कृष्ण की भूमि से चुनावी रण में पदार्पण मेरी किस्मत में था: हेमा मालिनी

By: | Last Updated: Monday, 7 April 2014 12:17 PM

मथुरा: भाजपा के टिकट पर यहां से चुनाव लड़ रही मशहूर अदाकारा हेमा मालिनी ने आज कहा कि भगवान कृष्ण की धरती से चुनावी राजनीति में पदार्पण उनकी किस्मत में लिखा था . उन्होंने यह भी कहा कि मथुरा को खुद उन्होंने नोएडा और गाजियाबाद पर तरजीह दी थी. उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि वह उतनी नर्वस नहीं है जितनी अपनी पहली फिल्म ‘सपनों का सौदागर’ की रिलीज से पहले थी.

 

उन्होंने कहा कि पार्टी ने उन्हें मथुरा, नोएडा, गाजियाबाद के विकल्प दिये थे लेकिन उन्होंने मथुरा चुना क्योकि वह इस भूमि के लिये कुछ करना चाहती थी.

 

हेमा ने भाषा को दिये इंटरव्यू में कहा ,‘‘ मथुरा मेरा सपना है और मैने भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह को भी इसके बारे में बताया . जब आप मथुरा वृंदावन के बारे में सोचते हैं तो पहली छवि दिमाग में कृष्ण और बृजभूमि की आती है लेकिन पूरे बृज में काफी गंदगी है . मैं इसे साफ सुथरा बनाना चाहती हूं और बृजभूमि का पुनरोद्धार करना चाहती हूं जिसमें बरसाना, नंदगांव और गोकुल आते हैं .’’ राष्ट्रीय लोकदल के जयंत चौधरी के खिलाफ चुनाव लड़ रही इस अदाकारा ने कहा ,‘‘ लोग बदलाव चाहते हैं . मौजूदा सांसद ने पिछले पांच साल में यहां कुछ नहीं किया . लोग तो यह भी कहते हैं कि वह यहां आते ही नहीं है .’’ मथुरा में मतदान 24 अप्रैल को होना है.

 

हेमा ने कहा ,‘‘ यदि आप अध्यात्मिक रूप से भी देखे तो लोगों की मान्यता है कि राधाजी की अनुमति के बिना न तो कोई बृज में आ सकता है और न ही यहां से बाहर जा सकता है . राधारानी के आशीर्वाद से ही मैं यहां हूं .’’ बालीवुड की यह ‘ड्रीमगर्ल’ हर तीन महीने में यहां आती है . उन्होंने कहा ,‘‘ लोग यह भी कहते हैं कि वृंदावन में मेरा घर है जो कि नहीं है लेकिन इस पवित्र भूमि से जुड़े होने से बड़ी क्या बात हो सकती है. लोग कहते हैं कि यहां से सीधे मोक्ष मिलता है.’’

 

उन्होंने इस आरोप को भी खारिज किया कि स्टार होने के कारण वह अपने मतदाताओं से जुड़ नहीं पा रहीं . उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे अपने विरोधियों की तरह हर किसी के घर जाकर मिलने की जरूरत नहीं है . मुझे लोगों से काफी प्यार मिल रहा है और चुने जाने पर मैं अपने काम से जवाब दूंगी .’’ सिंह के इस बयान पर कि अपने पति धर्मेंद्र की तरह वह यहां रूकेंगी नहीं और मुंबई चली जायेंगी, उन्होंने कहा कि उनके पति ने बीकानेर में सांसद रहते काफी काम किया है.

 

उन्होंने कहा ,‘‘ धरमजी भागे नहीं . उन्होंने बीकानेर में काफी काम किया . उनके विरोधियों ने उनके खिलाफ काफी प्रचार किया लेकिन धरमजी इतने भले हैं कि उन्होंने कभी शिकायत नहीं की . उन्होंने अपने क्षेत्र में जो काम किया, मेरे पास उसका रिकार्ड है . आप उसे पढकर देखें.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: कृष्ण की भूमि से चुनावी रण में पदार्पण मेरी किस्मत में था: हेमा मालिनी
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ele2014
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017