देश के लिए छत्तीसगढ़ के पहले चरण की वोटिंग की क्या है अहमीयत?

By: | Last Updated: Sunday, 10 November 2013 9:19 PM

<p style=”text-align: justify;”>
<b>रायपुर: </b>देश के लिए इस
पहले चरण का चुनाव इसलिए भी
अहम है क्योंकि जहां वोटिंग
हो रही है वो इलाके नक्सल
प्रभावित हैं. इसी इलाके में
कुछ महीने पहले नक्सलियों ने
कांग्रेस के तीन दिग्गज
नेताओं को मार दिया था. इस
चुनाव में मुख्यमंत्री रमन
सिंह की साख भी दांव पर है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
पांच राज्यों में होने वाले
चुनाव की शुरुआत छत्तीसगढ़
से हो रही है जहां पहले चरण
में नक्सल प्रभावित आठ जिलों
की अठारह सीटों पर वोटिंग हो
रही है, जिनमें 12 सीटें पूरी
तरह से नक्सल प्रभावित इलाके
में हैं.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
राजनांदगांव, बस्तर,
नारायणपुर, कांकेर, सुकमा,
दंतेवाडा, बीजापुर और
कोंडागांव जिलों में
मुख्यमंत्री रमन सिंह समेत
तीन मंत्रियों के भविष्य का
फैसला होना है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
25 मई को सबसे बड़ा नक्सली हमला
बस्तर के जीरमघाटी में हुआ था
जिसमें कांग्रेस के वरिष्ठ
नेता विद्याचरण शुक्ल,
सलवाजुडुम के संस्थापक
महेंद्र करमा और राज्य इकाई
के अध्यक्ष नंदकिशोर पटेल
जैसे दिग्गज नेता मारे गए थे.
कांग्रेस ने इसे बड़ा
भावनात्मक मुद्दा बनाया है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
इस चुनाव में महेंद्र करमा की
पत्नी देवती करमा भी चुनाव
लड़ रही है. नक्सल हत्याकांड
में मारे गए गए उदय मुदलियार
की पत्नी अलका मुदलियार रमन
सिंह के खिलाफ मैदान में हैं.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<b>वोट नहीं देने की धमकी  </b>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
इस बार भी नक्सलियों ने वोट
नहीं देने की धमकी दी है. कुछ
जगहों पर नक्सली नोटा यानी
किसी को वोट नहीं देने का बटन
दबाने के लिए कह रहे हैं.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
कांग्रेस जहां चुनाव से ठीक
पहले गुटबाज़ी खत्म करने में
कामयाब रही है वहीँ बीजेपी
में टिकट बंटवारे को लेकर
असंतोष बीजेपी के पक्ष में
बने माहौल को खराब कर रहा है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
जानकार कहते हैं कि
छत्तीसगढ़ की नक्सल बेल्ट
में विकास सबसे बड़ा मुद्दा
है.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
साल 2000 में अस्तित्व में आने
के बाद छत्तीसगढ़ में अब तक
कांग्रेस की सरकार एक बार ही
रही है. पिछले दो विधानसभा
चुनाव में जीत बीजेपी को
मिली.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
पिछले चुनाव में बीजेपी को 50
सीटें, कांग्रेस को 38 जबकि
बीएसपी को 2 सीटें मिली थीं
जबकि जिन 18 सीटों पर पहले चरण
में वोटिंग हो रही हैं उनमें
से 15 पर पिछली बार बीजेपी की
जीत हुई थी जबकि तीन पर
कांग्रेस जीती थी.<br />
</p>

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: देश के लिए छत्तीसगढ़ के पहले चरण की वोटिंग की क्या है अहमीयत?
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017