चुनाव खत्म होते ही राहुल गए विदेश, मनमोहन की डिनर पार्टी में नहीं दिखे

चुनाव खत्म होते ही राहुल गए विदेश, मनमोहन की डिनर पार्टी में नहीं दिखे

By: | Updated: 15 May 2014 03:04 AM

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा निवर्तमान प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के सम्मान में कल रात आयोजित रात्रिभोज में पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के अनुपस्थित रहने को लेकर राजनैतिक भृकुटियां तन गईं.

 

पीएमओ सूत्रों ने बताया कि राहुल ने शनिवार को शुक्रिया अदा करने के लिए प्रधानमंत्री से मुलाकात की थी और उन्होंने कहा था कि वह आज शहर में नहीं रहेंगे.

 

ऐसी अटकलें हैं कि राहुल संभवत: विदेश यात्रा पर हैं और शुक्रवार को लोकसभा चुनावों के लिए मतगणना शुरू होने से पहले वापस आ जाएंगे.

 

यह पूछे जाने पर कि राहुल ने रात्रिभोज में हिस्सा क्यों नहीं लिया तो केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने कहा कि उन्हें इसके कारणों का पता नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि उन्होंने क्यों हिस्सा नहीं लिया.’ राहुल की अनुपस्थिति के बारे में जब एक और केंद्रीय मंत्री आर पी एन सिंह से पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि इसपर राजनीति की जा रही है.’ सोनिया के आवास 10, जनपथ पर पार्टी ने 81 वर्षीय सिंह को 10 वर्ष तक कांग्रेस नीत सरकार की अगुवाई करने के आभार स्वरूप भोज दिया.

 

इसी हफ्ते पद छोड़ रहे मनमोहन सिंह को इस मौके पर कांग्रेस के शीर्ष नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों के हस्ताक्षर वाला स्मृति-चिह्न भेंट किया गया और पल्लम राजू ने इस पर प्रधानमंत्री के सम्मान और प्रशंसा में लिखे शब्दों को पढ़ा.

 

रात्रिभोज में सिंह अपनी पत्नी गुरशरण कौर के साथ उपस्थित हुए. उन्हें गुलदस्ता भेंट किया गया. इस दौरान पार्टी के नेता उन दोनों तथा सोनिया गांधी के साथ तस्वीर खिंचाने के लिए उत्साहित दिखे.

 

बाद में केंद्रीय मंत्री राजीव शुक्ला ने कहा कि राहुल गांधी ने शनिवार को प्रधानमंत्री से मुलाकात की थी और उनके योगदान के लिए उनका शुक्रिया अदा किया था. कांग्रेस उपाध्यक्ष ने इस बात पर भी खेद प्रकट किया था कि वह विदाई कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले सकेंगे क्योंकि वह शहर में नहीं रहेंगे. लेकिन जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने महसूस किया कि अगर राहुल को विदाई रात्रिभोज में हिस्सा नहीं लेना था तो इस बारे में अग्रिम वक्तव्य जारी कर देना चाहिए था. उमर की पार्टी नेशनल कान्फ्रेंस संप्रग में घटक दल है.

 

उमर ने अपने ट्वीट में कहा, ‘अगर आप जानते थे कि वह (राहुल) रात्रिभोज में हिस्सा नहीं ले रहे हैं और उन्होंने प्रधानमंत्री को पहले ही अपनी अनुपस्थिति के बारे में जानकारी दे दी थी तो समाचार के ब्रेक होने से पहले ही वक्तव्य जारी कर देना चाहिए था.’

 

कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा, ‘तीन महीने के थकाउ प्रचार अभियान के बाद राहुल जी दो दिनों के लिए शहर से बाहर हैं. वह कल वापस आ जाएंगे. राहुल जी 10 मई को पहले ही माननीय प्रधानमंत्री से मिल चुके थे ताकि व्यक्तिगत रूप से देश के लिए दी गई उनकी सेवाओं और योगदान के लिए उनका शुक्रिया अदा कर सकें.’

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story नसीमुद्दीन सिद्दीकी की 'घरवापसी' के बाद कांग्रेस में उठने लगे विरोध के स्वर