जेट-एतिहाद सौदे को निवेश बोर्ड की मंजूरी मिली

जेट-एतिहाद सौदे को निवेश बोर्ड की मंजूरी मिली

By: | Updated: 29 Jul 2013 11:10 AM


नई
दिल्ली:
विदेशी निवेश
संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) ने
सोमवार को जेट एयरवेज में
अबूधाबी की विमानन कंपनी
एतिहाद एयरवेज को 24 फीसदी
हिस्सेदारी बिक्री के
प्रस्ताव को कुछ शर्तो के साथ
मंजूरी दे दी.




इस प्रस्ताव पर मंत्रिमंडल
को फैसला लेना है. एफआईपीबी
की यहां हुई बैठक के बाद
आर्थिक मामलों के सचिव
अरविंद मायाराम ने
संवाददाताओं से कहा, "हमने
कुछ शर्तो के साथ मंजूरी दे
दी है."

फैसले की पुष्टि
नागरिक उड्डयन मंत्री अजित
सिंह ने भी की और उन्होंने
कहा कि नागरिक उड्डयन
मंत्रालय की सभी चिंताओं का
समाधान कर लिया गया है.

सिंह
ने अपने आवास पर संवाददाताओं
से कहा, "जहां तक मैं जानता
हूं, सौदे की भाषा में मामूली
बदलाव करते हुए एफआईपीबी ने
मंजूरी दे दी है. जैसे कि
कानूनी प्रक्रिया में
अंग्रेजी कानून की जगह
भारतीय कानून का उपयाग किया
जाएगा."

उन्होंने कहा,
"नागरिक उड्डयन मंत्रालय
द्वारा उठाए गए सभी मुद्दे
सुलझा लिए गए हैं. अब यह
प्रस्ताव आर्थिक मामले की
मंत्रिमंडलीय समिति के पास
जा सकता है. लेकिन यह तभी होगा,
जब वित्त मंत्रालय द्वारा
कैबिनेट नोट जारी किया
जाएगा."

जेट एयरवेज ने कहा
कि उसे संबंधित नियामक से अभी
भी मंजूरी का इंतजार है और वह
ताजा घटनाक्रम के बारे कुछ
नहीं बोलेगी.

जेट एयरवेज
के एक प्रवक्ता ने कहा, "चूंकि
जेट एयरवेज और एतिहाद एयरवेज
गठबंधन पर संबंधित नियामक
विचार कर रहा है और उनके
फैसले का इंतजार है, इसलिए
अभी जेट एयरवेज के लिए इस
विषय में कुछ भी बोलना वाजिब
नहीं होगा."

जेट एयरवेज
द्वारा वित्त और नागरिक
उड्डयन मंत्रालय को संशोधित
शेयरधारिता समझौता पेश किए
जाने के बाद एफआईपीबी ने
शर्तो के साथ इसे मंजूरी दी
है.

जानकार सूत्रों के
मुताबिक एफआईपीबी, शेयर
बाजार नियामक भारतीय
प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड
(सेबी) और भारतीय
प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई)
ने हिस्सेदारी बिक्री के बाद
कंपनी के नियंत्रण और
प्रबंधन पर सवाल उठाया था.
इसके बाद संशोधित प्रस्ताव
जमा किया गया था.

अजित
सिंह ने कहा, "सेबी ने सौदे को
मंजूरी दे दी है. हमारी
(नागरिक उड्डयन मंत्रालय की)
चिंता दूर कर दी गई है. कंपनी
मामलों का मंत्रालय भी इस
सौदे पर विचार कर रहा था. हमने
सभी उचित प्रक्रिया अपनाए."

उन्होंने
कहा, "यह सौदा यात्रियों और
नागरिक उड्डयन क्षेत्र के
लिए अच्छा है. हम अपने
आधारभूत संरचना क्षेत्र में
काफी विदेशी निवेश चाहते हैं.
इस सौदे से भारतीय विकास में
निवेशकों का भरोसा बढ़ेगा."

कथित
तौर पर एतिहाद बोर्ड में अपने
चार निदेशकों की जगह दो
निदेशक रखने के लिए तैयार हो
गया है.

वित्त और नागरिक
उड्डयन मंत्रालय के
अतिरिक्त एफआईपीबी, सेबी और
औद्योगिक नीति एवं संवर्धन
विभाग (डीआईपीपी) नए समझौता
प्रस्ताव का अध्ययन कर रहे
थे.

इससे पहले 14 जून को
एफआईपीबी ने इस सौदे पर फैसले
को उसके द्वारा उठाए गए
सवालों के समाधान हो जाने तक
के लिए टाल दिया था.

हिस्सेदारी
बिक्री के इस प्रस्ताव में
जेट एयरवेज को करीब 2,058 करोड़
रुपये हासिल हो सकते हैं,
जिसका उपयोग कंपनी के कर्जो
को उतारने और यात्रियों को
बेहतर सुविधा देने में किया
जा सकता है.

बंबई स्टॉक
एक्सचेंज में कंपनी के शेयर
4.22 फीसदी तेजी के साथ 412.20 रुपये
पर बंद हुए. शुक्रवार को
कंपनी के शेयर 17.43 फीसदी तेजी
के साथ 395.50 रुपये पर बंद हुए थे.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story जम्मू कश्मीर में आतंकी हमला, दो पुलिसकर्मी शहीद