उत्तराखंड में मुख्‍यमंत्री पद को लेकर माथापच्‍ची जारी

उत्तराखंड में मुख्‍यमंत्री पद को लेकर माथापच्‍ची जारी

By: | Updated: 09 Mar 2012 08:57 PM


देहरादून:
उत्तराखंड में कांग्रेस की
सरकार बनना तो तय हो गया है,
लेकिन अब मुख्यमंत्री पद को
लेकर मामला फंसा हुआ है.
कांग्रेस में इसके कई
दावेदार हैं. ऐसे में सवाल
उठता है कौन बनेगा उत्तराखंड
का मुख्यमंत्री.

कांग्रेस
अभी तक यह तय नहीं कर पाई है कि
कमान किसे सौंपी जाए. आज
गुलाम नबी आजाद केंद्रीय
पर्यवेक्षक के तौर पर चुने गए
विधायकों की राय जानेंगे.

मुख्यमंत्री
के लिए किसी एक नाम पर सहमति
बना पाना कांग्रेस के लिए
आसान नजर नहीं आ रहा. क्योंकि
इस मुद्दे पर संसदीय कार्य
राज्यमंत्री हरीश रावत,
पूर्व केंद्रीय मंत्री
सतपाल महाराज, सांसद विजय
बहुगुणा और प्रदेश कांग्रेस
अध्यक्ष यशपाल आर्य का
अलग-अलग खेमा है.

इनके
अलावा राज्य में विपक्ष के
नेता रहे हरक सिंह रावत और
वरिष्ठ नेता इंदिरा हृदयेश
का नाम भी विधायक दल के नेता
के तौर पर सामने आ चुका है.

70
सदस्यीय उत्तराखंड विधानसभा
में कांग्रेस के 32 विधायक
जीतकर आए हैं. तीन निर्दलीय
और एक उत्तराखंड क्रांति दल
के विधायक के समर्थन के साथ
कांग्रेस ने सरकार बनाने के
लिए बहुमत जुटाने में बीजेपी
से बाजी मार ली है. राज्यपाल
मार्गेट अल्वा भी कांग्रेस
के इस दावे से संतुष्ट हैं कि
उसके पास सरकार बनाने के लिए
बहुमत है.

अब कांग्रेस
विधायक दल की बैठक में नेता
का चुनाव होने पर सरकार बनाने
का दावा पेश किया जाएगा.
लेकिन सरकार बनने पर भी
कांग्रेस की राह आसान नहीं
होगी. क्योंकि निर्दलीयों के
सहारे बनी सरकार हमेशा तलवार
की धार पर ही रहेगी.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story अंग्रेजी मीडियम से पढ़ा, इंजिनियर है तौकीर कुरैशी, कई बम धमाकों में शामिल था ये मोस्ट वॉन्टेड आतंकी