जांच के दौरान सीबीआई पर दबाव होता है: मिश्रा

जांच के दौरान सीबीआई पर दबाव होता है: मिश्रा

By: | Updated: 14 Dec 2012 02:41 AM


नई दिल्‍ली: सीबीआई के
पूर्व प्रमुख यूएस मिश्रा ने
दावा किया है कि बीएसपी
अध्यक्ष मायावती के खिलाफ आय
से ज्यादा संपत्ति के केस की
जांच करते समय उन्हें दबाव का
सामना करना पड़ा था.
 
मिश्रा
ने ये दावा न्यूज़ चैनल
एनडीटीवी से बातचीत के दौरान
किया.

सीबीआई के पूर्व
निदेशक यूएस मिश्रा ने
न्यूज़ चैनल एनडीटीवी से
बातचीत में कहा, 'ये सच है और
मैं इसे छिपाऊंगा नहीं कि जब
हम बड़े राजनेताओं के खिलाफ
जांच करते हैं, तो प्रोग्रेस
रिपोर्ट को लटकाए रखने या उसे
किसी खास तरीके से पेश करने
के लिए प्रभावित करने की
कोशिश होती है.'

यूएस
मिश्रा 2003 से 2005 तक सीबीआई के
डायरेक्टर थे. इस दौरान
उन्होंने एनडीए और यूपीए
दोनों सरकारों के साथ काम
किया.

22 मई 2004 को
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह
की अगुवाई में यूपीए की सरकार
बनी, जबकि उससे पहले मार्च 1998
से मई 2004 तक देश में अटल बिहारी
वाजपेयी के नेतृत्व में
एनडीए का शासन था.





राजनेताओं के खिलाफ जांच के
दौरान दबाव डाले जाने के
सीबीआई के पूर्व निदेशक यूएस
मिश्रा के आरोपों का सरकार ने
जवाब दिया है.

केंद्रीय
कानून मंत्री अश्विनी कुमार
ने साफ कहा कि उनकी सरकार
सीबीआई पर कोई दबाव नहीं
डालती.

संसदीय कार्य
राज्य मंत्री राजीव शुक्ल ने
कहा कि यूएस मिश्रा के आरोपों
को ज्यादा महत्व नहीं देना
चाहिए.




वहीं, समाजवादी पार्टी के
वरिष्ठ नेता मोहन सिंह ने
पूर्व सीबीआई डायरेक्टर
यूएस मिश्रा के आरोप को सही
ठहराया है. मोहन सिंह ने कहा
कि सीबीआई पर सरकार के दबाव
की बात तो कांग्रेस महासचिव
राहुल गांधी भी स्वीकार चुके
हैं.





http://www.youtube.com/watch?v=NNwbvmOxqU0




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story एसआईटी ने तीन घंटे तक की पूछताछ, आजम खान ने यूपी सरकार को कहा 'शुक्रिया'