कौन बनेगा प्रधानमंत्रीः यूपी के मिर्जापुर से नुक्कड़ बहस

By: | Last Updated: Thursday, 3 April 2014 9:18 AM

नई दिल्लीः नुक्कड़ बहस में आज उत्तर प्रदेश के मिर्जपुर का हाल. मिर्जापुर कुछ दिन पहले ही सुर्खियों में रहा था. जब यहां एक महिला पत्रकार से गैंगरेप की वारदात ने प्रदेश की कानून व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी थी. लेकिन सिर्फ अपराध मिर्जापुर के लोगों के लिए बड़ी समस्या नहीं है. पिछले लंबे अरसे से मिर्जापुर नक्सलवाद की चुनौती से भी जूझ रहा है.

 

 यूपी की मिर्जापुर लोकसभा में विधानसभा की कुल 5 सीटें हैं. सदर, मडिहान, छानबे, चुनार और मझवा.

 

 

मिर्जापुर लोकसभा सीट अभी समाजवादी पार्टी के पास है. बाल कुमार पटेल यहां से सांसद हैं.

 

लेकिन एसपी ने बाल कुमार पटेल को इस बार बांदा से टिकट थमा दिया और मिर्जापुर से मैदान में उतार दिया सुरेंद्र पटेल को. जो अखिलेश सरकार में पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री हैं.

 

कांग्रेस ने मिर्जापुर से ललितेश पति त्रिपाठी को अपना उम्मीदवार बनाया है तो बीएसपी ने समुद्रा बिंद को. जबकि बीजेपी ने अपना दल के लिए मिर्जापुर सीट छोड़ दी. अपना दल ने यहां से अनुप्रिया पटेल को मैदान में उतारा है.

 

मिर्जापुर के चुनावी मुद्दों की बात करें तो नक्सलवाद और अपराध जैसी बड़ी चुनौतियों के साथ बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार को लेकर यहां के लोग आवाज उठाते रहे हैं. इसके अलावा उद्योग और पर्यटन स्थलों की अनदेखी भी मिर्जापुर के बड़े मुद्दों में शामिल है.