'एंडरसन की रिहाई के लिए नरसिम्हाराव जिम्मेदार'

'एंडरसन की रिहाई के लिए नरसिम्हाराव जिम्मेदार'

By: | Updated: 03 Jul 2012 05:27 AM


भोपाल:
भोपाल गैस कांड के ठंडे पड़े
मामले ने एक बार फिर सिर
उठाया है. मध्यप्रदेश के
पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत
अर्जुन सिंह की किताब में
वारेन एंडरसन की रिहाई के
लिये पीवी नरसिंहराव को
जिम्मेदार बताया गया है.




हालांकि गैस पीड़ित संगठन और
गैस राहत मंत्री मान रहे हैं
कि अर्जुन सिंह अर्धसत्य बता
रहे हैं एंडरसन की रिहाई
तत्कालीन प्रधानमंत्री
राजीव गांधी के कहने पर ही
हुई थी.




भोपाल गैस कांड के 27 साल बाद
भी ये गुत्थी उलझी है कि
यूनियन कार्बाइड के चेयरमैन
वारेन एंडरसन को किसके कहने
पर रिहा किया गया.




कांग्रेस नेता और पूर्व
मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह की
आने वाली नई किताब 'ए ग्रेन ऑफ
सेंड इन द आवरग्लास ऑफ टाइम'
ने इस घटना का जिक्र कर नये
तथ्य सामने रखे हैं.




अर्जुन सिंह के मुताबिक सात
दिसंबर 1984 को एंडरसन की
गिरफ्तारी कर ली गई थी. इसकी
जानकारी प्रधानमंत्री राजीव
गांधी को भी उन्होनें दी थी
जो खंडवा के दौरे पर थे.
अर्जुन सिंह बताते हैं कि उसी
दिन मुख्य सचिव ब्रहमस्वरूप
के पास गृह मंत्रालय के सचिव
का फोन आया और एंडरसन को
जमानत पर रिहा कर राजकीय
विमान से दिल्ली भेजने का
आदेश आया. ये आदेश संभवत गृह
मंत्री पीवी नरसिंहराव के
कहने पर आया.

गैस
पीड़ितों की लड़ाई लड़ने
वाले इस बात को पूर्व
मुख्यमंत्री का झूठ कह रहे
हैं. भोपाल गैस पीडित महिला
उद्योग संगठन के अब्दुल
जब्बार ने कहा कि ये अर्धसत्य
है और अर्जुन सिंह स्वामी
भक्ति दिखा रहे हैं.




भोपाल गैस पीड़ितों के लिये
संघर्ष करने वालों का मानना
है कि अर्जुन सिंह अपने नेता
राजीव गांधी को बचा रहे हैं.




इस बड़े मामले में गृह
मंत्रालय ने प्रधानमंत्री
कार्यालय की सलाह पर ही ये
काम किया होगा. इसलिये एंडरसन
की रिहाई में राजीव गांधी को
क्लीन चिट नहीं दी जा सकती.
मध्यप्रदेश सरकार के गैस
राहत मंत्री भी यही मानते
हैं.




एमपी के गैस राहत मंत्री
बाबूलाल गौर ने कहा कि अर्जुन
सिंह आधी बात बता रहे हैं,
ज़रूर पीएम ने इस बाबत
निर्देश दिया होगा.




अर्जुन सिंह की किताब में आए
खुलासे ने ठंडे पड़े मामले को
गर्मा दिया है. एंडरसन को
किसने रिहा किया इस पर बहस हो
रही है मगर उसकी गिरफ्तारी
कैसे हो इस पर बात नहीं की जा
रही.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story 20 MLA की छु्टी पर केजरीवाल ने ट्वीट में नर्म तो जनता के सामने दिखाए सख्त तेवर