जोधपुर कोर्ट में जज के पहले ही सवाल से सलमान असहज हुए

By: | Last Updated: Thursday, 30 January 2014 11:53 AM
जोधपुर कोर्ट में जज के पहले ही सवाल से सलमान असहज हुए

जोधपुर: बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान  भले ही हर दिल अजीज हों, लेकिन कानून के सामने वो बस एक आरोपी हैं. बुधवार को सलमान जोधपुर अदालत में काले हिरण के अवैध शिकार मामले में पूरी तैयारी के साथ पेश हुए, लेकिन चीफ जुडीशियल मैजिस्ट्रेट के पहले सवाल ने ही उन्हें असहज कर दिया.

 

पुकार के बाद अदालत में पेश होते ही जज ने आरोपी को देख सवाल किया, ‘क्या यही सलमान खान हैं? इनका पहचान पत्र जांचकर सुनिश्चित करो.’ इसके बाद सरकारी वकील ने सलमान खान का पहचान पत्र चेक किया और अदालत को बताया कि जनाब आरोपी सलमान खान यही है.

 

सलमान खान काले हिरण के अवैध शिकार के मामले में अपना बयान दर्ज कराने के लिए जोधपुर अदालत में हाजिर हुए थे. सलमान पर आरोप है कि अक्टूबर 1998 को फिल्म हम साथ-साथ हैं की शूटिंग के दौरान उन्होंने जोधपुर के नजदीक कनकानी गांव में एक काले हिरण का अवैध शिकार किया था. दूसरा आरोप अवैध हथियार का है, जिसके मुताबिक सलमान ने जिस राइफल से गोली चलाई थी, वो अवैध थी, क्योंकि उसकी लाइसेंस की अवधि पहले ही खत्म हो चुकी थी.

 

पेशी के दौरान सलमान ने अवैध हथियार रखने के मामले में कहा कि वे निर्दोष हैं और उन्हें फंसाया गया है. हथियारों की लाइसेंस अवधि समाप्त हो जाने के बाद उन्होंने जोधपुर में हथियारों को अपने पास नहीं रखा, बल्कि वन विभाग के कहने पर हथियार मुंबई से मंगवा कर पुलिस के समक्ष पेश किए थे. सलमान ने अदालत से कहा कि वे सफाई के लिए साक्ष्य पेश करना चाहते हैं. इस पर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (जिला) चंद्रकला जैन ने सलमान से कहा कि वे 10 मार्च को अपने बचाव के लिए गवाह पेश कर सकते हैं.

 

अवैध हथियारों के मामले में बुधवार को ‘मुल्जिम बयान’ होने से पहले ही बॉलीवुड स्टार सलमान खान की ओर से अधिवक्ता हस्तीमल सारस्वत व श्रीकांत शिवदे ने एक आवेदन अदालत में पेश कर कहा कि सलमान पर पहला आरोप अवैध रूप से हथियार रखने का और दूसरा आरोप इन हथियारों का काले हिरणों के शिकार में इस्तेमाल करने का है. उनका कहना था कि काले हिरणों के शिकार का अभी तक विचाराधीन है.  इसमें गवाहों के बयान होने हैं. इस मामले में अदालत को यह तय करना है कि सलमान ने काले हिरणों का शिकार किया या नहीं.

 

उनका यह भी कहना था कि अवैध हथियारों के मामले में, जिसमें सलमान के बयान होने हैं, अदालत को यह तय करना है कि सलमान ने उन अवैध हथियारों का इस्तेमाल काले हिरणों के शिकार में किया या नहीं. मुल्जिम बयान के दौरान सलमान को इन सवालों का जवाब देना होगा. मुल्जिम बयान देते समय सलमान का ‘डिफेंस डिसक्लोज’ हो जाएगा. इससे काले हिरणों के शिकार का मामला भी प्रभावित होगा.

 

अवैध हथियारों के मामले में फैसले के दौरान अदालत यदि इस नतीजे पर पहुंचती है कि सलमान ने एक व दो अक्टूबर, 1998 की मध्य रात्रि में कांकाणी की सरहद पर दो काले हिरणों के शिकार में इन हथियारों का उपयोग किया तो ऐसी स्थिति में काले हिरणों के शिकार का मामला बिना ट्रायल के ही साबित हो जाएगा. दूसरी ओर, अवैध हथियारों के मामले में अदालत यदि इस नतीजे पर पहुंचती है कि इन हथियारों का इस्तेमाल शिकार में नहीं हुआ, तब भी मामला अभियोजन के खिलाफ जाएगा. उनका कहना था कि मुल्जिम बयान फिलहाल स्थगित किए जाएं एवं काले हिरणों के शिकार के मामले को आगे बढ़ाया जाए और आखिर में दोनों मामलों का फैसला एक साथ हो.

 

इसका जवाब देते हुए लोक अभियोजक उपेंद्र शर्मा का कहना था कि दंड प्रक्रिया संहिता के तहत एक ही संव्यवहार वाले तीन मामलों में एक साथ चार्ज लगाया जा सकता है और उनकी ट्रायल भी एक साथ हो सकती है, लेकिन अवैध हथियारों के मामले में कई साल पहले ही आरोप तय किए जा चुके थे एवं अभियोजन पक्ष ने साक्ष्य बंद कर दिया था. आज यह मामला मुल्जिम बयान के लिए रखा गया है, यानी ट्रायल लगभग पूरी हो चुकी है, जबकि काले हिरणों के शिकार का मामला अभी प्रारंभिक स्तर पर है. उसमें 52 गवाहों में से मात्र 5 गवाहों के ही बयान हुए हैं और ट्रायल में काफी समय लगेगा. यदि अवैध हथियारों के मामले में कार्यवाही रोकी जाती है, तो इसके फैसले में काफी विलंब हो सकता है. इसलिए सलमान के मुल्जिम बयान आज ही कलमबद्ध कर कार्यवाही को आगे बढ़ाया जाए.

 

न्यायाधीश जैन ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद सलमान के आवेदन को खारिज कर उनके मुल्जिम बयान कलमबद्ध किए. बहस करीब सात घंटे तक चली.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: जोधपुर कोर्ट में जज के पहले ही सवाल से सलमान असहज हुए
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017