इराक में फंसे 16 भारतीयों को बाहर निकाला गया, एक भारतीय अपहर्ताओं के चंगुल से छूटा

By: | Last Updated: Saturday, 21 June 2014 2:52 AM

नई दिल्ली: इराक के हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में फंसे 16 भारतीय नागरिकों को बाहर निकाल लिया गया है जबकि अगवा किए गए 40 भारतीयों में से एक व्यक्ति मोसुल शहर में अपहरणकर्ताओं के चंगुल से निकलने में कामयाब रहा है. मोसुल पर आतंकवादियों का नियंत्रण है. अगवा हुए 40 भारतीय नागरिकों से अभी तक कोई संपर्क नहीं हो पाया है. नागरिकों को सुरक्षित वापस लाने में भारत सरकार जुटी हुई है.

 

गुजरात के वलसाड के भी कई लोग इराक में फंसे हुए हैं. जिनके परिवारवाले उनकी घर वापसी लेकर चिंतित हैं. वलसाड के मालवान गाव के करीब 5 लोग अब भी इराक में हैं. इराक के फंसे विनेश पटेल के परिवार के लोग वॉट्स अप के जरिये बात कर रहे हैं. वलसाड के विनेश पटेल के परिवार ने कहा- विनेश पटेल को उसका पासपोर्ट देने के लिए इराकी कपंनी कॉन्ट्रैक्ट के मुताबिक 900 डॉलर की मांग कर रही है. पंजाब सरकार ने इराक में फंसे 200 से ज्यादा पंजाबियों के बारे विदेश मंत्रालय को जानकारी दी है.

 

पंजाब सरकार के प्रवासी भारतीय मामलों के मंत्री तोता सिंह ने कहा कि इरक में फंसे सभी पंजाबी सुरक्षित हैं. गुरूवार की रात ही गुरदासपुर के ही 6 युवक इराक से वापस लौटे हैं. सुरक्षित लौटने वालों के परिवारवालों ने राहत की सांस ली है. इराक से लौटे पंजाब के गुरदासपुर के जसवंत सिंह, बड़े बेटे की 11 दिन पहले हुई मौत से परिवार गमजदा है.

 

यूपी के गोरखपुर के संदीप जायसवाल और सत्यनाराण जायसवाल भी इराक में फंसे हुए हैं. घरवालों का रो रोकर बुरा हाल है. हिमाचल के कांगड़ा जिले के अलग -अलग गांवों के तीन युवक इराक में फंसे हुए हैं. परिवार वाले उनकी वापसी के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहे हैं.

 

इराक में अगवा हुए 40 भारतीय नागरिकों की सुरक्षित घर वापसी के लिए गुजरात के वडोदरा के नानकवादी गुरुद्वारा में प्रार्थना की गई. इराक में फंसे भारतीयों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक उच्च स्तरीय बैठक कर हालात का जायजा लिया.

 

संयुक्त राष्ट्र के जनरल सेक्रेटरी बान की मून ने कहा – इराक में हवाई हमले सही नहीं होंगे. इराक में सुन्नी चरमपंथी संगठन ISIS और सरकार समर्थक सेना के बीच बैजी तेल रिफायनरी और ताल अफेर एयरपोर्ट पर कब्जे को लेकर भीषण लड़ाई चल रही है.

 

लड़ाई के बीच ही इराकी सेना ने दावा किया है कि बैजी तेल रिफायनरी पर उनका कब्जा बरकरार है.