देश में क्या अब मुस्लिम वोटबैंक की राजनीति खत्म हो गई?

देश में क्या अब मुस्लिम वोटबैंक की राजनीति खत्म हो गई?

By: | Updated: 18 May 2014 02:03 PM
नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के नतीजों से एक बात साफ हो गई है देश में मुस्लिम वोटबैंक की राजनीति पूरी तरह से खत्म हो गई है. शायद यही वजह है कि इस बार यूपी से एक भी मुस्लिम सांसद लोकसभा तक नहीं पहुंच सका.

 

16वीं लोकसभा के नतीजों में जहां बीजेपी की बंपर जीत हुई वहीं सबसे बड़ी बात उभर कर आई है उसके मुताबिक पिछड़ों और मुस्लिमों के नाम पर राजनीति करने वालों की वोटबैंक राजनीति पूरी तरह से मुंह के बल गिरी है.

 

मुस्लिमों की वोटबैंक की राजनीति करने वाली समाजवादी पार्टी को 22 फीसदी वोट मिलने के बाद भी महज 5 सीटें ही मिली हैं, और इनमें से सारी की सारी सीटें सिर्फ मुलायम के परिवार को मिली हैं. जाहिर है समाजवादी पार्टी का मुस्लिम कार्ड इस बार पूरी तरह फेल हो गया .

 

खुद समाजवादी पार्टी के नेता भी इस बात को मान रहे हैं कि मुसलमानों ने इस बार धर्म जाति से ऊपर उठकर वोट किया.

 

हालांकि यूपी की ही कई सीटों पर वोटों के ऐसे समीकरण बने कि मुस्लिम वोट तमाम पार्टियों में बिखर कर रह गए और इसका सीधा फायदा बीजेपी को मिला.

 

आजम खान के दबदबे वाली रामपुर सीट की ही बात करें तो यहां मुस्लिमों की आबादी 50 फीसदी के करीब है. कांग्रेस, एसपी और बीएसपी तीनों ने ही यहां से मुस्लिम उम्मीदवार उतारे. जिससे यहां वोट बैंक की राजनीति का दांव उल्टा पड़ गया. तीनों पार्टियों के बीच बंटे वोटों से इस मुश्किल सीट पर भी बीजेपी को अपना कमल खिलाने में ज्यादा मुश्किल नहीं हुई.

 

यही हालत पश्चिमी यूपी की निर्णायक मुस्लिम मतदाताओं वाली सीटों मुरादाबाद, अमरोहा, नगीना, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बिजनौर और मेरठ की सीटों पर भी रही.

 

यूपी की कुल मिलाकर 80 में से 54 सीटें ऐसी हैं जिन पर मुस्लिम मतदाता निर्णायक भूमिका अदा करते हैं. लेकिन इस बार यूपी से एक भी मुस्लिम सांसद जीतकर संसद तक नहीं पहुंच सका. जबकि पिछले साल यूपी से पूरे 7 मुस्लिम सांसद जीतकर आए थे .

 

जाहिर है ये बदलाव संकेत इस बात के हैं कि देश में वोट बैंक की राजनीति के दिन खत्म हो चुके हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story बरेली: शादी वाले दिन ही ट्रेन से कट कर दूल्हे की मौत, परिवार में कोहराम