चुनाव बाद बीजेपी के साथ आएंगी जयललिता- सुब्रमण्यम स्वामी

चुनाव बाद बीजेपी के साथ आएंगी जयललिता- सुब्रमण्यम स्वामी

By: | Updated: 17 Apr 2014 02:40 AM

नई दिल्ली: बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने ये कहकर चुनावी माहौल गरमा दिया है कि तमिलनाडु की सीएम जयललिता अभी राजनीतिक मजबूरियों के कारण बीजेपी के साथ नहीं हैं. लेकिन चुनाव के बाद सरकार बनाने में ज़रूरत पड़ी तो वो बीजेपी के साथ आ जाएंगीं.

 

आपको बता दें कि ऐसी अटकलें पहले से ही लगाई जा रही थीं कि चुनाव बाद जयललिता एनडीए की सहयोगी बन सकती हैं. लेकिन सुब्रमण्यम स्वामी ने ऐसा बयान देकर लगभग साफ कर दिया है कि स्थित क्या है.

 

कांग्रेस पहले से ही एआईएडीएमके को बीजेपी की 'बी टीम' बताती रही है. लेकिन जयललिता ने सफाई देते हुए कई बार कहा है कि उन्हें बीजेपी की बी टीम न माना जाए.

 

हालांकि, पिछले कुछ दिनों पर नजर डाला जाए तो मोदी और जयललिता के रिश्तों में खटास आ गई है. हाल ही में जयललिता ने मोदी पर आरोप लगाया था कि कावेरी जल के मुद्दे पर उन्होंने तमिलनाडु की जनता को धोखा दिया है. जयललिता इस मुद्दे पर कांग्रेस और बीजेपी के एक ही तरफ होने का आरोप लगा चुकी हैं.


बीजेपी इस बार तमिलनाडु में अपनी पैठ बनाने की कोशिश में जुटी हुई है. यहां बीजेपी कई स्थानीय दलों डीएमडीके, पीएमके और वाइको के एमडीएमके के अलावा आईजेके और केएमडीके के साथ के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है.

 

तमिलनाडु की 39 सीटों में बीजेपी मात्र 8 सीटों पर ही अपने कैंडिडेट खड़े किए हैं. विजयकांत की पार्टी डीएमडीके 14 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, जबकि पीएमके 8 सीटों पर चुनावी जोर आजमाइश करेगी. वाइको के एमडीएमके को सात सीटें दी गई हैं, जबकि आईजेके और केएमडीके को एक सीट मिली है.

 

आपको बता दें कि जयललिता वह नेता हैं जिन्होंने 1999 में वाजपेयी सरकार को गिरा दिया था, जिसमें अहम रोल खुद सुब्रमण्यम स्वामी ने अदा किया था. कहा जाता है कि स्वामी बीजेपी की सरकार में अहम पद चाहते थे, लेकिन मायूसी हाथ लगने के बाद उन्होंने जयललिता और सोनिया गांधी की चाय पर मुलाकात कराई और फिर क्या था वाजपेयी सरकार के अंत की स्क्रिप्ट पर मुहर लग गई. इस मुलाकात के बाद जयललिता ने वाजपेयी सरकार से समर्थन वापस ले लिया.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story एबीपी न्यूज़ पर दिन भर की बड़ी खबरें