गोरखपुर रैली में मोदी ने दिया नारा,आप मुझे 60 महीने दो, मैं आपको सुख चैन दूंगा

By: | Last Updated: Thursday, 23 January 2014 11:37 AM

गोरखपुर. भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी ने लगातार सियासी हमले कर रहे समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव पर पलटवार करते हुए आज कहा कि यादव की उत्तर प्रदेश को विकास की राह पर सरपट दौड़ रहे गुजरात जैसा बनाने की हैसियत नहीं है.

 

मोदी ने यहां पार्टी की ‘विजय शंखनाद रैली’में कहा ‘इस ठंड में, गोरखपुर और आसपास के इलाके से इतनी बड़ी रैली हो रही है यह बदलती हुई हवा का रुख दिखाती है. आज आपकी आवाज बनारस की गलियों में भी गूंज रही है.’ उन्होंने कहा‘आज बनारस में नेताजी (मुलायम सिंह यादव) ने मुझे ललकारा है. आज उन्होंने कहा कि मोदी की हैसियत नहीं है कि उत्तर प्रदेश को गुजरात बना सकें. नेताजी गुजरात बनाने के मायने मालूम हैं आपको… गुजरात बनाने का मतलब होता है 24 घंटे बिजली, हर गांव गली में बिजली. नेताजी आपकी बात सही है. आपकी हैसियत नहीं है. आप उत्तर प्रदेश को गुजरात नहीं बना सकते. इसके लिये तो 56 इंच का सीना चाहिये.’

 

सपा प्रमुख पर करारे वार करते हुए मोदी ने कहा‘नेताजी गुजरात बनाने का मतलब होता है लगातार 10 साल तक 10 प्रतिशत से ज्यादा कृषि दर बनाना. तीन-चार प्रतिशत में लुढ़क जाना, यह नेताजी आपकी हैसियत का नमूना है.’ उन्होंने कहा ‘नेताजी 10 साल हो गये हैं, गुजरात चैन की जिंदगी जी रहा है. विकास की उंचाइयां छू रहा है. आप नहीं कर सकते हैं. मुझे खुशी होगी कि अगर आप उत्तर प्रदेश को गुजरात बना दें, लेकिन आप ऐसा नहीं कर सकते.’ मोदी ने कहा ‘नेताजी आपने लोगों के लिये क्या किया. न लोगों को सुरक्षा दे पा रहे है, न रोजगार और न ही बहन-बेटियों को सम्मान दे पा रहे हैं. आपने उत्तर प्रदेश को बर्बाद कर रखा है. हमने इसको आबाद करने की शपथ ली है.’ उन्होंने कहा ‘मुझे खुशी है कि इन दिनों मैं जहां-जहां जाता हूं, बाप और बेटा (मुलायम और अखिलेश यादव) दोनों मेरा पीछा करते हैं.’

 

भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि देश के करोड़ लोग आगामी लोकसभा चुनाव के नतीजों का फैसला कर चुके हैं. उन्होंने कहा कि चुनाव में कांग्रेस तथा उसके साथी दलों की विदाई तय है और कांग्रेस मुक्त भारत का सपना इस बार साकार होकर रहेगा.

 

मोदी ने पार्टी की ‘विजय शंखनाद रैली’ को सम्बोधित करते हुए कहा ‘चुनाव हमने बहुत देखे हैं, लेकिन अगला चुनाव ऐसा है जिसका फैसला देश के कोटि-कोटि जन ने कर लिया है. कांग्रेस और उसके साथी दलों की विदाई देश ने तय कर ली है और कांग्रेस मुक्त भारत इस बार साकार होकर रहेगा.’ उन्होंने कहा ‘आज नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का जन्मदिन है. उन्होंने कहा था कि तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा. आप मुझे 60 महीने दीजिये, मैं आपको सुख-चैन की जिंदगी दूंगा. मैं यह वादा करने आया हूं.’ मोदी ने कहा ‘हम हिन्दुस्तान को रोता हुआ, या खून से लथपथ नहीं देखना चाहते. हम हिन्दुस्तान को याचक के रूप में देखना नहीं चाहते. मैं कहता हूं कि आपने 60 साल तक शासक चुने हैं, मैं आपसे सिर्फ 60 महीने मांगने के लिये आया हूं. एक बार सेवक को चुन करके देखिये.’

 

 

मोदी ने कहा कि वर्ष 2014 का चुनाव कैसा होगा, इसका इशारा हाल में हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में भाजपा की जबर्दस्त सफलता से मिलता है. उन्होंने बसपा, कांग्रेस तथा अन्य विरोधी दलों पर कटाक्ष करते हुए कहा ‘कुछ ठेकेदार मानते हैं कि दलित, पीड़ित, शोषित और आदिवासी उनकी जेब में हैं. सालों से ये इस वर्ग के लोगों को इंसान नहीं बल्कि वोट बैंक मानते थे. उनका मानना था कि भाजपा दलितों, आदिवासियों में जगह नहीं बना सकती लेकिन हालिया विधानसभा चुनाव ने उनकी यह गलतफहमी दूर कर दी है.’ मोदी ने कहा कि राजस्थान में अनुसूचित जाति की 34 सीटें हैं. उनमें से कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली है, जबकि 25 सीटें भाजपा के खाते में गयी हैं. छत्तीसगढ़ में अनुसूचित जाति की 10 में से कांग्रेस को सिर्फ एक सीट मिली है. मध्य प्रदेश में ऐसी 35 सीटों में से 28 सीटें भाजपा के खाते में गयी हैं.

 

उन्होंने कहा ‘मैं उत्तर प्रदेश के दलित, पीड़ित, शोषित और समाज में पीछे रह गये लोगों को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि जहां जहां भाजपा को सेवा करने का अवसर मिला है. हमारी प्राथमिकता रही है, गरीबों का कल्याण हो, लोग गरीबी के खिलाफ लड़ने के लिये ताकतवर बनें. समाज के पीड़ित शोषित लोग गरीबी से मुक्ति का एहसास करें. उसी का परिणाम है कि आज दलित, पीड़ित, शोषित आदिवासी समाज का भाजपा के प्रति एक विश्वास पैदा हुआ है.’’

 

 

मोदी ने आरोप लगाया कि चुनाव आते ही कांग्रेस को गरीब याद आते हैं. साठ साल के दौरान कांग्रेस को लगातार सरकार बनाने का मौका मिला. वे गरीबों की बातें करते रहे लेकिन उनकी जिन्दगी में बदलाव क्यों नहीं आया. इसका मूल कारण है कांग्रेस गरीबों को गरीब रखने में ही अपना राजनीतिक भविष्य देखती है. वह किसी भी हालत में गरीब को गरीबी से लड़ने की ताकत नहीं देना चाहते. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता हमारी गरीबी का मखौल उड़ाते हैं. कांग्रेस का एक नेता कहता है कि 12 रुपए में खाना मिल सकता है. दूसरा नेता कहता है पांच रुपए में मिल सकता है. गरीबी क्या होती है, गरीब कैसे जिंदगी गुजारता है. यह उन्हें नहीं पता दिल्ली में बैठी और लखनउ में बैठी सरकार गरीबी से लड़ने की इच्छुक नहीं है.

 

मोदी ने कहा कि क्या कारण है कि नवजवानों को अपने बूढ़े मां-बाप को छोड़कर सैकड़ों किलोमीटर दूर गुजरात जाना पड़ता है. अगर उसे यहां रोजी-रोटी मिलती, उसको मेहनत करने का अवसर मिलता तो मैं नहीं मानता कि यूपी के नवजवान को गुजरात जाने की नौबत आती है. अगर यहां 10 साल मेहनत की जाए तो उत्तर प्रदेश गुजरात से भी आगे निकल सकता है.

 

उन्होंने कहा कि देश को विकास चाहिये. अकेली भाजपा ऐसा कर सकती है. सुशासन के बिना हम स्थितियों को बदल नहीं सकते. यह देश गरीब नहीं है. राजनीति के लिये अमीर देश को गरीब बनाया गया है. देश अमीर है, लोग भी अमीर बन सकते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: गोरखपुर रैली में मोदी ने दिया नारा,आप मुझे 60 महीने दो, मैं आपको सुख चैन दूंगा
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017