहले हो.

राजनाथ सिंह ने मोदी के नाम
पर मनाने के मकसद से सुषमा
स्वराज से देर शाम मुलाकात
की, लेकिन लोकसभा में नेता
प्रतिपक्ष ने इस बात पर जोर
दिया कि कोई भी फैसला संसदीय
बोर्ड की बैठक में ही किया
जाए.

पार्टी के पूर्व अध्यक्ष
नितिन गडकरी भी देर रात
दिल्ली पहुंचे और आडवाणी से
मुलाकात की. खबर है कि
उन्होंने आडवाणी को इस बात से
अवगत कराया कि मोदी को संघ का
समर्थन है.

चलती रही गतिविधियां?

इधर दिल्ली में आडवाणी और
दूसरे बड़े नेताओं का
मान-मनौव्वल जारी है उधर मोदी
के करीबी सूत्रों के मुताबिक
उनका अभी तक दिल्ली जाने का
कोई कार्यक्रम नहीं है.

मोदी के अबतक के कार्यक्रम के
मुताबिक पहले वो गांधीनगर
में तीन शासकीय बैठकों में
भाग लेंगें. उसके बाद शाम को
अहमदाबाद में केरल के रहने
वाले मुमताज अली खान के किताब
का विमोचन करेंगे.

मोदी के मुद्दे पर आरएसएस ने
फिर निर्णायक भूमिका निभाई
है. राजनाथ सिंह ने संघ
मख्यालय जाकर आरएसएस में
नंबर दो की हैसियत रखनेवाले
भैया जी जोशी से मुलाकात की.
सूत्रों के मुताबिक वहीं पर
तय हुआ कि आज मोदी के नाम का
एलान किया जाए.

नितिन गडकरी ने रात में
आडवाणी से मुलाकात करके
उन्हें मोदी के मुद्दे पर
मनाने की कोशिश की लेकिन
सूत्रों के मुताबिक गडकरी की
कोशिश कामयाब नहीं हो पाई. अब
गडकरी राजनाथ सिंह से
मुलाकात करेंगे.

सूत्रों के मुताबिक पार्टी
अंतिम समय तक कोशिश करेगी कि
मोदी के नाम पर आडवाणी को
राजी कर लिया जाए, लेकिन फिर
भी आडवाणी नहीं मानते हैं तो
भी मोदी के नाम का आज एलान
किया जाएगा.

आज सुषमा स्वराज का अंबाला
में कार्यक्रम था, लेकिन
बीजेपी संसदीय दल की बैठक में
हिस्सा लेने के लिए उन्होंने
अंबाला का अपना कार्यक्रम
रद्द कर दिया है.

मोदी के समर्थन का कारण

नरेंद्र
मोदी के पैरोकारों का मानना
है कि मोदी को प्रत्याशी बनाए
जाने से कांग्रेस के खिलाफ
मुहिम तैयार करने में मदद
मिलेगी और लोगों की भावना
पार्टी के पक्ष में हो सकेगा.

लेकिन
पूर्व प्रधानमंत्री अटल
बिहारी वाजपेयी और आडवाणी के
करीबी रह चुके सुधींद्र
कुलकर्णी ने नरेंद्र मोदी पर
अपनी ही पार्टी में
ध्रुवीकरण करने का आरोप
लगाया और केंद्र में सरकार का
नेतृत्व करने की उनकी क्षमता
पर सवाल खड़ा किया.

उन्होंने
ट्वीट किया है, “समाज में
ध्रुवीकरण करने वाले नेता ने
अपनी ही पार्टी में
ध्रुवीकरण किया है. क्या वे
केंद्र में सहज, स्थायी और
प्रभावी सरकार दे सकेंगे?
गंभीरता से विचारिए.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: आडवाणी से मिले मोदी, लिया आशीर्वाद
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017