दोषी हो तो सजा दें : भटकल के पिता

By: | Last Updated: Thursday, 29 August 2013 9:04 PM
दोषी हो तो सजा दें : भटकल के पिता

बेंगलुरू:
देश की खुफिया एजेंसियों और
बिहार पुलिस के संयुक्त
अभियान में बुधवार की रात
नेपाल की सीमा से गिरफ्तार
कुख्यात आतंकवादी एवं
इंडियन मुजाहिदीन (आईएम) के
सह-संस्थापक यासीन भटकल के
पिता जरार सिद्दिबापा ने
गुरुवार को कहा कि अपने बेटे
के जीवित होने की खबर सुनकर
उन्हें राहत मिली.

कर्नाटक के पश्चिमी तटवर्ती
इलाके में एक छोटे से गांव
भटकल से यासीन के पिता ने
आईएएनएस से कहा, “मीडिया
द्वारा यह जानकर हमें बहुत
राहत मिली कि हमारा बेटा
जीवित है और पुलिस हिरासत में
है, क्योंकि हमें डर था कि
कहीं उसे बहुत पहले फर्जी
एनकाउंटर में न मार दिया गया
हो.”

सिद्दिबापा ने देश की न्याय
व्यवस्था में पूरी आस्था
व्यक्त की और कहा कि न्याय
प्रक्रिया के तहत यदि उसके
सबसे बड़े बेटे अहमद को दोषी
पाया जाए तो उसे सजा मिलनी
चाहिए.

सिद्दिबापा ने कहा, “उसे तब तक
निर्दोष माना जाना चाहिए, जब
तक कि उसका दोष साबित न हो जाए,
और इसका पूरी तरह से पालन
होना चाहिए.”

सिद्दिबापा ने स्पष्ट किया
कि उनके बेटे का नाम अहमद है
और मीडिया और पुलिस उसे यासीन
नाम से क्यों संदर्भित कर रही
है, हालांकि गिरफ्तार
आतंकवादी के असली नाम का भी
कोई सुबूत नहीं है.

सिद्दिबापा ने कहा, “हमें
पूरा विश्वास है कि अहमद
निर्दोष साबित हो जाएगा और
जल्द ही छूट जाएगा. हमें अपने
देश के न्यायालय और कानून पर
पूरा भरोसा है.”

http://www.youtube.com/watch?v=dS1YZVmmAi8

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: दोषी हो तो सजा दें : भटकल के पिता
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017