ओपिनियन पोल पर केजरीवाल ने उठाए सवाल, कहा-पिछले एक साल के सभी ओपिनियन पोल की जांच हो

By: | Last Updated: Wednesday, 26 February 2014 11:24 AM

नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने ओपिनियन पोल पर सवाल उठाते हुए मीडिया को सवालों के घेरे में खड़ा किया है.

 

अरविंद केजरीवाल ने आज प्रेस कांफ्रेस कर सर्वे एजेंसियों का स्टिंग दिखाने वाले न्यूज एक्सप्रेस चैनल के स्टिंग की जांच एनबीए से कराने की मांग की है. इस स्टिंग में सर्वे एजेंसियों को पैसा देकर हेरफेर का आरोप लगाया गया था.

 

 

केजरीवाल ने बीजेपी पर राजनीतिक साजिश का आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने किस-किस चैनल को कितने पैसे बांटे. इसकी जांच SIT से कराई जाए. यही नहीं केजरीवाल ने ये भी मांग की कि संपादकों की आय बताई जाए. हालांकि न्यूज एक्सप्रेस चैनल के एडिटर इन चीफ विनोद कापडी का कहना है कि कोई भी गलत डाटा चैनल पर नहीं दिखाया गया.

 

केजरीवाल ने कहा कि राजनीतिक साजिश चल रही है. मोदी से पूछा कि बीजेपी ने मीडिया घरानों को ओपिनियन पोल के लिए कितने और कब कब पैसे दिये हैं. मीडिया भी अपने आय व्यय का ब्यौरा दे. मीडिया हाउस में किसका कितना पैसा लगा है. इसे भी सार्वजनिक किया जाए.

 

केजरीवाल ओपनियन की विश्वसनीयता पर सवाल उठा रहे हैं लेकिन जिस चैनल ने स्टिंग ऑपरेशन कर पूरा खुलासा किया है उस चैनल ने भी केजरीवाल के दावे पर सवाल उठाए हैं. चैनल के एडिटर इन चीफ ने कहा है कि कोई भी गलत डाटा चैनल पर नहीं दिखाया गया है.

 

गौरतलब है कि न्यूज एक्सप्रेस चैनल ने ऑपरेशन प्राइम मिनिस्टर के नाम से स्टिंग ऑपरेशन किया जिसमें दावा किया गया है कि सर्वे करने वाली 11 एजेंसियां पार्टियों के कहने पर हेरफेर के लिए राजी हैं. लेकिन देशभर में सर्वे करने वाली दो बड़ी एजेंसियां नीलसन और सीएसडीएस ने साफ इनकार कर दिया था.

 

आपको बता दें कि नीलसन एबीपी न्यूज के लिए ओपिनियन पोल करता है जबकि सीएसडीएस सीएनएन-आईबीएन के लिए सर्वे के आंकड़े उपलब्ध कराती है. राजनीतिक कार्यकर्ता के तौर पर स्टिंग करने वाले पत्रकार सर्वे करने वाली एजेंसियों से मिले थे और इसमें मीडिया की कोई भूमिका नहीं थी. 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ओपिनियन पोल पर केजरीवाल ने उठाए सवाल, कहा-पिछले एक साल के सभी ओपिनियन पोल की जांच हो
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017