इतालवी मरीनों का मुद्दा भारत के साथ उठाएंगे यूएन महासभा के अध्यक्ष

By: | Last Updated: Wednesday, 19 March 2014 6:36 AM

संयुक्त राष्ट्र: यूएन महासभा के अध्यक्ष जॉन ऐशे ने इटली को सूचित किया है कि वे उन दो इतालवी मरीनों का मुद्दा भारत के सामने उठाएंगे, जिनपर दो भारतीय मछुआरों की हत्या का मुकदमा चल रहा है. महासभा अध्यक्ष की तीन दिवसीय यात्रा आज से शुरू हो रही है. इटली के उपप्रधानमंत्री और गृहमंत्री एंजेलीनो अल्फानो ने सोमवार को ऐशे से मुलाकात की और ‘‘उन्हें मरीनों के दो साल पुराने मामले की वर्तमान स्थिति के बारे में बताया.’’

 

ऐशे के प्रवक्ता की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘‘जवाब में, अध्यक्ष ऐशे ने मंत्री को बताया कि जल्द ही होने वाली भारत यात्रा के दौरान उन्हें इस मुद्दे को उठाने का जो भी अवसर मिलेगा, उसे लेकर वे सचेत रहेंगे.’’ ऐशे 19 मार्च से 22 मार्च तक भारत की यात्रा करेंगे. इस दौरान वह प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद से भी मुलाकात कर सकते हैं.

 

अल्फानो ने यूएन प्रमुख बान की-मून से भी मुलाकात की लेकिन बान के प्रवक्ता के कार्यालय से मिली सूचना के अनुसार, उन दोनों की मुलाकात में इतालवी मरीनों और भारत में उनपर मुकदमे का कोई जिक्र नहीं किया गया. बान से मुलाकात से पहले अल्फानो ने कहा था कि इटली चाहता है कि मरीनों पर मुकदमा उसके यहां ही चलाया जाए. ‘‘साथ ही हमने उनकी रिहाई की भी बात की थी.’’

 

इटली के दो मरीनों मासिमिलियानो लातोरे और सल्वातोरे गिरोने ने केरल तट पर फरवरी 2012 में दो भारतीय मछुआरों को गोली मार दी थी. इस घटना के बाद भारत और इटली के बीच कूटनीतिक तनाव पैदा हो गया था. इटली के झंडे तले तेल के टैंकर एमटी एनरिका लेक्सी पर तैनात मरीनों ने कहा कि उन्होंने इन मछुआरों को गलती से समुद्री डाकू समझ लिया था. इतालवी मरीन अपनी सुनवाई के इंतजार में फिलहाल नयी दिल्ली स्थित इतालवी दूतावास में रह रहे हैं.

 

भारत ने फांसी की संभावना को तो हटा दिया है लेकिन इस बात पर जोर दिया है कि मरीनों के खिलाफ समुद्री डकैती निरोधी कानून के तहत मामला चलाया जाएगा. इससे उन्हें 10 साल तक की जेल हो सकती है. इटली ने कहा है कि मरीनों पर मुकदमा इटली में ही चलाया जाना चाहिए क्योंकि यह घटना अंतरराष्ट्रीय जल क्षेत्र में हुई. हालांकि नयी दिल्ली का कहना है कि उसे इतालवी मरीनों पर मुकदमा चलाने का अधिकार है क्योंकि मारे जाने वाले मछुआरे भारतीय नागरिक थे और भारतीय नाव पर सवार थे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: इतालवी मरीनों का मुद्दा भारत के साथ उठाएंगे यूएन महासभा के अध्यक्ष
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017