जो जेपी को छोड़ सकता है वह BJP को क्यों नहीं छोड़ सकता: मोदी

By: | Last Updated: Sunday, 27 October 2013 2:21 AM

<p style=”text-align: justify;”>
<b><b></b>पटना: </b>गुजरात के
मुख्यमंत्री और बीजेपी के
प्रधानमंत्री पद के
उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने
रविवार को पटना के गांधी
मैदान में हुंकार रैली में
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश
कुमार पर जमकर निशाना साधा.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
हालांकि, दुखद बात यह रही कि
मोदी की हुंकार रैली से पहले
पटना के विभिन्न स्थानों पर
सात धमाके हुए जिनमें पांच
लोगों की मौत हो गई, जबकि 70 से
ज्यादा लोग जख्मी हो गए. पांच
धमाके रैली स्थल गांधी मैदान
में रैली से महज़ कुछ घंटे
पहले हुए…उस वक़्त भी गांधी
मैदान में हज़ारों लोग पहुंच
चुके थे.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मोदी ने अपनी रैली में धमाकों
पर तो कुछ नहीं बोला, लेकिन
शांति बनाए रखने की जरूर अपील
की. उनका सारा ज़ोर नीतीश को
निशाना बनाने और बिहार की
जनता को आकर्षित करने पर रहा.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
जेडीयू द्वारा बीजेपी
नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन
से अलग होने का के बारे में
मोदी ने कहा कि जिन्होंने
जेपी को छोड़ दिया वह बीजेपी
को क्यों नहीं छोड़ देंगे.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मोदी ने लालू प्रसाद के बहाने
बिहार और उत्तर प्रदेश के
यादवों को लुभाने की कोशिश
की. मोदी ने कहा कि जब लालू का
एक्सीडेंट हुआ था तो
उन्होंने लालू को फोन कर
हालचाल लिया. उसके बाद लालू
ने मीडियाकर्मियों से कहा कि
जिस व्यक्ति को मैं गाली देता
हूं उसने मेरा हालचाल लिया.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
हुंकार रैली में मोदी का
प्रमुख निशाना नीतीश कुमार
रहे. उन्होंने कहा कि
विधानसभा चुनाव में वह बिहार
में प्रचार करने इसलिए नहीं
आए क्योंकि उनका उद्देश्य
बिहार को जंगलराज से मुक्त
कराना था. इसलिए उन्होंने
अपमान सहन किया.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मोदी ने कहा कि नीतीश को
कांग्रेस के साथ जुड़कर
प्रधानमंत्री बनने के सपने आ
रहे हैं. इसलिए उन्होंने
बीजेपी के साथ विश्वासघात
किया, लेकिन यह विश्वासघात
बिहार की कोटि-कोटि जनता के
साथ विश्वासघात हुआ है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मोदी ने कहा कि लोकतंत्र के
चार दुश्मन हैं. ये
परिवारवाद, जातिवाद,
संप्रदायवाद और अवसरवाद हैं.
बिहार में ये चारों चीजें
उभरकर सामने आई हैं.मोदी ने
कहा कि उनको गरीबी का और
रेलवे की समस्याओं का पूरा
पता है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
रेल के डिब्बे में चाय बेचने
वाले को रेलवे की समस्याओं का
जितना पता होता है उतना रेल
मंत्री को भी पता नहीं होता.
मोदी ने कहा कि जितना कीचड़
उछाला जाएगा कमल उतना ही
खिलेगा.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<b>तुम वंशवाद छोड़ दो, मैं
शहजादा कहना छोड़ दूंगा :
मोदी</b>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मोदी ने कांग्रेस पर फिर हमला
बोला. उन्होंने कहा”वे वंशवाद
छोड़ दें मैं शहजादा कहना
छोड़ दूंगा.”
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
ग़ौरतलब है कि मोदी कांग्रेस
उपाध्यक्ष राहुल गांधी को
शहजादा कहकर संबोधित करते
हैं. कांग्रेस ने मोदी की इस
भाषा पर सख्त आपत्ति जताई है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मोदी ने कांग्रेस की इस
आपत्ति के जिक्र करते हुए कहा
कि राहुल गांधी को शहजादा
कहने पर कांग्रेस वाले नाराज
हैं. उन्होंने कहा कि अगर
आपको शहजादा कहने पर बुरा
लगता है तो देश को वंशवाद का
बढ़ावा बुरा लगता है.
उन्होंने कहा, “आप वंशवाद
छोड़ दें मैं शहजादा कहना
छोड़ दूंगा.”
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
दिलचस्प बात यह है कि मोदी ने
अपने भाषण की शुरुआत भोजपुरी
और मैथिली से की. उन्होंने
बिहार की राजनीति को
प्रेरणादायक बताते हुए कहा
कि बिहार में ज्ञान की जगह
नालंदा और तक्षशिला हैं तो
रामायण की सीता की भी यह धरती
है. महाभारत का कर्ण यहां है
तो चंद्रगुप्त मौर्य का
प्रेरणादायक राज यहीं था.
वैशाली गणतंत्र का सिरमौर
रहा तो अशोक जैसा सम्राट भी
इसी धरती पर हुआ.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
मोदी ने कहा कि बिहार से
परिवर्तन के बिना देश में
परिवर्तन नहीं होगा. जब भी
देश को जरूरत हुई है बिहार ने
उसे पूरा किया है. देश को जब
बुद्घ की जरूरत थी तब बुद्घ
दिया, जब महावीर की जरूरत थी
तब महावीर दिया और जब
लोकतंत्र समाप्त होने के
कगार पर था तब जयप्रकाश
नारायण दिया. <br />
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
<b>मोदी ने ट्विटर पर लिखा कि</b>
</p>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
Blasts in Patna are deeply saddening &amp; unfortunate. Condolences with
families of deceased &amp; prayers with injured. I appeal for peace &amp;
calm.
</p>
<blockquote class=”twitter-tweet”>
<p xmlns=”http://www.w3.org/1999/xhtml”>
— Narendra Modi (@narendramodi) <a
href=”https://twitter.com/narendramodi/statuses/394395987600343040″>October
27, 2013</a><br />
</p>
</blockquote>
<p style=”text-align: justify;”>
<br />
</p>
<h2>
<b>मोदी के भाषण के प्रमुख अंश-</b>
</h2>
<p style=”text-align: justify;”>
मोदी ने की बिहार की तारीफ<br /><br />बिहार
के लोग अवसरवादी नहीं: मोदी<br /><br />बिहार
की धरती ने पैदा किए
महापुरूष: मोदी<br /><br />मोदी ने
साधा नीतीश कुमार पर निशाना<br /><br />2006-2007
में नीतीश आए थे गुजरात: मोदी<br /><br />हमने
मेहमाननवाजी में कसर नहीं
छोड़ी थी: मोदी<br /><br />लालू मुझे
गाली देने का मौका कभी नहीं
छोड़ते थे: मोदी<br /><br />लालू जी
का एक्सीडेंट हुआ तो मैंने
फोन किया: मोदी<br /><br />मोदी ने की
लालू की तारीफ<br /><br />यदुवंश के
साथ तो हमारा नाता है: मोदी<br /><br />हिप्पोक्रेसी
की भी सीमा होती है: मोदी<br /><br />मुझे
बुलाना चाहते थे बिहार
बीजेपी के नेता: मोदी<br /><br />हमारे
मित्र को चेले चपाटों ने कहा
कि PM बनने का मौका है: मोदी<br /><br />बिहार
के जनता के साथ हुआ है
विश्वासघात: मोदी<br /><br />बिहार
मे मंत्री ने उड़ाया शहीदों
का मजाक: मोदी<br /><br />कांग्रेस ने
जनता से वादा खिलाफी की: मोदी<br /><br />जितना
कीचड़ उछलेगा, कमल उतना ही
खिलेगा: मोदी<br />
</p>

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: जो जेपी को छोड़ सकता है वह BJP को क्यों नहीं छोड़ सकता: मोदी
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017