धूमधाम से हुई ‘नंदी राजा’ और ‘गंगा गौरी’ की शादी

धूमधाम से हुई ‘नंदी राजा’ और ‘गंगा गौरी’ की शादी

By: | Updated: 15 Apr 2014 03:59 AM

इन्दौर: शादी के निमंत्रण पत्र बांटे गये, मंडप सजा, बैंड.बाजे बजे, नाच.गाना हुआ, बारात निकली और मेहमानों ने लजीज खाने का लुत्फ भी उठाया. बस एक घोड़ी चढ़ने की रस्म अदा नहीं हो सकी, क्योंकि इस अनोखे विवाह में एक सांड को दूल्हा बनाया गया था.

 

चौंकिए मत, यहां से करीब 40 किलोमीटर दूर बनेड़िया गांव में ‘नंदी राजा’ :सांड: और ‘गंगा.गौरी’ :गाय: की शादी आज हिंदुओंे की वैदिक पद्धति से करायी गयी जिसके गवाह हजारों ग्रामीण बने.

 

इस अनोखे विवाह की आयोजन समिति के अध्यक्ष गोपाल पटवारी ने ‘भाषा’ को बताया, ‘पंडितों के वैदिक मंत्रोच्चार के बीच नंदी राजा और गंगा गौरी का विवाह पूरे विधि.विधान के साथ संपन्न हुई. ग्रामीणों की धार्मिक मान्यता है कि इस तरह के विवाह से इलाके में प्राकृतिक आपदा नहीं आती और सुख.शांति का वास होता है.’ पटवारी ने बताया कि इस अनोखी शादी के लिये ‘वर’ और ‘वधू’ को क्रमश: नागपुर और बनेड़िया गांव से गोद लिया गया था. विवाह से पहले वर ‘नंदी राजा’ अपने गांव नागपुर से 20 किलोमीटर दूर बारात लेकर वधु ‘गंगा गौरी’ के गांव बनेड़िया पहुंचे. दो दिन पहले से ही दोनों गांवों में विवाह पूर्व की रस्में शुरु हो गई थीं.

 

उन्होंने बताया कि बनेड़िया गांव की महिलाओं ने ‘गंगा गौरी’ को हल्दी लगायी. विवाह के लिये उसे सजाया गया और उसके पैरों व गले में पीतल के जेवर पहनाये गये. इसके बाद ‘वधू’ को बैंड.बाजे के साथ गांव भर में घुमाया गया.

 

पटवारी के मुताबिक विशाल शामियाने के तले हुई इस अनोखी शादी में आस.पास के गांवों के लोग भी शरीक हुए और करीब 15,000 मेहमानों को भोजन कराया गया. शादी में शामिल लोगों ने ‘नंदी राजा’ और ‘गंगा गौरी’ को उपहार के रूप में घास और चारा दिया.

 

उन्होंने बताया कि सांड और गाय के विवाह पर लगभग पांच लाख रुपया खर्च हुआ, जिसे ग्रामीणों ने मिलकर वहन किया.

 

पटवारी ने बताया कि इस विवाह के लिये करीब 2,500 निमंत्रण पत्र बांटे गये थे. इस शादी के साथ एक गरीब जोड़े का भी विवाह कराया गया.

 

उन्होंने बताया कि गांव में पिछले 60 साल के दौरान यह सांड और गाय की तीसरी शादी थी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story नसीमुद्दीन सिद्दीकी की 'घरवापसी' के बाद कांग्रेस में उठने लगे विरोध के स्वर