देश के अगले सेना प्रमुख होंगे बिक्रम सिंह

देश के अगले सेना प्रमुख होंगे बिक्रम सिंह

By: | Updated: 04 Mar 2012 12:44 AM


नई दिल्ली: सरकार ने
शनिवार को पूर्वी सेना के
कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल
बिक्रम सिंह को अगला सेना
प्रमुख नियुक्त किया. सिंह
सेना प्रमुख जनरल वी.के. सिंह
का स्थान लेंगे.

सरकार ने
यह घोषणा पदस्थ जनरल वी.के.
सिंह की जन्मतिथि को लेकर
महीनों भर चले विवाद के बाद
की है.

बिक्रम सिंह (59) सेना
की अगुवाई करने वाले जनरल
जे.जे. सिंह के बाद दूसरे सिख
सेना प्रमुख होंगे.

सरकार
के एक बयान में कहा गया,
'लेफ्टिनेंट जनरल बिक्रम
सिंह को अगले सेना प्रमुख के
रूप में जनरल रैंक में नामित
किया गया है. उनका यह पदभार 31
मई, 2012 के अपराह्न् से प्रभावी
होगा.'

लेफ्टिनेंट जनरल
बिक्रम सिंह इस समय सेना के
पूर्वी कमान के प्रमुख हैं.
सिंह सेना के शीर्ष पद का
कार्यभार 31 मई को सम्भालेंगे.
जनरल वी.के. सिंह इसी दिन
रिटायर होंगे.

गौरतलब है
कि बिक्रम सिंह पर कश्मीर में
एक फर्जी मुठभेड़ में शामिल
होने का आरोप लगा है. इस आरोप
के मद्देनजर जटिल पुनरीक्षण
प्रक्रिया और उनके परिवार की
खुफिया जांच के बाद उन्हें
सेना प्रमुख के पद पर नियुक्त
किया गया है.

सूत्रों के
मुताबिक रक्षा मंत्रालय ने
खुफिया एजेंसियों से बिक्रम
सिंह की सबसे बड़ी बहू के
बारे में विस्तृत रिपोर्ट
मांगी थी. उन्हें कथित रूप से
पाकिस्तानी नागरिक बताया
जाता है. इससे सुरक्षा खतरों
की आशंका उठने लगी थी.

खुफिया
एजेंसियों ने सिंह की बहू के
पाकिस्तानी नागरिक होने की
बातों को खारिज कर दिया और
रक्षा मंत्रालय को बताया कि
सिंह की बहू वास्तव में
अमेरिकी नागरिक हैं. खुफिया
एजेंसियों ने बताया कि उनके
पिता अफगानी हैं और माता मध्य
एशिया के किसी देश की हैं.

गौरतलब
है कि लेफ्टिनेंट जनरल सिंह
पर मार्च 2011 में कश्मीर में एक
फर्जी मुठभेड़ में शामिल
होने का भी आरोप लगा था.
कश्मीर पुलिस ने हालांकि
बिक्रम सिंह को क्लीन चिट दे
दी, लेकिन यह मामला जम्मू और
कश्मीर उच्च न्यायालय में
अभी लम्बित है.

बिक्रम
सिंह सेना प्रमुख पद के लिए
चुने गए तीन वरिष्ठतम
अधिकारियों सेना उप प्रमुख
लेफ्टिनेंट जनरल श्री
कृष्णा और उत्तरी सेना के
कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल
के.टी. परनायक में शामिल हैं.
लेकिन वरिष्ठता के आधार पर
सिंह को सेना प्रमुख नामित
किया गया.

गौरतलब है कि
बिक्रम सिंह राष्ट्रीय
रक्षा अकादमी (एनडीए) और
भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए)
में अपना पाठ्यक्रम पूरा
करने के बाद साल 1972 में सिख
लाइट इनफैन्ट्री में बतौर
अधिकारी शामिल हुए. सिंह ने
पेनसिलवेनिया स्थित अमेरिकी
आर्मी वार कॉलेज में भी
प्रशिक्षण लिया है.




फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story जम्मू-हिमाचल सहित उत्तर भारत के कई हिस्सों में बर्फबारी के साथ हुई बारिश