उमर अब्दुल्ला की राहुल गांधी को सलाह: टीवी इंटरव्यू में जो कुछ कहा, उससे पीछे मत हटिए

By: | Last Updated: Saturday, 8 March 2014 12:20 PM

नई दिल्ली: किसी चैनल पर एक साक्षात्कार देने के बाद पीछे नहीं हटिए. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ये सलाह दी है.

 

उमर ने कहा कि मैं उन्हें (राहुल को) ये कहना चाहता हूं कि किसी चैनल पर साक्षात्कार देने के बाद पीछे नहीं हटिए. उनको मेरी सलाह है कि उन्होंने जो एक चैनल के साथ किया है, वह आगे बढ़ने में तथा कुछ और करने में मददगार होगा. मुझे ये बात साझा करने में कोई हिचकिचाहट नहीं है.

 

उमर ने यहां इंडिया टूडे कॉनक्लेव में कहा, ‘‘ये उनके लिए अच्छा होगा और हम सभी के लिए अच्छा होगा.’’ दरअसल, उमर से यह पूछा गया कि ऐसी कौन सी सलाह है जो वह राहुल गांधी को देना चाहते हैं.

 

हालांकि, राहुल के साक्षात्कार की प्रतिद्वंद्वी पार्टियों ने आलोचना की थी और कांग्रेस में कुलबुलाहट पैदा कर दी थी. मुख्यमंत्री ने कहा कि वो और राहुल अक्सर राजनीति पर चर्चा करते हैं.

 

उमर ने कहा, ‘‘ये असंभव है कि राजनीति पर बात नहीं जाए. बेशक हम करेंगे. लेकिन क्या मैं खुद को सलाहकारों में शामिल करने पर विचार कर रहा हूं, नहीं.’’

 

उमर ने आम चुनाव के बाद साफ तौर पर राजग गठबंधन में शामिल होने के विचार को खारिज किया और साफ कर दिया कि उनकी पार्टी नेशनल कान्फ्रेंस पहले राजग का सहयोगी दल सिर्फ पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की वजह से रही.

 

उन्होंने कहा, ‘‘राजग में हमारे शामिल होने का फैसला सिर्फ वाजपेयी की वजह से था. हम आज भाजपा में किसी को भी नहीं देखते हैं जो उनके करीब भी ठहरता है और इसलिए नेशनल कान्फ्रेंस के राजग के साथ गठबंधन करने का सवाल ही नहीं उठता.’’ राज्य में हालात के बारे में चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जम्मू कश्मीर में हालात भले ही सामान्य नहीं हो लेकिन वे ‘‘सामान्य होने के बेहद करीब’’ पहुंच रहे हैं.

 

ये पूछे जाने पर कि युवा कश्मीरियों के लिए उनका क्या संदेश होगा तो उमर ने कहा, ‘‘मैं उनके जीवन से अनिश्चितता निकालना चाहता हूं. ये तथ्य है कि वे अनिश्चितता के सहारे बड़े हुए हैं. कश्मीर के भविष्य के बारे में अनिश्चितता, अपने भविष्य के बारे में अनिश्चितता के सहारे बड़े हुए हैं.’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरठ में कश्मीरी छात्रों के खिलाफ राजद्रोह के आरोप लगाना बेहद कठोर था.

 

उन्होंने कहा, ‘‘जो कुछ भी उन्होंने किया वह दिग्भ्रमित होकर किया. मैं बल्कि यह कहूंगा कि जो उन्होंने किया वह गलत था. एक तरफ वे भारत के प्रधानमंत्री से छात्रवृत्ति ले रहे हैं और दूसरी तरफ वे इस तरह से समर्थन कर रहे हैं.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: उमर अब्दुल्ला की राहुल गांधी को सलाह: टीवी इंटरव्यू में जो कुछ कहा, उससे पीछे मत हटिए
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ele2014
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017