कैश सब्सिडी से चुनाव आयोग ख़फ़ा, सरकार देगी जवाब

कैश सब्सिडी से चुनाव आयोग ख़फ़ा, सरकार देगी जवाब

By: | Updated: 02 Dec 2012 09:51 PM


नई दिल्ली: बीजेपी
की शिकायत के बाद सरकार की
कैश सब्सिडी योजना से चुनाव
आयोग नाराज़ है. पीटीआई की
खबर के मुताबिक चुनाव आयोग ने
इस बारे में कैबिनेट सचिव
अजित सेठ से आज शाम तक जवाब
मांगा है.




आपको बता दें कि बीजेपी ने
चुनाव आयोग से शिकायत की थी
कि गुजरात चुनाव के
मद्देनज़र सरकार ने इस योजना
की घोषणा की है.




चुनाव आयोग सरकार से पूछा है
कि गुजरात चुनाव के समय कैश
सब्सिडी योजना का एलान क्यों
किया गया और क्या गुजरात
चुनाव के खत्म होने तक इस
योजना को नहीं टाला जा सकता
था. पीटीआई के मुताबिक
कैबिनेट सचिव को सोमवार शाम
तक इसका जवाब देना है.




कैश सब्सिडी स्कीम से चुनाव
आयोग की नाराज़गी की खबर के
बाद बीजेपी कांग्रेस से सवाल
पूछ रही है वैसे वो इस स्कीम
की टाइमिंग को लेकर पहले ही
चुनाव आयोग में अपनी शिकायत
दर्ज करा चुकी है.




ग़ौरतलब है कि सब्सिडी का
पैसा सीधे लोगों के बैंक
खातों में जमा करने की सरकार
की योजना 1 जनवरी से शुरू हो
रही है. शुरुआत में देश के 51
जिलों को इसमें शामिल किया
गया है. जिनमें गुजरात के भी
चार जिले मेहसाणा, वलसाड,
भावनगर और आणंद शामिल हैं.




बीजेपी का दावा है कि सरकार
इस योजना को लागू करके गुजरात
चुनाव में बढ़त हासिल करने की
कोशिश कर रही है वहीं
कांग्रेस बीजेपी के आरोप को
सिरे से बेबुनियाद बता चुकी
है.




आपको बता दें कि सरकार ने कैश
सब्सिडी योजना को गेम चेंजर
बताते हुए आपका पैसा, आपके
हाथ का नारा दिया है. देखना
दिलचस्प होगा कि अब सरकार
चुनाव आयोग के सामने अपनी
सफाई में क्या दलील देती है.




हालांकि, सूत्रों के हवाले से
खबर है कि सरकार आयोग को बता
सकती है कि इस स्कीम का एलान
बजट के दौरान ही किया गया था
और इस मुद्दे पर सरकार की
तैयारी क्या है इसकी
जानकारी  28 सितंबर को ही
पीएमओ ने दी.




http://www.youtube.com/watch?v=z6P7EMP8VnQ




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story दिल्ली: पटाखा फैक्ट्री में आग से 17 की मौत, BJP मेयर प्रीति अग्रवाल के बयान पर बवाल