औंधें मुंह गिर रही जीडीपी है असल परेशानी

औंधें मुंह गिर रही जीडीपी है असल परेशानी

By: | Updated: 31 May 2012 07:25 AM


नई दिल्ली: भारत बंद का
पूरे देश में असर दिखा, लेकिन
बसों में आगजनी, तोड़फोड़,
सूनी सड़कों और सन्नाटे में
डूबे बाज़ारों के बीच चिंता
की जो बड़ी खबर आई है वो भारत
की खस्ता अर्थव्यवस्था का
नजारा पेश कर रही है.




जीडीपी यानि विकास दर औंधें
मुंह आ गिरी है. पिछले 9 साल
में जीडीपी की ऐसी बुरी हालत
कभी नहीं रही. 5.3 फीसदी विकास
दर के साथ देश एक ऐसे चौराहे
पर खड़ा है, जहां विकास की
तस्वीरों का रंग उड़ा हुआ नजर
आता है.




इस बंद के बहाने पेट्रोल के
दाम एक-दो रुपए घट भी गए तो आफत
का तूफान थमने वाला नहीं है.




ताजा आंकड़ों के मुताबिक
पिछली तिमाही में देश की
आर्थिक विकास दर इतनी कम हो
गयी है, जितनी पिछले नौ सालों
में कभी नहीं थी. जनवरी से
मार्च 2012 की तिमाही के दौरान
देश की जीडीपी यानि विकास दर
5.3 फीसदी रही है. नौ साल में
जीडीपी के ऐसी दुर्गति कभी
नहीं हुई. पिछले साल जनवरी से
मार्च की इसी तिमाही में ये
विकास दर 9.2 फीसदी रही थी.




गिरती हुई विकास दर के इस
आंकड़े से भले आप फौरी तौर पर
बेपरवाह हो जाएं लेकिन अगर
हालात यही रहे तो आने वाले
दिनों में ये आपकी कमर तोड़कर
रख देगा. कम से कम पांच पहाड़
टूटेंगे आपके ऊपर.




जीडीपी गिरने से नौकरी पर आफत
आ सकती है, कर्ज की ईएमआई बढ़
सकती है, महंगाई पर लगाम कसना
मुश्किल होगा, बचत कम हो
जाएगी और पढ़ाई-इलाज महंगा हो
जाएगा.




सिर्फ तीन साल पहले तक शेयर
बाजार की उछाल पर इतराने वाले
अर्थशास्त्री प्रधानमंत्री
मनमोहन सिंह के राज में टूटने
वाली है आम आदमी की कमर.,
क्योंकि अगर जीडीपी का यही
हाल रहा तो आमदनी अठन्नी और
खर्चा रुपैया के लिए तैयार हो
जाइए आप.




ऐसे में सवाल उठता है कि क्या
इस विरोध से वाकई कुछ बदलेगा.
क्योंकि देश की
अर्थव्यवस्था में लगी हुई
घुन घबराहट के नए संकेत दे
रही है. आफत के आने वाले इस
तूफान के बीच पेट्रोल की
कीमतें कुछ कम भी हो जाएं तो
बदलेगा क्या?          




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मुंबई: बेबी मोशे के साथ नरीमन हाउस पहुंचे इजरायल के पीएम नेतन्याहू