तीन और मंत्रियों के काले चिट्ठे खोले जाएंगे आज!

तीन और मंत्रियों के काले चिट्ठे खोले जाएंगे आज!

By: | Updated: 25 Jul 2012 11:01 PM


नई दिल्ली: जंतर मंतर पर
सरकार के खिलाफ टीम अन्ना के
अनशन का आज दूसरा दिन है. पहला
दिन बेहद हंगामाखेज रहा.
बुधवार को 14 मंत्रियों
जिसमें खासकर प्रधानमंत्री
पर टीम अन्ना ने निशाना साधा,
वहीं आज तीन और केंद्रीय
मंत्रियों के खिलाफ खुलासे
का टीम अन्ना दावा कर रही है.




जंतर-मंतर पर अन्ना और उनके
सहयोगियों ने एक बार फिर
केंद्र सरकार के खिलाफ
मोर्चा खोल रखा है. इनके
निशाने पर हैं प्रधानमंत्री
समेत देश के 14 मंत्री.




टीम अन्ना ने इनके खिलाफ
भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप
लगाए हैं और जल्द से जल्द
जांच और फटाफट फैसले की मांग
कर रही है.




यही नहीं टीम अन्ना का दावा
है कि उनके पास तीन और
केंद्रीय मंत्रियों के
खिलाफ सबूत हैं और आज अनशन के
दूसरे दिन इसका खुलासा हो
सकता है. हालांकि केंद्र
सरकार इन आरोपों से इनकार कर
रही है.




सूचना प्रसारण मंत्री
अंबिका सोनी का कहना है कि
सारे आरोप बेबुनियाद और
मनगढ़ंत हैं.




अनशन का पहला दिन




अनशन का पहला दिन बेहद
हंगामाखेज रहा. टीम अन्ना के
आरोपों पर भड़क उठे कुछ
नौजवान. नौजवानों का कहना था
कि टीम अन्ना बार बार देश की
जनता को बौखला रहे हैं.
करप्शन का नारा देकर क्या
केजरीवाल के बार बार बैठने से
देश में सुधार आएगा.




उनका कहना था कि लोकपाल आए
लेकिन इस ढंग से नहीं और टीम
अन्ना अपने आप को कानून से
ऊपर रखना चाहते हैं.




हंगामे के थोड़ी देर बाद ही
एनएसयूआई ने बयान जारी कर
सफाई दी कि जो हंगामा अन्ना
हजारे के अनशन स्थल पर हुआ
उसमें एनएसयूआई शामिल नहीं
है. कांग्रेस पार्टी ने भी
अपने युवा विंग का बचाव करते
हुए खुद टीम अन्ना को दोषी
ठहरा दिया.




अन्ना हजारे ने सरकार को 29
जुलाई तक की मोहलत दी है. इसके
बाद अन्ना खुद अनशन पर बैठ
जाएंगे. जाहिर है आने वाले
दिनों में देश की नजर टीम
अन्ना और केंद्र सरकार के हर
कदम पर रहेगी.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story यूपी में पूर्व मुख्यमंत्रियों को बंगला देने का मामला, SC ने सभी राज्यों से पक्ष रखने को कहा