टाट्रा की खरीद को लेकर सीबीआई की छापेमारी

टाट्रा की खरीद को लेकर सीबीआई की छापेमारी

By: | Updated: 18 Apr 2012 02:58 AM


नई
दिल्ली:
टाट्रा ट्रकों की
सरकारी खरीद में
अनियमितताओं की शिकायतों के
बाद सीबीआई ने बुधवार को
दिल्ली और नोएडा में दो पूर्व
सैन्य अधिकारियों के आवासों
की तलाशी ली.

सीबीआई
सूत्रों के मुताबिक ब्रिटेन
के वेक्ट्रा समूह के एक
अधिकारी के घर की भी तलाशी की
गई है. वेक्ट्रा समूह रक्षा
सार्वजनिक क्षेत्र के
उपक्रम भारत अर्थ मूवर्स
लिमिटेड (बीईएमएल) के जरिए
भारतीय सेना को टाट्रा
ट्रकों की आपूर्ति करता है.

वैसे
सूत्रों ने पूर्व सैन्य
अधिकारियों और वेक्ट्रा
अधिकारी के नाम बताने से
इंकार कर दिया. सूत्रों का
कहना था कि नाम उजागर करने से
जांच प्रभावित हो सकती है.

सीबीआई
ने एक दिन पहले ही तीन लोगों
से इस मामले में पूछताछ की थी.
इनमें बीईएमएल के निदेशक वी.
मोहन, कंपनी के वर्तमान
प्रमुख वी.आर.एस. नटराजन और
वेक्ट्रा समूह के प्रमुख
रविंदर ऋषि शामिल थे. तीनों
से टाट्रा ट्रक की आपूर्ति
में कथित खामियों को लेकर
पूछताछ की गई.

सेना प्रमुख
जनरल वी.के. सिंह ने कथित
घोटाले से पर्दा उठने के बाद
मार्च में आरोप लगाया था कि
उन्हें घटिया टाट्रा ट्रक की
आपूर्ति के लिए सौदे को
मंजूरी देने के लिए 14 करोड़
रुपये की रिश्वत की पेशकश की
गई थी.

सेना ने पांच मार्च
को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी
की थी, जिसमें टाट्रा और
बीईएमएल का नाम लिया गया था।
इसमें आरोप लगाया गया था कि
टाट्रा व वेक्ट्रा की ओर से
लेफ्टिनेंट जनरल
(सेवानिवृत्त) तेजिंदर सिंह
को कथिततौर पर रिश्वत की
पेशकश की गई थी.

सीबीआई इस
बात की जांच कर रही है कि
बीईएमएल ने 1997 से टाट्रा
ट्रकों में लगने वाले
कलपुर्जों की खरीद एक निजी
कम्पनी टेट्रा सिपॉक्स
(ब्रिटेन) से क्यों शुरू की,
जबकि 1986 से ही ये उपकरण
ओम्नीपोल (चेक गणराज्य में
राज्य स्वामित्व वाली इकाई)
से खरीदे जाते रहे हैं.

सूत्रों
ने कहा कि सीबीआई यह पता
लगाने की कोशिश कर रही है कि
बीईएमएल अधिकारियों ने 14 जून,
1997 को बेंगलुरू में टाट्रा
सिपॉक्स (ब्रिटेन) के साथ
जल्दबाजी में खरीद समझौता
क्यों किया. इसके तीन दिन बाद
वे स्लोवाकिया में टाट्रा
सिपॉक्स और उसकी सहयोगी
कम्पनियों के अधिकारियों से
मिले थे.

एक अन्य कम्पनी
वीनस प्रोजेक्ट्स लिमिटेड
भी सीबीआई की जांच के घेरे
में है. इस कंपनी में कथिततौर
पर ऋषि की कुछ हिस्सेदारी है.
ऋषि ने टाट्रा ट्रक्स के लिए
स्पेयर पार्ट्स खरीदने के
लिए कथिततौर पर इस कंपनी का
इस्तेमाल किया था.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story गोलीबारी में शहीद लांस नायक को सेना ने अंतिम विदाई दी