एक थी सुनंदा!

By: | Last Updated: Friday, 17 January 2014 5:19 PM

सुनंदा की कहानी शुरू होती है जम्मू-कश्मीर के जिले बारामूला से. श्रीनगर से 63 किलोमीटर दूर सोपोर इलाके में है एक छोटा सा गांव बुमई. सोपोर के छोटे से गांव से निकल कर सुनंदा देश भर में चर्चित हुई. तीन शादियां, एक हाईप्रोफाइल केस में विवाद और अंतर्राष्ट्रीय शख्सियत शशि थरूर से रिश्ता. पिछले चार साल से सुनंदा देश में कई बार सुर्खियां बनीं.

 

सोपोर के बुमई से निकली सुनंदा

 

सुनंदा का जन्म जून 1964 में बुमई में ही हुआ था. दो भाइयों में इकलौती बहन होने के कारण सुनंदा मां-बाप कि लाडली रही. घर का नाम था पिंकी. सुनंदा का परिवार गांव के जमींदारों में शामिल था. परिवार के पास बीस एकड़ से ज्यादा जमीन थी और कई एकड़ में फैले हुए सेब के बाग भी. खेती की परंपरा से अलग पिता पुष्कर दास सेना में भर्ती हुए और बेटी ने अलग राह चुन कर नाम कमाया.

 

सोपोर से श्रीनगर का सफर

 

सुनंदा की पढाई श्रीनगर में हुई. श्रीनगर के प्रिटेन्टेशन कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ाई की. 1983 में श्रीनगर में होटल कॉरपोरशन ने अपना होटल खोला, नाम रखा गया सेन्चोएर लेक व्यू होटल. सुनंदा उस वक्त तक महज 19 साल की थी लेकिन उसने इतनी छोटी उम्र में अपने पैरों पर खड़ा होने का फैसला कर लिया. फरवरी 1984 में होटल में नौकरी कर ली. उसे नौकरी मिले होटल रिसेप्शनिस्ट की.

 

सुनंदा की तीन शादियां

 

इस होटल में सुनंदा को पहला प्यार हुआ नाम था संजय रैना. बीस साल की उम्र में शादी और 21 की उम्र में तलाक. इसके बाद सुनंदा जिंदगी के अगला पड़ाव की तरफ बढ़ गई. 1985 में श्रीनगर के गर्वरमेंट कॉलेज फॉर वूमेन से  बीए की पढ़ाई पूरी की. बीए के बाद दिल्ली पहुंच कर सुनंदा ने होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा लिया. इसी दौरान सुनंदा की मुलाकात हुई केरल के व्यवसायी सुजीत मेनन से.

 

सुजीत दुबई में फायर फाइटिंग के इक्विपमेंट का कारोबार करते थे. सुनंदा भी दुबई चली गईं. लेकिन कुछ सुजीत मेनन का काम नहीं चला कुछ वक्त वाद वो केरल लौट गए और कुछ दिन बाद उनका निधन हो गया. वहीं पत्रिका आउटलुक के मुताबिक मेनन की दुर्घटना में मौत नहीं हुई थी बल्कि उन्होंने खुदकुशी की थी.

 

इसके बाद सुनंदा कुछ वक्त के लिए टोरंटो चली गईं. और फिर दुबई में ही बस गईं. सुनंदा की तीसरी शादी शशि थरूर से हुई लेकिन जबरदस्त विवादों के बाद.

 

दुबई से जुड़ा थरूर का साथ

 

1990 में दुबई पहुंची सोपोर की पिंकी देखते ही देखते ‘सू”  के नए नाम से जानी जाने लगी और और दुबई के पेज थ्री सर्किल को कवर करने वाले मसाला डॉट कॉम पर अक्सर नजर आने लगी. मेल टुडे के मुताबिक सुनंदा ने दुबई की कई कंपनियों में ऐसी नौकरियां की जिन्हें मिडिल मैनेजमेंट से ऊपर नहीं माना जा सकता है. पहले विज्ञापन, फिर पर्यटन और इसके बाद रियल इस्टेट कंपनी टेकॉम इन्वस्टमेंट. 2005 से “सू” टेकॉम से जुड़ी 2010 तक . अखबार मेल टुडे के मुताबिक थरूर और सुनंदा की मुलाकात जीइएमएस एजुकेशन के चेयरमेन सनी वर्के के जरिए हुई. पद्मश्री पुरस्कार ले चुके सनी वर्के संयुक्त अरब अमीरात में स्कूल चलानेवाली एक बड़ी संस्था के कर्ताधर्ता हैं. सनी वर्के ने ही पहली बार सुनंदा पुष्कर को शशि थरूर से मिलाया. इसके बाद सुनंदा और थरूर की पहचान गहरी होती चली गई. 

 

आईपीएल का विवाद

 

दौलतमंद और ऊंची पहुंच रखवाले नामचीन लोगों के बीच सुनंदा पुष्कर की पैठ दिनों दिन बढ़ती गई. लेकिन सुनंदा और शशि थरूर की नजदीकी की खबर बहुत कम लोगों को ही थी. आईपीएल में कोच्चि टीम का विवाद न खड़ा हुआ होता. तो शायद सुनंदा पुष्कर का नाम दुनिया के सामने नहीं आता. और जब नाम सामने आया तो सुर्खियों में आ गया सुनंदा और शशि थरूर का रिश्ता. तत्कालीन आईपीएल चैयरमैन ललित मोदी ने खुलासा किया था कि सुनंदा पुष्कर की हिस्सेदारी रॉन्देवू टीम में है जिसका नाता कोच्चि टीम के साथ था. सामने ये भी आया कि थरूर ने ही कोच्चि टीम के लिए मदद का हाथ बढाया था. विवाद का असर ये हुआ कि करीब सुनंदा को करीब 70 करोड़ के शेयर वापिस करने पड़े. शशि थरूर को विदेश राज्य मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा और कोच्चि टीम को आईपीएल से बाहर कर दिया गया.

 

शशि थरूर से शादी

 

सुनंदा की दो शादियां हो चुकी थीं वहीं थरूर का भी सुनंदा से पहले दो बार रिश्ता टूट चुका था. लेकिन साल 2010 में दोनों ने शादी कर ली.

 

पाकिस्तान पत्रकार से संबंध पर विवाद

 

शादी के बाद 2014 तक सब सही था अचानक शशि थरूर के ट्विटर एकाउंट से कुछ ट्विट हुए. जिसे पहले थरूर ने फर्जी बताया जबकि सुनंदा ने बाद में बताया कि ये उनसे किया था ताकि पाकिस्तान पत्रकार मेहर तरार की थरूर से संबंध जोड़ने की कोशिशों का खुलासा हो सके. ये मामला शांत ही हुआ था कि अचानक सुनंदा की मौत की खबर आ गई.

 

www.facebook.com/manishkumars1976

twitter @manishkumars

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: एक थी सुनंदा!
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017