कांग्रेस का हाथ छोड़ जनता कमल खिलाने के मूड में

By: | Last Updated: Sunday, 20 May 2012 8:57 AM

नई दिल्ली: मनमोहन सिंह
के नेतृत्व वाली संयुक्त
प्रगतिशील गठबंधन यानी
यूपीए सरकार धीरे-धीरे ही
सही, लेकिन निश्चित तौर पर
अपनी ज़मीन खोती जा रही है.

यूपीए के सत्ता में तीन साल
तक बने रहने के मौके पर एबीपी
न्यूज़-नीलसन के सर्वे तो यही
चुग़ली कर रही है. यह सर्वे
देश के 28 शहरों में 9000 लोगों की
राय पर आधारित है.

सर्वे का कहना है कि अगर
लोकसभा के चुनाव अभी कराए
जाएं तो देश की 28 फीसदी जनता
बीजेपी की झोली में अपना मत
डाल देंगे, जबकि कांग्रेस
महज़ 21 फीसदी वोट ही हासिल कर
पाने में कामयाब रह पाएगी.

यानी यूपीए के तीन साल के सफर
में मतदाताओं का रुझान जहां
कांग्रेस से खिसक रहा है,
वहीं बीजेपी देश की सबसे
पसंदीदा पार्टी के तौर पर
सामने आती दिख रही है.

सर्वे ने दिलचस्प
रहस्योद्धाटन यह भी किया है
कि साल 2009 के लोकसभा चुनाव में
जिन मतदाताओं ने कांग्रेस
में विश्वास जाहिर किया था
उनमें से 69 फीसदी ही ऐसे हैं
जो अब भी कांग्रेस के साथ
खड़े हैं यानी अगर आज चुनाव
हुए तो कांग्रेस का हाथ थमाने
वालों में 31 फीसदी की गिरावट आ
जाएगी.

कांग्रेस के लिए परेशानी की
बात यह है कि उनके जो 31 फीसदी
वोटर नाराज़ हैं, उनमें से 12
फीसदी बीजेपी के कमल को
खिलाने का मन बना चुके हैं.
जबकि साल 2009 में जिन मतदाताओं
ने कमल पर अपना बटन दबाया था
उनमें 84 फीसदी आज भी कमल के
साथ खड़े हैं. जो 16 फीसदी
बीजेपी के दूर हो रहे हैं
उनमें सिर्फ दो फीसदी
कांग्रेस का हाथ थामना चाहते
हैं.
 
एबीपी न्यूज़- नीलसन
के इस ताज़ा सर्वे में जो
मतदाता शामिल हुए हैं, साल 2009
में उनके 28 फीसदी ने कांग्रेस
के पक्ष में वोट दिया था, जबकि
27 फीसदी ने बीजेपी का साथ दिया
था. यानी ताज़ा सर्वे में
कांग्रेस को आठ फीसदी का
नुकसान हो रहा है, लेकिन
बीजेपी को महज़ एक फीसदा का
फायदा हो रहा है. यानी
कांग्रेस से खिसकने वाला सात
फीसदी वोट स्थानीय
पार्टियों की झोली में जाता
दिख रहा है.

साल 2009 के लोकसभा चुनावों में
कांग्रेस ने 207 सीटों पर अपना
क़ब्ज़ा जमाया था, जबकि
बीजेपी के खाते में 116 सीटें
गई थीं.

सर्वे का ब्योरा

यह सर्वे 30 अप्रैल 2012 से 7 मई 2012
के बीच 28 शहरों में किया गया.
इस सर्वे में कुल 8878 मतदाताओं
की राय को शामिल किया गया है.

इस सर्वे में उस हिंदुस्तानी
महिला और पुरुष को शामिल किया
गया है, जिनकी उम्र 18 साल से
अधिक थी और उनके नाम वोटर
लिस्ट में दर्ज थे.

उत्तर भारत में यह सर्वे आठ
शहरों में किया गया. जिनके
नाम हैं: दिल्ली, लुधियाना,
जयपुर, लखनऊ, आगरा, चंडीगढ़,
इलाहाबाद और पटियाला.

दक्षिण भारत में यह सर्वे छह
शहरों में किया गया. जिनके
नाम हैं: चेन्नई, हैदराबाद,
बैंगलोर, कोच्चि, मदुराई और
विजयवाड़ा.

पूर्व भारत में यह सर्वे पांच
शहरों में किया गया. जिनके
नाम हैं: कोलकाता, जमशेदपुर,
पटना, भुवनेश्वर और गुवाहाटी.

पश्चिम भारत में यह सर्वे नौ
शहरों में किया गया. जिनके
नाम हैं: इंदौर, मुंबई, भोपाल,
अहमदाबाद, पुणे, रायपुर,
कोल्हापुर, नागपुर और
औरंगाबाद.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: कांग्रेस का हाथ छोड़ जनता कमल खिलाने के मूड में
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

राष्ट्रपति के पहले भाषण पर ही कांग्रेस ने उठाए सवाल, कहा-नेहरू का नाम नहीं लेना दुर्भाग्यपूर्ण
राष्ट्रपति के पहले भाषण पर ही कांग्रेस ने उठाए सवाल, कहा-नेहरू का नाम नहीं...

नई दिल्ली: देश के 14वें राष्ट्रपति के रूप में मंगलवार को शपथ ग्रहण करने वाले देश के पहले...

यूपी: SC के फैसले से शिक्षामित्रों के आए 'अच्छे दिन', नहीं हटाए जाएंगे असिस्टेंट टीचर
यूपी: SC के फैसले से शिक्षामित्रों के आए 'अच्छे दिन', नहीं हटाए जाएंगे...

नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट ने यूपी के पौने दो लाख शिक्षामित्रों को बड़ी...

वायरल सच: फ्री के फोन में जियो की बंपर कमाई का सच !
वायरल सच: फ्री के फोन में जियो की बंपर कमाई का सच !

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें, वीडियो और मैसेज वायरल होते हैं. इसके साथ ही कई चौंकाने...

चीन-पाकिस्तान के गठजोड़ से रहना होगा देश को सावधान : सह-सेनाध्यक्ष
चीन-पाकिस्तान के गठजोड़ से रहना होगा देश को सावधान : सह-सेनाध्यक्ष

नई दिल्ली : सेना ने एक बार फिर आगाह किया है कि हमारे दोनों दुश्मन देश चीन और पाकिस्तान का गठजोड़...

पहले सत्ता.. अब व्यवस्था परिवर्तन, तीनों शीर्ष पदों पर पहली बार बीजेपी के चेहरे
पहले सत्ता.. अब व्यवस्था परिवर्तन, तीनों शीर्ष पदों पर पहली बार बीजेपी के...

नई दिल्ली: देश के सर्वोच्च पद पर रामनाथ कोविंद के आसीन होते ही 2014 में हुआ सत्ता परिवर्तन,...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. रामनाथ कोविंद देश के 14वें राष्ट्रपति बने. सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस जेएस खेहर ने उन्हें...

मुंबई: घाटकोपर में गिरी बिल्डिंग, 12 की मौत, मलबे में फंसे कई लोग
मुंबई: घाटकोपर में गिरी बिल्डिंग, 12 की मौत, मलबे में फंसे कई लोग

मुंबई: मुंबई के घाटकोपर में आज चार मंजिला बिल्डिंग के ढहने से 12 लोगों की मौत हो गई और मलबे में...

सैनिकों को राशन के बदले कैश का विरोध करते हुए कर्नल ने भेजा सरकार को नोटिस
सैनिकों को राशन के बदले कैश का विरोध करते हुए कर्नल ने भेजा सरकार को नोटिस

नई दिल्ली : सैनिकों को राशन के बदले कैश देना का विरोध करते हुए सेना के एक कर्नल ने रक्षा सचिव को...

आधार बनाम निजता का अधिकार, जान लें क्या है पूरा मसला
आधार बनाम निजता का अधिकार, जान लें क्या है पूरा मसला

नई दिल्लीः यूनिक आइडेंटफिकेशन नंबर या आधार कार्ड योजना की वैधता को चुनौती देने वाली कई...

तमिलनाडु: मद्रास HC ने किया राज्य के सभी सरकारी-निजी स्कूलों में 'वंदे मातरम' गाना अनिवार्य
तमिलनाडु: मद्रास HC ने किया राज्य के सभी सरकारी-निजी स्कूलों में 'वंदे मातरम'...

चेन्नई: मद्रास हाई कोर्ट ने समूचे तमिलनाडु के स्कूलों में हफ्ते में कम से कम दो बार राष्ट्रीय...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017