'कोई भी पार्टी नहीं चाहती मजबूत लोकपाल'

'कोई भी पार्टी नहीं चाहती मजबूत लोकपाल'

By: | Updated: 24 Mar 2012 12:46 AM


नई
दिल्‍ली
: मशहूर समाजसेवी और
गांधीवादी कार्यकर्ता अन्ना
हजारे रविवार को जन लोकपाल
बिल के लिए दिल्ली के
जंतर-मंतर पर एक दिन का अनशन
करेंगे.

अनशन से पहले आज
टीम अन्‍ना के अहम सहयोगी
अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि
कोई भी पार्टी मजबूत लोकपाल
नहीं चाहती और इसलिए बिल अभी
तक अटका हुआ है.

स्‍टार
न्‍यूज़ के साथ विशेष बातचीत
में केजरीवाल ने कहा, 'यह साफ
हो गया है कि कोई पार्टी
लोकपाल बिल नहीं लाना चाहती
है और यही वजह है कि बिल अभी तक
लटका हुआ है.'




http://www.youtube.com/watch?v=q7bpSNu-yfQ

गौरतलब
है कि अभी तक टीम अन्ना
कांग्रेस को जिम्मेदार ठहरा
रही थी, लेकिन अब उनके निशाने
पर सभी राजनीतिक दल हैं.

लोकायुक्त
कानून के लिए उत्तराखंड की
बीजेपी सरकार की तारीफ
करनेवाले केजरीवाल अब
बीजेपी को भी सवालों के घेरे
में खड़े कर रहे हैं.

उन्‍होंने
कहा, 'उत्तराखंड में बीजेपी
ने लोकायुक्‍त कानून पारित
किया लेकिन बीजेपी बाकी
राज्‍यों में ऐसा क्‍यों
नहीं कर रही है. इससे साफ है कि
उत्तराखंड में केवल खंडूड़ी
के कारण ही बिल पास हुआ. सभी
पार्टियां बिल पर राजनीति कर
रही हैं.'

अरविंद केजरीवाल
ने यह भी कहा है कि सरकार का
व्हिसिल ब्लोअर प्रोटेक्शन
बिल किसी काम का नहीं है. अगर
जनलोकपाल होता तो मध्य
प्रदेश में ईमानदार आईपीएस
की हत्या नहीं होती.

गौरतलब
है कि रविवार को अन्‍ना हजारे
आईपीएस अधिकारी नरेंद्र
कुमार की हत्‍या के विरोध में
जंतर-मंतर पर एक दिवसीय अनशन
पर बैठने वाले है.




संबंधित खबरें




संसद
को बदलने की जरूरत: केजरीवाल






भ्रष्‍टाचार
के पीड़‍ितों को अन्‍ना का
सहारा





खनन
माफियाओं की भेंट चढ़ा
जांबाज अफसर










फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story बेंजामिन नेतन्याहू ने पत्नी सारा संग किया ताज का दीदार