गुजरात चुनाव: पहले चरण के लिए अधिसूचना आज

गुजरात चुनाव: पहले चरण के लिए अधिसूचना आज

By: | Updated: 16 Nov 2012 10:53 PM


अहमदाबाद:
गुजरात विधानसभा चुनावों
के पहले चरण में जिन 87 सीटों
पर मतदान होना है, उसके लिए आज
अधिसूचना जारी होने जा रही
है. इसके तहत 24 नवंबर तक
नामांकन भरा जा सकेगा और
उम्मीदवारी वापस लेने की
आखिरी तारीख 28 नवंबर की होगी.


पहले चरण के लिए मतदान 13
दिसंबर को होगा. पहले चरण के
चुनाव में जिन इलाकों में
मतदान होना है, वो इलाके
सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात
के हैं. इसके अलावा अहमदाबाद
जिले की 21 में से चार विधानसभा
सीटों- विरमगाम, साणंद,
धोल्का और धंधुका में भी पहले
चरण में ही मतदान हो जाएंगे.


सौराष्ट्र के सात जिलों–
सुरेंद्रनगर, राजकोट, जामनगर,
पोरबंदर, जूनागढ़, अमरेली और
भावनगर की 48 सीटों के अलावा
दक्षिण गुजरात के सात जिलों–
नर्मदा, भरूच, सूरत, तापी,
डांग, नवसारी और वलसाड की
पैंतीस सीटों पर भी पहले चरण
में ही मतदान होना है.

इन
सीटों में से 14 अनुसूचित जन
जातियों के लिए सुरक्षित हैं,
तो छह अनुसूचित जातियों के
उम्मीदवारों के लिए. 2007 के
विधानसभा चुनावों तक
सौराष्ट्र के सात जिलों में
कुल मिलाकर 52 सीटें हुआ करती
थीं, लेकिन नये सीमांकन में
इस इलाके की चार सीटें कम हो
गई हैं और कुल सीटें 48 ही रह गई
हैं.

पिछले दो चुनावों
में इस इलाके में बीजेपी ही
बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी. 2002
विधानसभा चुनावों में
बीजेपी ने सौराष्ट्र की 37
सीटों पर कब्जा किया था, तो
कांग्रेस ने चौदह सीटों पर
जबकि एक सीट निर्दलीय के खाते
में गई थी. 2007 के विधानसभा
चुनावों में सौराष्ट्र
इलाके में बीजेपी ने 38 सीटें
जीती, जबकि कांग्रेस के खाते
में13 सीटें आई, एक सीट एनसीपी
ने जीती.

जहां तक दक्षिण
गुजरात का सवाल है, इस इलाके
में भी कांग्रेस के मुकाबले
बीजेपी ने अपना दबदबा बनाये
रखा है. आदिवासी बहुल दक्षिण
गुजरात में 2007 के विधानसभा
चुनावों तक कुल 29 सीटें हुआ
करती थीं, जो नये सीमांकन में
बढ़कर 35 हो गई हैं.

2002 के
विधानसभा चुनावों में इस
इलाके की 29 सीटों में से 15
बीजेपी ने जीती थी, जबकि
कांग्रेस के खाते में बारह
सीटें गई थीं. दो सीट जेडीयू
ने इस इलाके से जीती थी. 2007 के
विधानसभा चुनावों में मोदी
इस इलाके में अपनी पकड़ और
मजबूत करने में कामयाब रहे. 2007
चुनावों में बीजेपी ने इलाके
की 18 सीटों पर कब्जा किया, तो
कांग्रेस के खाते में महज दस
सीटें गई. एक सीट जेडीयू
उम्मीदवार ने जीती.

सियासी
तौर पर इस चरण का खासा महत्व
है. मोदी सरकार के मौजूदा
मंत्रिमंडल के कई बड़े चेहरे
सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात
से चुनकर आते हैं. ऐसे
मंत्रियों में प्रमुख नाम
है– वित्त मंत्री वजुभाई
वाला, ग्राम विकास मंत्री
नरोत्तमभाई पटेल, कृषि
मंत्री दिलीप संघाणी, वन व
पर्यावरण मंत्री मंगुभाई
पटेल, उद्योग राज्य मंत्री
सौरभ पटेल, मत्सद्योग राज्य
मंत्री पुरूषोत्तम सोलंकी
और उच्चशिक्षा राज्य मंत्री
वसुबेन त्रिवेदी.

विपक्षी
पार्टी कांग्रेस के भी कई
बड़े चेहरे भी इसी चरण का
हिस्सा बनेंगे. मसलन
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष
अर्जुन मोढवाड़िया या फिर
विधानसभा में विपक्ष के नेता
शक्तिसिंह गोहिल. यहां तक कि
पूर्व मुख्यमंत्री और
गुजरात परिवर्तन पार्टी के
अध्यक्ष केशुभाई पटेल का भी
कितना असर मौजूदा चुनाव में
पड़ता है, इसका बैरोमीटर भी
यही चरण होगा.

सौराष्ट्र
के इलाके में केशुभाई पटेल का
लंबे अरसे से प्रभाव रहा है
और वो खुद जूनागढ़ जिले की
विसावदर सीट से मुख्यमंत्री
रहने के दौरान चुनाव लड़ते
रहे हैं और एक बार फिर वहीं से
अपनी किस्मत भी आजमाएंगे.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story जस्टिस अरुण मिश्रा ने जज लोया की मौत से जुड़े केस की सुनवाई से खुद को किया अलग