चक्रवात के कारण ओडिशा में भारी वर्षा

By: | Last Updated: Saturday, 12 October 2013 12:01 AM
चक्रवात के कारण ओडिशा में भारी वर्षा

<p style=”text-align: justify;”>
<b>भुवनेश्वर:
</b>बंगाल की खाड़ी में उठे
भयंकर चक्रवाती तूफान फेलीन
के पास आते ही ओडिशा में
शनिवार को तेज आंधियों और
भारी वर्षा के कारण आम जनजीवन
अस्तव्यस्त है. अधिकारियों
ने आशंका व्यक्त की है कि
फेलीन शनिवार शाम तक ओडिशा तट
तक पहुंच जाएगा. <br /><br />अधिकारी
तटीय क्षेत्रों के निचले
इलाकों से लोगों को चक्रवात
आश्रय और ऊंची इमारतों तक
पहुंचाने के कार्य में जुटे
हुए हैं. मौसमविदों का
पूर्वानुमान है कि आंधी और
बारिश की रफ्तार और तीव्रता
समय के साथ कहीं ज्यादा बढ़
सकती है.<br /><br />राज्य के विशेष
राहत आयुक्त प्रदीप कुमार
महापात्रा ने कहा कि लगभग तीन
लाख लोगों को अब तक सुरक्षित
स्थानों में पहुंचाया जा
चुका है और अगले कुछ घंटों
में ज्यादा लोगों को
सुरक्षित स्थानों तक पहुंचा
दिया जाएगा.<br /><br />महापात्रा ने
आईएएनएस को बताया कि कई
इलाकों में आंधी की रफ्तार
बढ़ रही है. गंजम में आंधी की
रफ्तार 60 से 80 किलोमीटर
प्रतिघंटे हो चुकी है और
समुद्र में ऊंची ऊंची लहरे उठ
रही हैं.<br /><br />मौसम विज्ञान
केंद्र ने अपने ताजा बुलेटिन
में कहा कि बंगाल की खाड़ी के
पश्चिम मध्य एवं पूर्वमध्य
में उठा भयंकर चक्रवाती
तूफान बीते छह घंटों में
उत्तरपश्चिम की ओर रुख कर
चुका है.<br /><br />चक्रवाती तूफान
जगदीशपुर जिले में पारादीप
तट से महज 355 किलोमीटर दूर और
गंजम जिले में गोपालपुर से 320
किलोमीटर दक्षिणपूर्व दूर
है.<br /><br />मौसम विभाग की सूचना
के मुताबिक चक्रवाती तूफान
उत्तरपश्चिम की ओर से
कलिंगपटनम और पारादीप के बीच
से होते हुए आंध्र प्रदेश और
ओडिशा में प्रवेश करेगा तथा 210
से 220 किलोमीटर प्रतिघंटे की
रफ्तार से शनिवार शाम तक
ओडिशा के गोपालपुर तक पहुंच
जाएगा. <br /><br />तूफान से ओडिशा के
गंजम, गजपति, खोरधा, पुरी एवं
जगदीशपुर जिलों के तटीय
इलाकों में भयंकर तबाही मचने
की आशंका है, जबकि राज्य के
अन्य जिलों में भी भारी वर्षा
और बाढ़ की समस्या उत्पन्न हो
सकती है.<br /><br />स्थानीय पुलिस
अधिकारियों ने आईएएनएस को
बताया कि सप्ताह भर पहले
बंगाल की खाड़ी में मछली
पकड़ने के लिए गए 18 मछुआरों का
दल पुरी जिले के अष्टारंगा
इलाके में तूफान में फंस गया
था और तट रक्षकों को उन्हें
बचाने के लिए भेजा गया था.<br /><br />राज्य
में अधिकांश निचले इलाकों
में भारी वर्षा के कारण
जलभराव की समस्या उत्पन्न हो
गई है. इसी तरह गंजम एवं
जगदीशपुर जिलों के कई
स्थानों पर सड़क संचार बाधित
हो रहा है. बिजली के तार भी
भारी वर्षा के चपेट में हैं.<br /><br />राज्य
सरकार ने कहा कि सरकार ने
चक्रवात से निपटने के लिए
पूरे इंतजाम कर लिए हैं.
चक्रवात राहत केंद्रों में
पहले से खाद्य सामग्रियां और
दूसरी आवश्यकता की चीजें
पर्याप्त मात्रा में इकट्ठी
कर ली गई हैं, ताकि ऐन वक्त पर
लोगों को परेशानी न हो.<br /><br />राहत
एवं बचाव अधिकारी
संकटग्रस्त क्षेत्रों में
पहुंचकर काम शुरू कर चुके
हैं. राष्ट्रीय आपदा
प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के
कम से कम 20 दल संकटग्रस्त
क्षेत्रों में तैनात किए गए
हैं और आवश्यकता पड़ने पर और 20
दलों को भेजने की भी तैयारी
है.<br /><br />राजधानी भुवनेश्वर के
बीजू पटनायक हवाईअड्डे के
आंधी और बारिश से प्रभावित
होने की आशंका को देखते हुए
पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल
में 10 हेलीकॉप्टर राहत
सामग्री ले जाने के लिए
तैयारी किए गए हैं.<br />
</p>

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: चक्रवात के कारण ओडिशा में भारी वर्षा
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017